यूपीटीईटी की न‍िरस्‍त परीक्षा इस त‍िथ‍ि को होगी, बनाए गए इतने केन्‍द्र

UPTET Exam 2022 यूपी के तीन जिलों में पेपर लीक होने के चलते 28 नवंबर 2021 को आयोजित शिक्षक पात्रता परीक्षा शुरू होने के बाद ही स्थगित हो गई थी। 23 जनवरी को गोरखपुर के 121 केंद्रों पर होगा।

Pradeep SrivastavaPublish: Thu, 20 Jan 2022 07:05 AM (IST)Updated: Thu, 20 Jan 2022 11:08 AM (IST)
यूपीटीईटी की न‍िरस्‍त परीक्षा इस त‍िथ‍ि को होगी, बनाए गए इतने केन्‍द्र

गोरखपुर, जागरण संवाददाता। उत्तर प्रदेश शिक्षक पात्रता परीक्षा (यूपीटीईटी) का आयोजन 23 जनवरी को गोरखपुर के 121 केंद्रों पर होगा। दो पालियों में आयोजित होने वाली परीक्षा में 51,230 अभ्यर्थी शामिल होंगे। नकलविहीन परीक्षा के लिए हर केंद्र पर स्टैटिक मजिस्ट्रेट और उनके ऊपर सेक्टर मजिस्ट्रेट और पुलिस बल को तैनात किया जाएगा।

सुबह दस बजे से शुरू होगी परीक्षा

जिला विद्यालय निरीक्षक कार्यालय के मुताबिक सुबह की पाली की परीक्षा सुबह 10 से 12:30 बजे के बीच होगी, जिसमें प्राथमिक स्तर के अभ्यर्थी शामिल होंगे। इस परीक्षा के लिए 70 केंद्र बनाए गए हैं। यह 35,306 अभ्यर्थी परीक्षा देंगे। दूसरी पाली की परीक्षा ढाई बजे से पांच बजे तक होगी, इसमें उच्‍च प्राथमिक स्तर 25,924 अभ्यर्थी शामिल होंगे। इस परीक्षा के लिए 51 केंद्र बनाए गए हैं।

इस कारण स्‍थगित हुई थी परीक्षा

गौरतलब है कि इसके पहले प्रदेश के तीन जिलों में पेपर लीक होने के चलते 28 नवंबर 2021 को आयोजित शिक्षक पात्रता परीक्षा शुरू होने के बाद ही स्थगित हो गई थी। इसके बाद मुख्यमंत्री ने जांच का आदेश देने के साथ ही परीक्षा के जल्द आयोजन का आश्वासन दिया था। उसके बाद 23 जनवरी परीक्षा का तिथि निर्धारित की गई है।

होटल मैनेजमेंट की परीक्षा फरवरी के पहले सप्ताह में

दीनदयाल उपाध्याय गोरखपुर विश्वविद्यालय में पहली बार संचालित हो रहे होटल मैनेजमेंट एंड कैटर‍िंग कोर्स के कक्षा संचालन और परीक्षा के आयोजन की संभावनाओं पर चर्चा करने के लिए कुलपति प्रो. राजेश ङ्क्षसह ने मंगलवार को बैठक बुलाई। प्रशासनिक भवन में आयोजित बैठक में कक्षा संचालन की समीक्षा करने के बाद कुलपति ने बताया कि होटल मैनेजमेंट के कोर्स की 80 प्रतिशत पढ़ाई पूरी हो चुकी है। बाकी कक्षाओं का संचालन आनलाइन हो रहा है। फरवरी के पहले में सप्ताह में इस कोर्स की परीक्षा कराई जाएगी। इसकी तैयारी विश्वविद्यालय के परीक्षा विभाग ने शुरू कर दी है।

कुलपति ने बताया कि बैठक के दौरान समन्वयक और शिक्षकों के साथ कोर्स को गुणवत्तापरक बनाने पर भी मंथन हुआ। उन्होंने बताया कि विश्वविद्यालय के गेस्ट हाउस में कोर्स के लिए ही माड्यूलर किचेन तैयार किया जा रहा। अध्ययन को प्रयोग के धरातल पर उतारने के लिए शहर के नामचीन होटलों के अधिकारियों और कर्मचारियों को आमंत्रित किया गया है। प्रो. स‍िंह ने यह भी बताया कि विद्यार्थियों के इंटर्नशिप के लिए सिक्किम विश्वविद्यालय से समझौता किया गया है। बैठक के दौरान होटल मैनेजमेंट कोर्स को लेकर पर्यटन मंत्रालय से मिलने वाले ग्रांट पर भी व्यापक विचार विमर्श किया गया। तय हुआ कि विश्वविद्यालय की ओर से एक प्रस्ताव बनाकर मंत्रालय में भेजा जाएगा। होटल मैनेजमेंट पाठ्यक्रम के समन्वयक प्रो. राजेश कुमार स‍िंह ने अब तक हुए अध्ययन-अध्यापन कार्य का विस्तृत खाका कुलपति के समक्ष प्रस्तुत किया।

Edited By Pradeep Srivastava

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept