सात पंचायत सचिवों पर लटकी कार्रवाई की तलवार

कर्मियों ने अभी तक कोई अभिलेख प्रस्तुत नहीं किया।

JagranPublish: Sun, 23 Jan 2022 11:02 PM (IST)Updated: Sun, 23 Jan 2022 11:02 PM (IST)
सात पंचायत सचिवों पर लटकी कार्रवाई की तलवार

संतकबीर नगर: पंचायत चुनाव के दौरान जिले में राज्य वित्त व केंद्रीय वित्त आयोग से प्राप्त धनराशि के दुरुपयोग का मामला प्रकाश में आया है। प्रकरण की जानकारी होने पर जिला पंचायत राज अधिकारी (डीपीओरओ) ने सेमरियावां व बघौली ब्लाक के खंड विकास अधिकारी को पत्र भेजकर एक सप्ताह के अंदर अभिलेख प्रस्तुत करने का निर्देश दिया है। जल्द ही मामले में सात ग्राम पंचायत सचिवों पर बड़ी कार्रवाई हो सकती है।

वर्ष 2020-21 में पंचायत चुनाव हुआ था। इस चुनाव के दौरान विकास कार्यों को गति देने के लिए सहायक विकास अधिकारी पंचायत व ग्राम पंचायत अधिकारी को प्रशासक नियुक्त किया गया था। इन दोनों के संयुक्त हस्ताक्षर से धन की निकासी की जाती थी। इस दौरान बिना कार्य किए ही पंचायत भवन, गांव में सैनिटाइजेशन, संसाधन के रखरखाव, इंटरलाकिग समेत सामुदायिक शौचालय की देख-रेख समेत अनेक मद में धन की नियम विरुद्ध निकासी की गई थी। गोलमाल में सेमरियावां ब्लाक के ग्राम पंचायत अधिकारी अश्वनी सिंह, शिव मूर्ति मौर्य, खलीलाबाद ब्लाक के आनंद व योगेंद्र गौड़, सेमरियावां ब्लाक के शिवेंद्र कुमार, विमला यादव व असदुल्लाह ग्राम पंचायत अधिकारी भी शामिल हैं। डीपीआरओ राजेंद्र प्रसाद ने सेमरियावां व बघौली ब्लाक के खंड विकास अधिकारी को पत्र भेज कर कहा कि कई बार इन कर्मियों से निर्गत धनराशि का अभिलेख प्रस्तुत करने का निर्देश दिया गया था, लेकिन इन कर्मियों ने अभी तक कोई अभिलेख प्रस्तुत नहीं किया। पांच दिवस के भीतर अभिलेख नहीं प्रस्तुत किए जाने पर आरोपितों के खिलाफ विभागीय कार्रवाई की संस्तुति की जाएगी। विश्व कल्याण का संदेश लेकर पहुंचा तीर्थयात्री

संतकबीर नगर : विश्व कल्याण का संदेश लेकर नेपाल से नौमी दंडवत अमरनाथ के लिए निकला एक तीर्थ यात्री रविवार को जिला मुख्यालय पहुंचा। 14 नवंबर से संकल्प के साथ जमीन पर लेट कर पग-पग पार कर रहे शिव भक्त का कहना है कि भगवान शिव से प्राकृतिक विपदा से पृथ्वी की रक्षा के लिए प्रार्थना कर यात्रा कर रहा हूं। इस बार 14वीं यात्रा है।

पड़ोसी देश नेपाल के क्षीरेश्वरनाथ नगरपालिका वार्ड नंबर दो रामदैया भवाड़ी वार्ड, जनपद धनुषा जनकपुर धाम निवासी रामप्रीत यादव का कहना है कि गोरखपुर होते आ रहा हूं। जुलाई में अमरनाथ का दर्शन करके विश्व के कल्याण की कामना करूंगा। इससे पूर्व 2011 में पशुपति नाथ से काशी विश्वनाथ होते हुए चार माह में वह रुद्र महाप्रयाग उत्तराखंड पहुंचे थे। उनके साथ उनके पुत्र संतोष कुमार रहते थे। इस बार वह अकेले ही निकले हैं।

Edited By Jagran

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept