गोरखपुर में पीएम नरेन्द्र मोदी बोले- लाल टोपी वाले उत्तर प्रदेश के लिए खतरे की घंटी यानी रेड अलर्ट

पीएम मोदी ने सपा पर निशाना साधते हुए कहा लाल टोपी पहनने वालों को आतंकियों पर मेहरबानी दिखाने और आतंकियों को छुड़ाने के लिए उत्तर प्रदेश में सरकार बनानी है। लाल टोपी वाले यूपी के लिए रेड अलर्ट यानी खतरे की घंटी हैं। यह यूपी के लिए रेड अलर्ट हैं।

Dharmendra PandeyPublish: Tue, 07 Dec 2021 06:32 PM (IST)Updated: Wed, 08 Dec 2021 07:44 AM (IST)
गोरखपुर में पीएम नरेन्द्र मोदी बोले- लाल टोपी वाले उत्तर प्रदेश के लिए खतरे की घंटी यानी रेड अलर्ट

गोरखपुर, जेएनएन। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने बाबा गोरखनाथ की तपोभूमि गोरखपुर को मंगलवार को बड़े तोहफे देने के साथ ही उत्तर प्रदेश में प्रमुख विपक्षी दल समाजवादी पार्टी पर भी हमला बोला। उन्होंने साफ कहा कि लाल टोपी वाले उत्तर प्रदेश के लिए खतरे की घंटी हैं।

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि उत्तर प्रदेश में लाल टोपी वालों को सिर्फ लालबत्ती चाहिए। लाल टोपी वालों को जेल से आतंकवादियों को छुड़ाने के लिए और घोटालों और अपनी जेब भरने के लिए सरकार बनानी है। पीएम मोदी ने सपा पर निशाना साधते हुए कहा कि लाल टोपी पहनने वालों को आतंकियों पर मेहरबानी दिखाने और आतंकियों को छुड़ाने के लिए उत्तर प्रदेश में सरकार बनानी है। लाल टोपी वाले यूपी के लिए रेड अलर्ट यानी खतरे की घंटी हैं। यह लोग यूपी के लिए रेड अलर्ट हैं। लाल टोपी वालों को सिर्फ सत्ता और लाल बत्ती से मतलब है। प्रधानमंत्री ने कहा कि आज पूरा उत्तर प्रदेश भली-भांति जानता है कि लाल टोपी वालों के किसी के दुख-तकलीफों से लेना-देना नहीं। उन्हें अपनी तिजोरी तिजोरी भरने के लिए उत्तर प्रदेश की सत्ता चाहिए।

पीएम मोदी ने ने कहा कि पहले की सरकारों ने अपराधियों को संरक्षण देकर यूपी का नाम बदनाम कर दिया था। आज माफिया जेल में हैं और निवेशक दिल खोल कर यूपी में निवेश कर रहे हैं। यही डबल इंजन का डबल विकास है। इसी कारण डबल इंजन की सरकार पर उत्तर प्रदेश को विश्वास है।

डबल इंजन की सरकार होती है, तो तेजी से काम भी होता

प्रधानमंत्री ने कहा कि साथियों गोरखपुर में खाद कारखाना तथा एम्स का शुरू होना कई संदेश दे रहा है। जब भी डबल इंजन की सरकार होती है, तो तेजी से काम भी होता है। जब कहीं नेक नीयत से काम होता है, तो आपदाएं भी अवरोध नहीं बन पाती। जब गरीब , शोषित और वंचित की चिंता करने वाली सरकार होती है, तो परिणाम दिखता है। आज का यह यह कार्यक्रम इसका सबूत है कि नया भारत जब ठान लेता है, तो इसके लिए कुछ भी असंभव नहीं है।

हमने देश में यूरिया का गलत इस्तेमाल रोका

पीएम मोदी ने कहा कि हमने देश में यूरिया का गलत इस्तेमाल रोका। इसकी शत प्रतिशत नीम कोटिंग की। हमने यूरिया के उत्पादन को बढ़ाने का काम किया। देश में बंद पड़े कारखानों को खोलने के लिए ताकत लगाई। इसी के तहत चार बड़े खाद कारखाने हमने चुने है। आज एक की शुरुआत हो गई है, बाकी भी आने वाले अगले वर्षों में शुरू हो जाएंगे। उन्होंने कहा कि आज अंतरराष्ट्रीय बाजार में जहां यूरिया 60-65 रुपये किलो बिक रहा है, वहीं भारत में यूरिया को सस्ता बेचा जा रहा है। इसी तरह खाद्य तेल को खरीदने के लिए भारत करोड़ों रुपये विदेश भेजता है। कच्चे तेल पर भी भारत पांच से सात करोड़ रुपये खर्च करता है। इसे भी एथेनॉल और बायोफ्यूल पर बल देकर हम कम करने में जुटे हैं। उत्तर प्रदेश में बायोफ्यूल बनाने के लिए अनेक फैक्ट्रियों में काम चल रहा है।

गन्ना किसानों के लिए एमएसपी बढ़ाया

प्रधानमंत्री ने कहा कि गन्ना किसानों के लिए एमएसपी बढ़ाया गया है। जितना भुगतान पिछलेे दस वर्ष में हुआ, उतना भुगतान योगी आदित्यनाथ सरकार ने सिर्फ चार से पांच साल में कर दिया। उन्होंने कहा कि पूर्व प्रधानमंत्री स्वर्गीय अटल बिहारी जी ने 6 एम्स पारित किए। पिछलेे कुछ वर्ष से देशभर में 16 एम्स चलाने पर काम चल रहा है। हमारा लक्ष्य है कि हर जिले में कम से कम एक मेडिकल कॉलेज हो। मुझे खुशी है कि यहां तमाम जिलों मेंं मेडिकल कॉलेज बनने का काम चल रहा है। हाल ही में मैंने नौ मेडिकल कालेजों का लोकार्पण भी एक साथ किया था। इतना ही नहीं, उत्तर प्रदेश आज 17 करोड़ वैक्सीन की डोज पर पहुंच रहा है। हमारे लिए जनता का स्वास्थ्य सर्वोपरि है। 

Edited By Dharmendra Pandey

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept
ट्रेंडिंग न्यूज़

मौसम