जय हो मतदाता की,गांवों में होने लगी जयकार

विधान सभा चुनाव की डुगडुगी बज चुकी है। एक बार फिर शहर से लेकर गांवों में मतदाताओं की जय जयकार होने लगी है। पसंद का नेता और सरकार चुनने की बारी मतदाताओं की है। बस्ती जिले में विधान सभा की पांच सीटें हैं।

Navneet Prakash TripathiPublish: Mon, 17 Jan 2022 04:11 PM (IST)Updated: Mon, 17 Jan 2022 04:11 PM (IST)
जय हो मतदाता की,गांवों में होने लगी जयकार

गोरखपुर, एसके सिंह। विधान सभा चुनाव की डुगडुगी बज चुकी है। एक बार फिर शहर से लेकर गांवों में मतदाताओं की जय जयकार होने लगी है। पसंद का नेता और सरकार चुनने की बारी मतदाताओं की है। बस्ती जिले में विधान सभा की पांच सीटें हैं। यह है बस्ती सदर, महादेवा, हर्रैया, कप्तानगंज और रुधौली। यह पांचों सीटें भाजपा की झोली में है। इन सीटों पर जहां कब्जा बनाए रखने के लिए भाजपा ने पूरी ताकत झोंक दी है वहीं कांग्रेस, सपा और बसपा भी अपने अपने तरीके से मतदाताओं को रिझाने में लगे हुए हैं। इससे पहले वर्ष 2012 के विधान सभा की बात करें। तो उस समय यहां भाजपा के पास एक भी विधायक नहीं था। पांच में से दो सीट सपा, दो बसपा और एक सीट कांग्रेस के पास थी। वर्ष 2017 में मोदी लहर में सपा, बसपा और कांग्रेस का सूपड़ा साफ हो गया था।

दिग्गजों से खाली हो गई है बसपा की झोली

बस्ती में एक समय था बसपा की झोली में तमाम दिग्गज नेता थे। पूर्व मंत्री राम प्रसाद चौधरी,लालमणि प्रसाद, जितेंद्र चौधरी, राम ललित चौधरी, दूधराम के अलावा विपिन शुक्ल, गुलाब चंद सोनकर। वर्तमान में यह सभी बसपा से अलग होकर साइकिल पर सवार हो चुके हैं। सपा के कद्दावर नेता रहे पूर्व मंत्री राजकिशोर ङ्क्षसह भी दल बदल चुके हैं। वर्तमान में वो पूरे कुनबे के साथ बसपाई हो चुके हैं। वर्तमान में बसपा के यही सहारा बने हुए है। भाजपा की बात करें तो उसके पास चेहरों की भरमार है।

हर्रैया से तीन बार विधायक रहे राजकिशोर

पूर्व मंत्री राज किशोर ङ्क्षसह हर्रैया सीट से लगातार तीन बार विधायक रहे। यह सीट 1993 में भाजपा के खाते में गई थी। 96 में हुए चुनाव में यहां से भाजपा हार गई थी। और बसपा के सुखपाल पांडेय जीते थे। 2002 के चुनाव में बसपा के टिकट पर राजकिशोर ङ्क्षसह चुनाव लड़े और जीत गए। दूसरी बार वो दल बदलकर सपा में चले गए। तब से लगातार जीत दर्ज करते रहे। 2017 के चुनाव में वो भाजपा से हार गए। अजय ङ्क्षसह विधायक बन गए। इस चुनाव में राजकिशोर ङ्क्षसह 66908 मत पाकर दूसरे और बसपा के विपिन शुक्ल 39749 मत पाकर तीसरे स्थान पर रहे।

अपराजेय राम प्रसाद चौधरी को 2017 में मिली थी पटखनी

इसी तरह से कप्तानगंज विधान सभा सीट पर राम प्रसाद चौधरी 1993 से लगातार जीतते रहे और अपराजेय माने जाते रहे हैं। 1993 में सपा के टिकट और 96 में बसपा फिर 2002 में भाजपा के टिकट पर वो चुनाव लड़े और जीत गए। 2007 में वह फिर से बसपा में वापस लौट गए। तब से वह लगातार इसी दल से चुनाव लड़ते और जीतते आ रहे हैं। 2017 के चुनावी दंगल में राम प्रसाद चौधरी 63700 मत पाकर दूसरे स्थान पर रहे। भाजपा के सीए चंद्रप्रकाश शुक्ल त्रिकोणीय मुकाबले में 70527 मत पाकर चुनाव जीत गए। कांग्रेस के राना कृष्ण ङ्क्षककर ङ्क्षसह 60142 मत पाकर तीसरे स्थान पर रहे।

महादेवा से पहली बार राम लहर में जीती थी भाजपा

महादेवा सीट की बात करें तो यहां भाजपा 1991 में राम लहर में जीती थी और वेद प्रकाश विधायक बने थे। इसके बाद से यह सीट कभी सपा तो कभी बसपा के कब्जे में रही। वर्ष 2012 के चुनाव में यहां सपा जीती तो इससे पहले के चुनाव में बसपा के दूधराम विजयी हुए। 1989 में राम करन आर्य इसी सीट से जनता दल के टिकट पर लड़कर जीते थे। इसके बाद वह फिर 1993 में सपाई बन गए और चुनाव जीत गए। इसके बाद वह वर्ष 2002, 2012 में सपा से ही जीते। वर्ष 2017 के चुनाव में पूर्व सांसद कल्पनाथ सोनकर के पुत्र रवि सोनकर भाजपा के टिकट पर चुनाव जीत गए।

2017 में इन दो सीटों पर पहली बार जीती थी भाजपा

बस्ती जिले की पांच में दो ऐसी सीटें हैं जहां 2017 के चुनाव में भाजपा पहली बार जीती। इससे पहले यहां कभी भाजपा का खाता नहीं खुला है। यह है बस्ती सदर और पहले राम नगर अब रुधौली। इससे पहले के दो चुनावों पर नजर डालें तो भाजपा की स्थिति मजबूत हुई है। रामनगर सीट पर वर्ष 2007 के चुनाव में भाजपा को 6596 और परिसीमन के बाद 2012 में हुए चुनाव में भाजपा को यहां 26387 मत मिले। इसी तरह बस्ती सदर सीट पर वर्ष 2007 के चुनाव में भाजपा को 8290 और वर्ष 2012 के चुनाव में 32121 मत मिले थे।

वर्ष 2017 के चुनाव की स्थिति

सदर विधान सभा

दल प्रत्याशी कुल प्राप्त मत

भाजपा दयाराम चौधरी - 92697

सपा महेंद्र नाथ यादव - 50103

बसपा जितेंद्र कुमार चौधरी -49538

रुधौली विधान सभा

दल प्रत्याशी कुल प्राप्त मत

भाजपा संजय प्रताप जायसवाल -90228

बसपा राजेंद्र प्रसाद चौधरी -68423

कांग्रेस सईद अहमद खां -51743

हर्रैया विधान सभा

दल प्रत्याशी कुल प्राप्त मत

भाजपा अजय कुमार सिंह - 970104

सपा राजकिशोर सिंह -66908

बसपा विपिन शुक्ला -49748

कप्तानगंज विधान सभा सीट

दल प्रत्याशी कुल प्राप्त मत

भाजपा सीए चंद्रप्रकाश शुक्ल -70527

बसपा राम प्रसाद चौधरी -63700

कांग्रेस -राना कृष्ण किंकर सिंह -60142

महादेवा सुरक्षित विधान सभा

दल प्रत्याशी कुल प्राप्त मत

भाजपा रवि सोनकर -82429

बसपा दूधराम -56545

सपा राम करन आर्य -47914

यह भी जानें

जनपद बस्ती - एक नजर में

कुल विधान सभा- पांच

कुल आबादी - 28.97 लाख

कुल ग्राम पंचायत-1185

कुल राजस्व ग्राम- 2950

कुल मतदाता -1908043

कुल पुरुष मतदाता- 1014524

कुल महिला मतदाता- 893370

कुल मतदान केंद्र- 1500

कुल मतदेय स्थल - 2470

कुल जोन-21,कुल सेक्टर- 126

Edited By Navneet Prakash Tripathi

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept