Manish Murder Case: कमरा नंबर 512 का रहस्‍य जानने गोरखपुर पहुंची सीबीआइ की फोरेंसिक टीम

Manish Murder Case मंगलवार की सुबह 10 बजे सीबीआइ के अधिकारी व फोरेंसिक टीम ने एनेक्सी भवन में बैठक की। सुबह 10.30 बजे टीम एनेक्सी भवन से होटल कृष्णा पैलेस पहुंची।यहां पहुंचते ही सीबीआइ टीम होटल के मैनेजर आदर्श पांडेय को लेकर कमरा नंबर 512 में पहुंची।

Pradeep SrivastavaPublish: Tue, 30 Nov 2021 01:14 PM (IST)Updated: Tue, 30 Nov 2021 03:06 PM (IST)
Manish Murder Case: कमरा नंबर 512 का रहस्‍य जानने गोरखपुर पहुंची सीबीआइ की फोरेंसिक टीम

गोरखपुर, जागरण संवाददाता। मनीष गुप्ता हत्याकांड की जांच कर रही सीबीआइ मंगलवार की सुबह फोरेंसिक टीम के साथ होटल कृष्णा पैलेस पहुंची।टीम के साथ मनीष के दोस्त हरवीर, प्रदीप, चंदन सैनी के साथ ही राणा प्रताप व धनंजय भी होटल में मौजूद हैं। सुबह से ही फोरेंसिक टीम जांच कर रही है।रात में क्राइम सीन रीक्रिएट किए जाने की संभावना है।

कमरा नंबर 512 में फोरेंसिक टीम कर रही है जांच

सोमवार को लखनऊ से पहुंची सीबीआइ की टीम ने होटल कृष्णा पैलेस के मैनेजर आदर्श पांडेय व दो पुलिसकर्मियों से सर्किट हाउस के एनेक्सी भवन में देर शाम तक पूछताछ की। शाम को ही दिल्ली से सीबीआइ की छह सदस्यीय फोरेंसिक टीम गोरखपुर पहुंची। जिसके साथ अधिकारियों ने एनेक्सी भवन के सेफ हाउस में दो घंटे तक बैठक की। मंगलवार की सुबह 10 बजे सीबीआइ के अधिकारी व फोरेंसिक टीम ने एनेक्सी भवन में बैठक की। सुबह 10.30 बजे टीम एनेक्सी भवन से होटल कृष्णा पैलेस पहुंची।यहां पहुंचते ही सीबीआइ टीम होटल के मैनेजर आदर्श पांडेय को लेकर कमरा नंबर 512 में पहुंची।

सील खोलने के बाद हरवीर व प्रदीप के साथ फोरेंसिक टीम ने जांच शुरु की।सीढ़ी के साथ ही घटना के बाद सील किए गए लिफ्ट से टीम ने नमूना एकत्र किया।फोरेंसिक टीम की जांच अभी जारी है।मंगलवार की रात में ही सीबीआइ की टीम क्राइम सीन रीक्रिएट कर सकती है। इसको लेकर तैयारी चल रही है।घटना से पहले और बाद में मौजूद रहे लोगों को एनेक्सी भवन बुलाया गया है।

डाक्टर व कर्मचारियों से आज हो सकती है पूछताछ

फोरेंसिक जांच के बाद सीबीआइ की टीम मानसी हास्पिटल व मेडिकल कालेज के डाक्टर व कर्मचारियों से पूछताछ करेगी। घटना से जुड़े सभी लोगों से पूछताछ हो चुकी है।डाक्टर व कर्मचारियों को अभी नहीं बुलाया गया है। मेडिकल कालेज में मनीष गुप्ता का 15 मिनट के भीतर दो भर्ती पर्चा बना था। इसका जवाब अभी नहीं मिला है।

गोरखपुर में अब तक सीबीबाइ ने कार्रवाई की

11 नवंबर : सीबीआइ की टीम जांच करने पहली बार गोरखपुर पहुंची।

12 नवंबर : मनीष के दोस्तों से सीबीआई ने पूछताछ की।

13 नवंबर : टीम होटल कृष्णा पैलेस और रामगढ़ताल थाने पहुंची।

14 नवंबर : एसआइटी, दोस्तों, होटल के गार्ड समेत 10 से पूछताछ की।

15 नवंबर : सीओ कैंट, रामगढ़ताल थानेदार व होटल के वेटर से सीबीआइ ने बातचीत की।

16 नवंबर : मानसी हास्पिटल के कर्मचारियों से पूछताछ हुई।

17 नवंबर : आरोपित पुलिसकर्मियों की रिमांड लेने के बाद टीम लखनऊ लौटी।

29 नवंबर : सीबीआइ के अधिकारी व फोरेंसिक टीम गोरखपुर पहुंची।

29 नवंबर : शाम को एनेक्सी भवन में होटल मैनेजर व पुलिसकर्मियों से पूछताछ की।

30 नवंबर : होटल कृष्णा पैलेस पहुंचकर फोरेंसिक टीम ने जांच शुरु की।

Edited By Pradeep Srivastava

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept