किसानों को परेशान करने पर केंद्र प्रभारियों के विरुद्ध होगी कार्रवाई: डीएम

डीएम सत्येन्द्र कुमार ने केंद्र प्रभारियों को निर्देश दिया कि वे रोजाना 10 किसानों को केंद्र पर धान बेचने के लिए जागरूक करें ताकि वो किसान आगे और किसानों को जागरूक करें।

JagranPublish: Mon, 29 Nov 2021 12:18 AM (IST)Updated: Mon, 29 Nov 2021 12:18 AM (IST)
किसानों को परेशान करने पर केंद्र प्रभारियों के विरुद्ध होगी कार्रवाई: डीएम

महराजगंज: जिले के सभी धान क्रय केंद्रों पर प्रत्येक दिन कम से कम 200 क्विंटल की खरीद केंद्र प्रभारी सुनिश्चित करें। धान क्रय में किसी भी किसान को अगर जानबूझकर केंद्र प्रभारियों द्वारा परेशान किया जाएगा, तो उनके खिलाफ विधिक कार्रवाई की जाएगी।

यह निर्देश डीएम सत्येन्द्र कुमार ने कलेक्ट्रेट सभागार में खाद्य एवं रसद विभाग की समीक्षा बैठक में दिए। उन्होंने केंद्र प्रभारियों को निर्देश दिया कि वे रोजाना 10 किसानों को केंद्र पर धान बेचने के लिए जागरूक करें, ताकि वो किसान आगे और किसानों को जागरूक करें। इससे धान क्रय को रफ्तार दी जा सकेगी। डीएम ने मानिक तालाब स्थित साधन सहकारी समिति के क्रय केंद्र पर कम खरीद को देखते हुए डिप्टी आरएमओ को निर्देश दिया कि वह मौके पर जाकर निरीक्षण करें और वहां आने वाली समस्या का समाधान कर धान क्रय में तेजी लाए। डिप्टी आरएमओ अखिलेश कुमार सिंह ने बताया कि जिले में अब तक कुल 1911 किसानों से 82 हजार 99 क्विंटल धान क्रय हुई है। बैठक में अपर जिलाधिकारी डा. पंकज वर्मा सहित सभी केंद्र प्रभारी उपस्थित रहे।

जांच में हुई अनियमितता की पुष्टि, डीएम को सौंपी रिपोर्ट

महराजगंज : निचलौल ब्लाक क्षेत्र के सुदूर नदी पार बसे मुसहर ग्राम सोहगीबरवा में सरकार के महत्वपूर्ण योजना आवास व शौचालय में रोजगार सेवक द्वारा भ्रष्टाचार करने का आरोप ग्रामीणों ने लगाया था। जो बीडीओ की अध्यक्षता में तीन सदस्यीय टीम की जांच में सही पाया गया है, जिसके बाद इसकी रिपोर्ट डीएम को भेजी गई है। डीएम के आदेश पर विभाग अग्रिम कार्रवाई की बात कह रहा है।

ग्राम पंचायत सोहगीबरवा में अति पिछड़े समाज, मुसहर व दलित समाज के लोग निवास करते हैं। जिनका चयन आवास व शौचालय के लिए किया गया था। जिनके खाते में पैसा भेजा गया था। ग्रामीणों का आरोप है कि रोजगार सेवक प्रभुनाथ लोगों को लाभ देने के नाम पर पहले धन उगाही कर लिया। जबकि तमाम आवास लाभार्थियों को धौंस दिखाकर बैंक खाते के बिड्राल पर निशानी अंगूठा लगवाकर धन की निकासी कर लिए है।

शेष धनराशि भी ग्राम पंचायत में अपने भाई के जनसेवा केंद्र पर पास बुक चेक करने के बहाने निकासी करा लिया। जिसकी शिकायत ग्रामीणों ने बीडीओ व थानाध्यक्ष से किया था। जिसके बाद बीडीओ ने इसकी स्थलीय जांच कराई। प्रभारी बीडीओ कर्मवीर केशव ने बताया कि जांच रिपोर्ट डीएम व सीडीओ को भेजी जा चुकी है। जांच में रोजगार सेवक के ऊपर लगे आरोप की पुष्टि हुई है। अधिकारियों के निर्देश पर अग्रिम कार्रवाई की जाएगी।

Edited By Jagran

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept
ट्रेंडिंग न्यूज़

मौसम