ट्रेन से कटकर जमानियां के बर्तन व्यवसायी की मौत

रेलवे स्टेशन की डाउन मेनलाइन में फुट ओवरब्रिज।

JagranPublish: Wed, 19 Jan 2022 05:13 PM (IST)Updated: Wed, 19 Jan 2022 05:21 PM (IST)
ट्रेन से कटकर जमानियां के बर्तन व्यवसायी की मौत

जागरण संवादाता,दिलदारनगर (गाजीपुर) : रेलवे स्टेशन की डाउन मेनलाइन में फुट ओवरब्रिज के पास मंगलवार की शाम चंडीगढ़-पाटलिपुत्र एक्सप्रेस ट्रेन की चपेट में आने से जमानियां स्टेशन बाजार निवासी बर्तन व्यवसायी श्याम सुंदर कसौधन (55) की मौत हो गई। जीआरपी ने क्षत- विक्षत शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।

श्याम सुंदर कसौधन की जमानियां स्टेशन बाजार में बर्तन की दुकान है। वह व्यापार के सिलसिले में मंगलवार को दिलदरनगर कस्बे में आए हुए थे। शाम को जमानियां जाने के लिए दिलदारनगर-डीडीयू पैसेंजर में बैठे थे, तभी अपलाइन में मेमो पैसेंजर की आने की सूचना प्रसारित हुई। पैसेंजर में बैठने के लिए वह खड़ी मालगाड़ी के इंजन के सामने से होकर प्लेटफार्म नंबर तीन पर जाने के लिए डाउनलाइन में पहुंचे। इतने में तेज रफ्तार चंडीगढ़-पाटलिपुत्र एक्सप्रेस की चपेट में आकर वह कई हिस्सों में कट गए। सीने से कमर का हिस्सा आरपीएफ पोस्ट के सामने पटरी पर गिरा, जबकि पैर, हाथ व सिर के टुकड़े दूर-दूर तक बिखर गए। जीआरपी ने करीब एक घंटे तक शव के टुकड़े को एकत्र किया। उधर, प्लेटफार्म नंबर एक पर बिना सिम व बैट्री का मोबाइल मिला। जीआरपी चौकी प्रभारी प्रवेश कुमार सिंह ने बताया कि ट्रेन की चपेट में आने से श्याम सुंदर की मौत हो गई।

व्यापारी श्याम सुंदर के रात तक घर नहीं पहुंचने से परेशान स्वजन ने मोबाइल पर संपर्क किया तो वह स्विच आफ मिला। बड़ा बेटा सत्यम रातभर अपने दोस्तों संग डीडीयू व बक्सर स्टेशन पर पिता को तलाशता रहा, लेकिन पता नहीं चला। सुबह में वह जीआरपी के पास पहुंचा तो वहां पर कपड़े व मोबाइल को देखकर उसे पिता की मौत के बारे में पता चला। हादसे की सूचना पर जमानियां व दिलदारनगर कस्बा से कई व्यवसायी पुलिस चौकी पर पहुंच गए। उजड़ गई सुधा की दुनिया: व्यवयासी की मौत से पत्नी सुधा की दुनिया उजड़ गई। उनका रो -रोकर बुरा हाल था श्याम सुंदर के दो बेटे सत्यम (19) व कृष (15) और चार बेटियां हैं, जिसमें दो बेटियों की शादी हो गई है।

Edited By Jagran

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept