महाप्रबंधक ने निर्माणाधीन टावर वैगन शेड का लिया जायजा

पूर्वोत्तर रेलवे के महाप्रबंधक विनय कुमार त्रिपाठी ने शुक्रवार को मंडल रेल प्रबंधक विजय कुमार पंजियार व रेल विकास निगम लिमिटेड के प्रोजेक्ट डायरेक्टर वीके शुक्ल के साथ दुल्लहपुर के निकट बन रहे निर्माणाधीन टावर वैगन शेड एवं औड़िहार स्थित डेमू शेड का गहन निरीक्षण किया।

JagranPublish: Fri, 11 Dec 2020 10:28 PM (IST)Updated: Fri, 11 Dec 2020 10:28 PM (IST)
महाप्रबंधक ने निर्माणाधीन टावर वैगन शेड का लिया जायजा

जागरण संवाददाता, सैदपुर/ दुल्लहपुर (गाजीपुर) : पूर्वोत्तर रेलवे के महाप्रबंधक विनय कुमार त्रिपाठी ने शुक्रवार को मंडल रेल प्रबंधक विजय कुमार पंजियार व रेल विकास निगम लिमिटेड के प्रोजेक्ट डायरेक्टर वीके शुक्ल के साथ दुल्लहपुर के निकट बन रहे निर्माणाधीन टावर वैगन शेड एवं औड़िहार स्थित डेमू शेड का गहन निरीक्षण किया। बारीकी से जायजा लेने के बाद उन्होंने अधीनस्थों को आवश्यक दिशा-निर्देश दिए।

सबसे पहले दुल्लहपुर रेलवे स्टेशन के पास 6.24 एकड़ में बन रहे टावर बैगन शेड के निर्माण कार्य की प्रगति जानने पहुंचे। उन्होंने 3780 वर्ग मीटर क्षेत्रफल में बने 1.2 रुट की डबल लाइन एवं 650 वर्गमीटर क्षेत्रफल में हो रहे पक्के निर्माण कार्यों का गहन निरीक्षण किया। दोहरीकरण के अनुरूप इस शेड की कनेक्टिविटी विकसित करने का निर्देश दिया। रेल विकास निगम लिमिटेड द्वारा बनाए जा रहे शेड प्रोजेक्ट का डाइग्राम देखा और इसके साथ ही रेल विकास निगम लिमिटेड के अधिकारियों से दुल्लहपुर स्टेशन पर यार्ड रि-माडलिग पर भी चर्चा की। महाप्रबंधक ने कहा कि दोहरीकरण के अनुरूप टावर वैगन शेड का निर्माण प्रगति पर चल रहा है कितु इसका लाभ तभी होगा जब इसे अप एवं डाउन दोनों साइड से दुल्लहपुर स्टेशन से कनेक्ट किया जा सकेगा। इसके बाद महाप्रबंधक विनय कुमार त्रिपाठी औड़िहार स्थित डेमू शेड पहुंचे और गहन निरीक्षण किया। डेमू शेड में स्थापित प्रशिक्षण केंद्र में कर्मचारियों को मिलने वाले प्रशिक्षण के मानकों के बारे में संज्ञान लिया। प्रशिक्षण केंद्र में प्रशिक्षण के स्तर को प्रभावी और अधिक उपयोगी बनाने के प्रयासों की सराहना की। महाप्रबंधक ने औड़िहार डेमू शेड के विभिन्न वर्कशाप में स्थापित मशीनों की कार्यप्रणाली को समझा। वर्कशॉप के उपकरणों एवं वहां अनुरक्षित किए जाने वाले कोचों का निरीक्षण किया। उन्होंने डेमू शेड के वर्कशापों का पावर खपत कम करने और शेड को पूरी क्षमता के साथ उपयोग करने का निर्देश दिया। इसके अतिरिक्त महाप्रबंधक रेलवे वीके त्रिपाठी, मंडल रेल प्रबंधक वीके पंजियार एवं वरिष्ठ अधिकारियों के साथ दुल्लहपुर-औड़िहार-जौनपुर रेल खण्ड का विन्डो ट्रेलिग निरीक्षण किया। इस दौरान रेल ट्रैक, कर्वेचर, पुल पुलिया, ब्लाक सेक्शन, सिग्नल, दृश्यता बोर्ड, ट्रैक की पैकिग एवं अल्ट्रासोनिक जांचकर रेलखंड की गति सीमा एवं संरक्षा परखी गई। यह निरीक्षण तीव्रगामी और संरक्षित परिचालन सुनिश्चित करने के उद्देश्य से किया गया। वरिष्ठ मंडल परिचालन प्रबंधक रोहित गुप्ता, वरिष्ठ मंडल इंजीनियर (समन्वय) राजीव अग्रवाल, वरिष्ठ मंडल वाणिज्य प्रबंधक संजीव शर्मा, वरिष्ठ मंडल कार्मिक अधिकारी समीर पाल, वरिष्ठ मंडल सिगनल एवं दूरसंचार इंजीनियर त्रयंबक तिवारी, वरिष्ठ मंडल विद्युत इंजीनियर सत्येंद्र यादव, वरिष्ठ मंडल यांत्रिक इंजीनियर सत्यप्रकाश श्रीवास्तव व आरवीएनएल के वरिष्ठ अधिकारी मौजूद थे।

Edited By Jagran

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept