प्रत्याशी आनलाइन भी कर सकेंगे नामांकन

जिलाधिकारी/जिला निर्वाचन अधिकारी मंगला प्रसाद सिंह ने बताया कि निर्वाचन आयोग ने आनलाइन पद्धति से नामांकन कराने के लिए अतिरिक्त सुविधा उपलब्ध कराई है।

JagranPublish: Wed, 19 Jan 2022 08:36 PM (IST)Updated: Wed, 19 Jan 2022 08:36 PM (IST)
प्रत्याशी आनलाइन भी कर सकेंगे नामांकन

जागरण संवाददाता, गाजीपुर : जिलाधिकारी/जिला निर्वाचन अधिकारी मंगला प्रसाद सिंह ने बताया कि निर्वाचन आयोग ने आनलाइन पद्धति से नामांकन कराने के लिए अतिरिक्त सुविधा उपलब्ध कराई है। इसके लिए वेब लिक उपलब्ध है। इसके माध्यम से नामांकन कर उसका प्रिट निकलवा कर रिटर्निंग आफिसर के यहां जमा करना होगा। इसी प्रकार शपथ पत्र भी उपरोक्त लिक के माध्यम से आनलाइन भरे जाने की सुविधा उपलब्ध है। प्रिट आउट को रिटर्निंग आफिसर के समक्ष दाखिल किया जा सकता है। जमानत धनराशि भी आनलाइन जमा करने का प्रविधान है। नामांकन पत्र दाखिल करने के पश्चात जमानत राशि जमा करने को पेय लिक पर क्लिक कर आनलाइन भुगतान भी किया जा सकता है। जिलाधिकारी ने बताया कि प्रत्येक विधानसभा में इस बार अलग से दो-दो बूथ महिलाओं के होंगे, जहां सभी अधिकारी और कर्मी भी महिला होंगी। नारी सशक्तीकरण के तहत यह कार्य किया गया है वहीं प्रत्येक विधानसभा में दिव्यांग मतदाताओं के लिए एक अलग से बूथ होगा।

25 जोन व 253 सेक्टर में बंटा है जनपद

: जिले की सातों विधानसभा को 25 जोन व 253 सेक्टर में बांटा गया है। इसके लिए 25 जोनल व 253 सेक्टर मजिस्ट्रेट तैनात किए गए हैं। वह प्रतिदिन मतदान केंद्र व बूथों का निरीक्षण कर शिकायतों का निस्तारण भी करा रहे हैं। सभी मतदान केंद्रों का सत्यापन हो गया है। जहां रास्ता व बिजली नहीं है, उसे ठीक करने के लिए बिजली, क्षेत्र पंचायत व पीडब्ल्यूडी के कर्मी को लगाया गया है।

1250 से अधिक मतदाता वाले हैं 56 बूथ

: जनपद में 1616 मतदान केंद्र और 3040 मतदेय स्थल हैं। एक बूथ पर 1250 मतदाता ही मतदान कर सकेंगे। सात विधानसभा क्षेत्र में कुल 56 बूथ ऐसे हैं, जहां 1250 से अधिक मतदाता हैं। यहां एक-एक और बूथ बढ़ेंगे। बूथों पर होगी कोविड हेल्प डेस्क व वोटर असिस्टेंट की सुविधा

: इस बार प्रत्येक बूथ पर कोविड हेल्प डेस्क के साथ वोटर असिस्टेंट की भी सुविधा रहेगी। डीएम एमपी सिंह ने बताया कि जो मतदाता संदिग्ध होंगे उनकी बूथ पर जांच की जाएगी। वोटर असिस्टेंट लोगों को बताएंगे कि आपको किस बूथ पर मतदान करना है। इसके अलावा अगर किसी को कोई समस्या होगी तो भी वह असिस्टेंट से जानकारी ले सकेंगे।

---

प्रत्येक को मिलेगी मतदाता सूचना पर्ची

: निर्वाचन आयोग इस बार विधानसभा चुनाव में प्रत्येक मतदाता को मतदाता सूचना पर्ची भेजेगा। इसमें मतदाताओं को बताया जाएगा कि आपको कहां और किस बूथ पर मतदान करना है। आप किस गांव के मतदाता हैं, आपका मतदान केंद्र और बूथ संख्या क्या है। मतदान करना क्यों आवश्यक है। डीएम ने बताया कि 28 फरवरी तक जिले के सभी मतदाताओं को यह वितरित कर दिया जाएगा।

---

यहां से रवाना होंगी पोलिग पार्टियां

: पोलिग पार्टियों के रवानगी का स्थल भी चिह्नित कर लिया गया है। स्वामी सहजानंद स्नातकोत्तर महाविद्यालय, न्यू स्टेडियम, लंका मैदान, आइटीआइ और पालीटेक्निक कालेज से पोलिग पार्टियां रवाना होंगी। वहीं जंगीपुर मंडी में मतों की गणना की जाएगी।

--

70 फीसद से अधिक मतदान करना लक्ष्य

: आयोग का लक्ष्य है कि इस बार 70 फीसद से अधिक मतदान हो। इसके लिए पिछले लोकसभा व विधानसभा चुनाव में हुए मत फीसद को देखते हुए इसका अध्ययन किया जा रहा है। वर्ष 2014 के लोकसभा चुनाव में 55, 2017 विधानसभा चुनाव में 59 व 2019 के लोकसभा चुनाव में 58 फीसद मतदान हुआ था। तीनों चुनाव में सबसे कम जमानियां विधानसभा में मतदान हुआ। जिलाधिकारी ने बताया कि कम मतदान होने का सबसे बड़ा कारण यह था कि महिलाएं वोट देने नहीं गईं। इसलिए इस बार महिलाओं के लिए अलग से बूथ बनाया गया है।

Edited By Jagran

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept
ट्रेंडिंग न्यूज़

मौसम