This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.
OK

जिले में कल तक आ जाएगा 100 आक्सीजन कंसंट्रेटर

कोरोना महामारी से लड़ने की दिशा में डीएम की पहल पर शुक्रवा

JagranWed, 05 May 2021 05:47 PM (IST)
जिले में कल तक आ जाएगा 100 आक्सीजन कंसंट्रेटर

जागरण संवाददाता, गाजीपुर : कोरोना महामारी से लड़ने की दिशा में डीएम की पहल पर शुक्रवार की सुबह तक जिले में 100 आक्सीजन कंसंट्रेटर पहुंच जाएगा। इससे जिला अस्पताल में आक्सीजन की किल्लत की समस्या को काफी हद तक दूर कर दिया जाएगा। वहीं जैम पोर्टल से 57 और आक्सीजन कंसट्रेटर आर्डर किया गया है। इतना ही नहीं 50 रेगुलेटर भी जिला अस्पताल पहुंच गए हैं। इसके अलावा 100 और आर्डर किया गया है। आक्सीजन का सिलेंडर होने के बावजूद रेगुलेटर ना होने से लोग को लग नहीं पाता था। जिला अस्पताल में सिर्फ 25 रेगुलेटर थे, जिसमें पांच खराब थे। बुधवार को 50 रेगुलेटर आ गया। अब 70 रेगुलेटर हो गए हैं। इसके साथ ही 100 और आर्डर किया गया है। अब जिला अस्पताल में कोरोना मरीजों को रेगुलेटर के लिए इधर-उधर नहीं भटकना पड़ेगा।

---

मंगाया हैं एक हजार पीपीई किट

पीपीई किट की भी जिले में काफी कमी थी। इससे कोरोना से जूझ रहे लोगों की सेवा में लगे चिकित्सक व स्वास्थ्य कर्मी भी काफी विचलित रहते थे। जिलाधिकारी ने एक हजार पीपीई किट भी मंगवा लिया है। इससे भी स्वास्थ्य कर्मियों को काफी सहूलियत होगी।

जिला अस्पताल चौकी पर

तैनात रहेंगे 12 कांस्टेबल

जिला अस्पताल से मरीजों के तीमारदारों द्वारा बार-बार चिकित्सक व स्वास्थ्यकर्मियों से दु‌र्व्यवहार की सूचना आती रहती थी। इस पर डीएम ने एसपी डा. ओपी सिंह ने अस्पताल में स्थापित पुलिस चौकी को सक्रिय करने को कहा था। इसके तहत एसपी ने चौकी स्थापित करते हुए यहां 10 कांस्टेबल व एक उपनिरीक्षक की तैनाती कर दी है। यह 24 घंटे संचालित रहेगा। इससे चिकित्सकों को भी काफी सहूलियत होगी। अब सीएचसी-पीएचसी

पर डीएम की नजर

जिलाधिकारी जिला अस्पताल की व्यवस्था को धीरे-धीरे सुदृढ़ करने करने के साथ ही अब उनकी नजर सीएचसी-पीएचसी पर है। 100 आक्सीजन कंसंट्रेटर से जिला अस्पताल में आक्सीजन की कमी बहुत हद तक दूर हो जाएगी। इसके बाद जो 57 और आर्डर किया गया है इसे जिलाधिकारी सीएचसी-पीएचसी के लिए उपलब्ध कराएंगे, ताकि यहां भी कोविड के मरीज को उचित इलाज हो सके। वहीं जीवन रक्षक दवाएं भी उपलब्ध कराया जाएगा।

तीनों लिफ्टों की शुरू हुई मरम्मत

जिलाधिकारी सिर्फ कोरोना से लड़ने वाली सामाग्रियों को ही नहीं, बल्कि जिला अस्पताल को चुस्त-दुरुस्त करना शुरू कर दिया है। निरीक्षण में लिफ्ट बंद देखकर जब डीएम ने स्वास्थ्य अधिकारियों से इसके बारे में पूछा था तो वह बगले झांकने लगे थे। डीएम ने खूब खरीखोटी भी सुनाई थी। उनको यह भी नहीं पता था कि अस्पताल में कितने लिफ्ट लगे हैं। इस पर उन्होंने लखनऊ की एक कंपनी से बात कर उसे सही करने को कहा। यह टीम भी बुधवार को लिफ्ट चालू करने के लिए पहुंच गई। यह शाम को जिलाधिकारी को रिपोर्ट करेंगे। अब उम्मीद है दो से तीन दिन में लिफ्ट शुरू हो जाएगी। इससे वृद्ध व गंभीर बीमारी से ग्रसित लोगों को काफी सहूलियत होगी।

वर्जन

कल सुबह तक 100 आंक्सीजन कंसंट्रेटर जिले में आ जाएगा। 50 रेगुलेटर आ गए हैं, अब हमारे पास कुल 70 हो गए हैं। एक हजार पीपीई किट भी आ गया है। अस्पताल की पुलिस चौकी को भी सक्रिय कर दिया गया है। कोरोना से पीड़ित मरीजों को कोई दिक्कत ना हो, इसके लिए हम पूरी तत्परता से लगे हुए हैं। जो भी आवश्यकता है उसे पूरा करने का प्रयास किया जा रहा है।

- एमपी सिंह, जिलाधिकारी।

Edited By Jagran

गाजीपुर में कोरोना वायरस से जुडी सभी खबरे

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!