कौशांबी से मुरादनगर के लिए दौड़ी इलेक्ट्रिक बसें

जागरण संवाददाता साहिबाबाद इलेक्ट्रिक बसों में सफर का इंतजार शनिवार को खत्म हो गया। कौशांबी बस अड्डे से सुबह सवा 11 बजे से मुरादनगर के लिए पांच बसों का संचालन शुरू हुआ। पांचों बसों का संचालन 15-15 मिनट के अंतराल पर हुआ। हालांकि पहले दिन ही देरी से बसों का संचालन शुरू हुआ। सुबह छह बजे से बस चलनी थीं। बसों की संख्या में इजाफा कर अन्य रूटों पर भी चलाया जाएगा।

JagranPublish: Sat, 22 Jan 2022 07:36 PM (IST)Updated: Sat, 22 Jan 2022 08:30 PM (IST)
कौशांबी से मुरादनगर के लिए दौड़ी इलेक्ट्रिक बसें

जागरण संवाददाता, साहिबाबाद : इलेक्ट्रिक बसों में सफर का इंतजार शनिवार को खत्म हो गया। कौशांबी बस अड्डे से सुबह सवा 11 बजे से मुरादनगर के लिए पांच बसों का संचालन शुरू हुआ। पांचों बसों का संचालन 15-15 मिनट के अंतराल पर हुआ। हालांकि पहले दिन ही देरी से बसों का संचालन शुरू हुआ। सुबह छह बजे से बस चलनी थीं। बसों की संख्या में इजाफा कर अन्य रूटों पर भी चलाया जाएगा।

चार जनवरी को केंद्रीय मंत्री डा.वीके सिंह और भाजपा नेताओं ने इलेक्ट्रिक बसों को हरी झंडी दिखाई थी। बहरामपुर में चार्जिंग स्टेशन नहीं बनने से बसों का संचालन शुरू नहीं हुआ था। इसके बाद चार्जिंग स्टेशन बनाने का काम तेजी से किया गया। उत्तर प्रदेश राज्य सड़क परिवहन निगम (यूपीएसआरटीसी) के अधिकारियों के मुताबिक, चार्जिंग स्टेशन पर पांच बसों को चार्ज करने की व्यवस्था की गई है। इसके बाद पांच बसों के संचालन का निर्णय लिया गया। अन्य बसों के लिए चार्जिंग स्टेशन पर काम तेजी से चल रहा है। शनिवार सुबह 10 बजे पांच बस को बहरामपुर वर्कशाप से कौशांबी डिपो लाया गया। पहली बस सवा 11 बजे चली। इसके बाद 15-15 के अंतराल पर बसों को मुरादनगर के लिए लिए रवाना किया गया। पहली बस में सात यात्रियों ने किया सफर : पहली बस में सात यात्रियों ने इलेक्ट्रिक बस में सफर किया। इलेक्ट्रिक बस में बैठे यात्रियों में खुशी थी। मुरादनगर रूट से होकर नौकरी के लिए कौशांबी और दिल्ली जाने वाले यात्रियों को इलेक्ट्रिक बस चलने से सुविधा होगी। पहले दिन बसों के संचालन पर अधिकारियों की नजर रही।

सुबह छह से रात 10 बजे तक होगा संचालन : पहले ही दिन देरी से बसों का संचालन शुरू हुआ। सुबह छह बजे से संचालन होना था, लेकिन 11:15 बजे से बस चली। अधिकारियों का दावा है कि रविवार से दिन सुबह छह से रात 10 बजे तक बसें चलेंगी। कौशांबी से मुरादनगर के बीच की दूरी 33 किमी और 21 स्टाप हैं। यह दूरी 45 मिनट में तय हो रही है। वहां आधे घंटे रुककर बस कौशांबी के लिए वापसी करेगी। न्यूनतम किराया 10 और अधिकतम 40 रुपये होगा।

दिव्यांगों के लिए हैं दो सीट आरक्षित : बसों में दिव्यांगों के लिए दो सीट आरक्षित की गई हैं। दिव्यांग के आने पर सीट खाली करनी होगी। इन सीटों पर आरक्षित लिख दिया गया है। वहीं महिलाओं के लिए भी दो सीट आरक्षित हैं। बस में एक सीट परिचालक के लिए है। सीट नहीं मिलने पर आम यात्री खड़े होकर सफर कर सकते हैं। इसके लिए बस में अच्छा-खासा स्पेस दिया गया है।

बाक्स..

कोरोना से बचाव के होंगे इंतजाम

-बस में चालक परिचालक और यात्रियों को मास्क पहनना अनिवार्य है।

-बस में चढ़ने पर यात्रियों का हाथ सैनिटाइज किए गए।

-बस संचालन कर रही कंपनी को नियमित बसों को सैनिटाइज करना होगा।

-बस में प्राथमिक उपचार किट उपलब्ध है। बाक्स..

बसों की विशेषता

- शून्य गैस उत्सर्जन

- स्वचलित ट्रांसमिशन

-अल्ट्रा साइलेंट एयर कंडीशन केबिन

-व्हील चेयर और रैंप की व्यवस्था

-सीसीटीवी कैमरे व मोबाइल चार्जिग की सुविधा

-पेनिक और फायर डेटेक्शन बटन

-एक बार चार्ज होने पर 200 किलोमीटर चलने की क्षमता बाक्स..

कौशांबी बस अड्डे से किराया

बस स्टाप : किराया

डाबर मोड : 10

वैशाली मेट्रो : 10

प्रहलादगढ़ी : 10

सब्जी मंडी: 15

साहिबाबाद गांव : 15

मोहन नगर : 20

अर्थला : 20

हिडन रीवर : 20

मेरठ मोड़ : 20

नंदग्राम : 25

सिहानी चुंगी : 25

राजनगर एक्सटेंशन चौराहा : 25

संस्कार व‌र्ल्ड स्कूल : 30

मोरटा : 30

दुहाई : 30

सैंथली : 35

काइट कालेज : 35

आर्डिनेंस फैक्ट्री : 35

रेलवे रोड मुरादनगर : 35

रावली रोड मुरादनगर : 40

---- वर्जन..

पांच इलेक्ट्रिक बसों का संचालन शुरू हुआ है। कौशांबी से मुरादनगर तक के लिए 21 बस स्टाप तय किए गए हैं। सोमवार से पांच और इलेक्ट्रिक बसें इस रूट पर चलाई जाएंगी।

-एके सिंह, क्षेत्रीय प्रबंधक, यूपीएसआरटीसी।

Edited By Jagran

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept