सहकर्मी ने युवक की गला काटकर हत्या की, कूड़े के ढेर पर मिला सिर

जागरण संवाददाता गाजियाबाद मामूली विवाद में सहकर्मी ने युवक की गला काटकर हत्या कर दी अ

JagranPublish: Mon, 06 Dec 2021 11:04 PM (IST)Updated: Mon, 06 Dec 2021 11:04 PM (IST)
सहकर्मी ने युवक की गला काटकर हत्या की, कूड़े के ढेर पर मिला सिर

जागरण संवाददाता, गाजियाबाद: मामूली विवाद में सहकर्मी ने युवक की गला काटकर हत्या कर दी और उसके शव को कमरे में बंद कर फरार हो गया। घटना रविवार को लालकुआं स्थित शंकर विहार कालोनी की है, युवक से संपर्क न होने पर उसकी तलाश में पत्नी सोमवार को कासगंज से गाजियाबाद पहुंची तो वारदात का पता चला। कमरे से पुलिस को युवक का सिर कटा शव मिला, जबकि आधा किमी दूर कूड़े के ढेर से सिर मिला है। आरोपित को लोगों ने मौके से ही पकड़कर पुलिस को सौंप दिया। पुलिस ने उसकी निशानदेही पर हत्या में प्रयुक्त चाकू बरामद किया है।

एसएचओ कविनगर आनंद प्रकाश मिश्रा ने बताया कि मृतक की पहचान कासगंज के सूरजपुर खसकरी के मूल निवासी प्रमोद लोधी के रूप में हुई है। वह आजमगढ़ निवासी संदीप मिश्रा के साथ कवि नगर औद्योगिक क्षेत्र स्थित फर्म में मशीन आपरेटर थे। प्रमोद मानसरोवर पार्क में और संदीप शंकर विहार में किराये के कमरे में रहते थे। पुलिस के मुताबिक, प्रमोद की पत्नी माया रविवार शाम से ही पति को फोन कर रही थी, लेकिन वह फोन नहीं उठा रहे थे। इसीलिए वह कासगंज से गाजियाबाद पहुंची। पति का कमरा बंद मिला तो वह पूछताछ करते हुए संदीप के कमरे पर पहुंची। यहां भी ताला लगा था। खिड़की से झांकने पर अंदर किसी को लेटा देखा। उन्होंने मकान मालिक की मदद से ताला तोड़ा तो अंदर बिना सिर का शव पड़ा था। कद काठी देख माया ने प्रमोद को पहचान लिया। इसी बीच लोगों ने संदीप को मकान के पास से दबोच लिया और पुलिस को सूचना दे दी। पुलिस ने आरोपित की निशानदेही पर घर से करीब आधा किलोमीटर दूर प्रमोद का सिर और हत्या में प्रयुक्त चाकू बरामद कर लिया।

----

माहौल देखने के लिए आसपास ही घूम रहा था संदीप एसएचओ आनंद मिश्रा ने बताया कि संदीप और प्रमोद एक ही मशीन चलाते थे। करीब एक माह पूर्व यह मशीन खराब हो गई थी। कंपनी के अधिकारियों ने खराबी को लेकर दोनों को फटकार लगाई तो प्रमोद ने संदीप की गलती बताई थी। इसको लेकर दोनों में काफी विवाद हुआ था। रविवार को छुट्टी के दिन संदीप ने प्रमोद को अपने कमरे पर बुलाया। पुलिस के मुताबिक दोनों कमरे में बैठकर शराब पी रहे थे इसी दौरान मशीन खराब होने वाली बात का दोबारा जिक्र हुआ और दोनों में झगड़ा होने लगा। संदीप ने कमरे में रखे चाकू से उसकी हत्या कर सिर धड़ से अलग कर दिया। रात को पालीथीन में सिर रखकर कूड़े के ढेर पर फेंक दिया। पूछताछ में संदीप ने बताया कि सोमवार को वह फैक्ट्री नहीं गया था और माहौल देखने के लिए दिनभर मकान के आसपास की गली में घूमता रहा।

Edited By Jagran

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept