बाढ़ पीड़ितों की शिकायतें सुन नोडल अधिकारी हैरान, लेखपाल व सेक्रेटी निलंबित

सवाद सहयोगी अमृतपुर रामगंगा की धार से बेघर हुए ग्रामीणों व महिलाओं की पीड़ा सुनकर द

JagranPublish: Sat, 30 Oct 2021 08:07 PM (IST)Updated: Sat, 30 Oct 2021 08:07 PM (IST)
बाढ़ पीड़ितों की शिकायतें सुन नोडल अधिकारी हैरान, लेखपाल व सेक्रेटी निलंबित

सवाद सहयोगी, अमृतपुर : रामगंगा की धार से बेघर हुए ग्रामीणों व महिलाओं की पीड़ा सुनकर दौरे पर आईं नोडल अधिकारी हैरान रह गईं। दो साल पहले आई बाढ़ में बेघर हुए ग्रामीणों को अभी तक आवास न मिलने व पट्टे की भूमि पर कब्जा न दिलाए जाने से नाराज नोडल अधिकारी ने तत्कालीन ग्रामपंचायत सचिव व लेखपाल को निलंबित करने के निर्देश दिए। बाढ़ की विभीषिका के बाद भी अधिकारियों के मौके पर न जाने पर भी उन्होंने नाराजगी जताई। सिचाई विभाग द्वारा परकोपाइन स्पर बनवाए जाने के बावजूद कटान होने की शिकायत पर नोडल अधिकारी ने जांच के निर्देश दिए।

अपर मुख्य सचिव माध्यमिक शिक्षा व जिले की नोडल अधिकारी आराधना शुक्ला को बाढ़ प्रभावित गांव अहलादपुर भटौली में ग्रामीणों ने बताया की गांव में 40 घर नदी की धार में बह चुके हैं। जिसमें 22 ग्रामीणों को कोई सहायता नहीं मिली है। विधवा रामकली व सरोजा देवी ने कहा कि छह महीने पहले पति की मौत हो गई, लेकिन विरासत नहीं हुई और न ही पेंशन मिल रही है। नोडल अधिकारी ने बीडीओ गगनदीप से कहा कि दो वर्ष में कितने ग्रामीणों को मुख्यमंत्री आवास दिए गए। बीडीओ ने कहा कि कोई सूची नहीं बनी है। जिस पर नोडल अधिकारी नाराज हो गईं और कहा कि आपको सरकार क्यों नौकरी पर रखे है, सूची कौन बनाएगा। नोडल अधिकारी ने डीएम को तत्कालीन सेक्रेटरी देव शर्मा व लेखपाल मोहित गुप्ता को तत्काल निलंबित करने के निर्देश दिए। गांव के इंद्रपाल, कुलदीप व सुखपाल ने शौचालय न मिलने की शिकायत की। नोडल अधिकारी ने बीडीओ को बेघर ग्रामीणों की सूची बनाकर मुख्यमंत्री आवास आवंटित करने के निर्देश दिए। एसडीएम प्रीती तिवारी से खुले में रह रहे पीड़ितों के लिए तिर्पाल व भोजन की व्यवस्था करने के निर्देश दिए।

गांव के ही शिवरतन वर्मा ने कहा कि दो वर्ष से कृषि भूमि पर दबंग कब्जा किए हैं। कई बार अधिकारियों से शिकायत की, लेकिन कोई कार्रवाई नहीं हुई। प्रमोद कुमार ने कहा कि पट्टा की भूमि पर कब्जा के लिए एक वर्ष से भटक रहे हैं। नोडल अधिकारी ने एसडीएम व सीओ को मौजूद रहकर भूमि पर कब्जा दिलाने के निर्देश दिए। ग्रामीणों को मनरेगा में मजदूरी न मिलने की शिकायत पर नोडल अधिकारी ने डीएम को जाब कार्ड की दूसरी टीम से जांच कराने को कहा। नोडल अधिकारी ने सिचाई विभाग द्वारा बनाए गए परकोपाइन स्पर की तकनीकी जांच कराने को कहा। उन्होंने सिचाई विभाग के अधिशासी अभियंता के मौजूद न होने पर नाराजगी जताई।

----

तहसील के आवास खाली देख एचआरए काटने के निर्देश

नोडल अधिकारी ने तहसील में अभिलेखों का निरीक्षण किया। तहसील में बने आवास खाली देख नाराजगी जताई। उन्होंने तहसील कर्मी नगमा बेगम व अनुराधा से पूछा कि कितने आवास हैं तो बताया गया कि 56 आवास बने हैं। कर्मचारी अपने घरों में रहते हैं। तहसील आवास में क्या भूत रहता है। कर्मचारियों ने कहा कि वीरान आवासों में सर्प और बिच्छू हैं। जिस पर नोडल अधिकारी ने डीएम से तहसील के कर्मचारियों का एचआरए काटने को कहा। नोडल अधिकारी ने राजेपुर राजकीय बालिका विद्यालय का निरीक्षण कर स्टाफ बढ़ाने व सफाई व रंगाई कराने के निर्देश दिए। राजेपुर थाने में लंबित विवेचनाओं का निस्तारण व लावारिस वाहनों को नीलाम करने के निर्देश दिए। एसपी अशोक कुमार मीणा मौजूद रहे।

-----

घटिया निर्माण पर कार्यदायी संस्था ब्लैक लिस्ट

नोएडा अधिकारी ने निर्माणाधीन अग्निशमन केंद्र अमृतपुर का निरीक्षण किया। निरीक्षण में पाया गया कि निर्माण कार्य में घटिया ईंट का उपयोग किया जा रहा है। इस पर नोडल अधिकारी ने नाराजगी जताई और संबंधित कार्यदायी संस्था समाज कल्याण निर्माण निगम को ब्लैक लिस्टेड करने व संबंधित अधिशासी अभियंता को प्रतिकूल प्रविष्टि देने के निर्देश दिए।

Edited By Jagran

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept