This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.
OK

कई शिकायतें लंबित,निस्तारण के लिए दो दिन का समय

जासं इटावा आइजीआरएस पोर्टल पर शिकायतों की समीक्षा में पाया गया कि अभी भी काफी शिकायते

JagranWed, 15 Sep 2021 05:55 PM (IST)
कई शिकायतें लंबित,निस्तारण के लिए दो दिन का समय

जासं, इटावा : आइजीआरएस पोर्टल पर शिकायतों की समीक्षा में पाया गया कि अभी भी काफी शिकायतें विभिन्न विभागों में डिफाल्टर की श्रेणी में लंबित हैं। इस पर जिलाधिकारी श्रुति सिंह ने संबंधित अधिकारियों को निर्देश दिए कि दो दिन के भीतर डिफाल्टर होने वाले संदर्भों का तत्काल निस्तारण किया जाए। विकास भवन के प्रेरणा सभागार में समीक्षा में पाया गया कि सदर तहसीलदार के चार, अधिशासी अभियंता जल निगम के तीन, अधिशासी अभियंता सिचाई जल संसाधन, वरिष्ठ निरीक्षक विविध माप विज्ञान (बांट माप) के यहां दो-दो, अधिशासी अभियंता भोगनीपुर प्रखंड, निचली गंगा नहर, अधिशासी अभियंता विद्युत, उप जिलाधिकारी ताखा, तहसीलदार भरथना, उप निदेशक कृषि, जिला पंचायतराज अधिकारी, खान निरीक्षक, प्रभारी निरीक्षक चौबिया, लवेदी, बलरई, सैफई, परियोजना अधिकारी डूडा, मुख्य चिकित्सा अधीक्षक (पुरुष) एवं अधिशासी अधिकारी नगर पालिका परिषद इटावा के यहां एक-एक शिकायती प़त्र डिफाल्टर श्रेणी में है। जिलाधिकारी ने नाराजगी व्यक्त करते हुए सभी संबंधित अधिकारियों को निर्देशित किया कि जन समस्याओं का निस्तारण प्रदेश सरकार की सर्वोच्च प्राथमिकताओं में से एक है। जनसुनवाई प्रकरण अनिस्तारित/ डिफाल्टर की श्रेणी में कदापि नहीं होने चाहिए। उन्होंने कहा कि शिकायतों का गुणवत्तापूर्वक निस्तारण न होने के कारण, फरियादी के असंतुष्ट होने के कारण संदर्भ वापस आते हैं, यह स्थिति ठीक नही हैं। बैठक में एडीएम जय प्रकाश, डिप्टी कलेक्टर एबी सिंह, सीएमओ डा. भगवानदास, जिला विद्यालय निरीक्षक राजू राणा, डीएसओ सीमा त्रिपाठी, बीएसए उमानाथ, जिला कृषि अधिकारी अभिनंदन सिंह, डीसी एनआरएल बृज मोहन अंबेड सहित अन्य संबंधित जिला स्तरीय अधिकारी उपस्थित रहे।

Edited By Jagran

इटावा में कोरोना वायरस से जुडी सभी खबरे

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!