बैंक में गल्ला व्यापारी के दो लाख रुपये किए पार

संवाद सहयोगी भरथना कस्बा के सरोजिनी रोड स्थित एसबीआई बैंक में रुपये जमा करने आए गल्ला व्

JagranPublish: Fri, 21 Jan 2022 06:51 PM (IST)Updated: Fri, 21 Jan 2022 07:03 PM (IST)
बैंक में गल्ला व्यापारी के दो लाख रुपये किए पार

संवाद सहयोगी, भरथना : कस्बा के सरोजिनी रोड स्थित एसबीआई बैंक में रुपये जमा करने आए गल्ला व्यापारी के दो लाख रुपये उचक्के ने पार कर दिए। चोरी की यह घटना बैंक में लगे सीसी कैमरे में कैद हो गई। पुलिस सीसी कैमरे की फुटेज के आधार पर उचक्के की तलाश में जुटी है। मोहल्ला आजाद रोड निवासी राइस मिल गल्ला व्यापारी प्रदीप कुमार ने बताया कि वह शुक्रवार दोपहर सरोजिनी रोड स्थित भारतीय स्टेट बैंक में अपने नौ लाख रुपये खाता में जमा करने के लिए लाए थे। उन्होंने सारे रुपये अपने बैंक से निकालकर शीशे के काउंटर के ऊपर रखकर बैंक कर्मी से रुपये अपने खाते में जमा करने की बात करने लगे। तभी पीछे से आए एक उचक्के ने काउंटर के ऊपर रखे 9 लाख रुपये में से 2 लाख रुपये (500-500 के नोट) की चार गड्डियां नजर बचाकर पार कर दी। जैसे ही गड्डियों को उठाकर अपने स्वेटर के नीचे छिपा तेज कदम से चलने लगा, वैसे ही वह उसके पीछे दौड़े लेकिन वह तब तक पकड़ से दूर जाकर जवाहर रोड की तरफ भाग गया। रुपये चोरी यह घटना बैंक में लगे सीसी कैमरे में कैद हो गई। घटना की जानकारी मिलते ही एएसपी ग्रामीण सत्यपाल सिंह, सीओ साधूराम, थाना प्रभारी कृष्णलाल पटेल ने बैंक में पहुंचकर पीड़ित की घटना की जानकारी कर सीसी फुटेज से बालक की पहचान कर जांच पड़ताल में जुट गई। एएसपी ग्रामीण ने बताया कि बैंक के अलावा मुख्य मार्गों पर लगे सीसी कैमरे के आधार पर युवक की पहचान की जा रही है। शीघ्र ही वह पुलिस की गिरफ्त में होगा।

--------------

पुलिस ने 20 हजार रुपये वापस कराए

जागरण संवाददाता, इटावा : पुलिस साइबर सेल द्वारा साइबर फ्राड के माध्यम से पीड़ित के बैंक खाते से निकाले गये 40 हजार रुपये में से त्वरित कार्रवाई करते हुए 20 हजार रुपये वापस करा दिए गए। एसएसपी जय प्रकाश सिंह के निर्देश पर साइबर सेल द्वारा यह कार्रवाई की गई है। बताया गया है कि पारस नाथ निवासी रेलवे कालोनी सरायभोपत थाना सिविल लाइन द्वारा 20 दिसंबर को अपने साथ किसी अनजान व्यक्ति द्वारा फोन काल कर विश्वास में लेकर 40 हजार रुपये के साइबर फ्राड के संबंध में एसएसपी जय प्रकाश सिंह को ज्ञापन दिया गया था। इस संबंध में एसएसपी ने घटना की जांच के आदेश साइबर सेल टीम के कांस्टेबल ब्रजेश कुमार गोला, आदित्य देओल द्वारा कार्रवाई करते हुए विभिन्न माध्यमों से साक्ष्य संकलन किया गया और बैंक अधिकारियों से वार्ता करके रुपये वापस कराने का प्रयास किया गया। इस मामले में 21 जनवरी को 20 हजार रुपये वापस कराये गये। इस पर पारस नाथ ने प्रशंसा जतायी और साइबर सेल टीम को विशेष धन्यवाद ज्ञापित किया।

Edited By Jagran

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept