विधानसभा चुनाव 2022 : भाजपा कार्यालय में चुनावी मंथन, सपा -बसपा एवं कांग्रेस कार्यालय परिसर में सन्नाटा

उत्तर प्रदेश में विधानसभा चुनाव का बिगुल बजते ही देवरिया जिले में चुनावी सरगर्मी बढ़ गई। आठ जनवरी को चुनाव आयोग की घोषणा पर सभी दलों की निगाह थी। भारतीय जनता पार्टी के कार्यालय में चुनावी रणनीति को लेकर माथापच्ची होती रही।

Navneet Prakash TripathiPublish: Sun, 09 Jan 2022 09:50 AM (IST)Updated: Sun, 09 Jan 2022 09:50 AM (IST)
विधानसभा चुनाव 2022 : भाजपा कार्यालय में चुनावी मंथन, सपा -बसपा एवं कांग्रेस कार्यालय परिसर में सन्नाटा

गोरखपुर, जागरण संवाददाता। उत्तर प्रदेश में विधानसभा चुनाव का बिगुल बजते ही देवरिया जिले में चुनावी सरगर्मी बढ़ गई। आठ जनवरी को चुनाव आयोग की घोषणा पर सभी दलों की निगाह थी। भारतीय जनता पार्टी के कार्यालय में चुनावी रणनीति को लेकर माथापच्ची होती रही तो दूसरी तरफ समाजवादी पार्टी तथा बहुजन समाज पार्टी एवं कांग्रेस के के जिला कार्यालय में सन्नाटा पसरा रहा।

भाजपा कार्यालय में सुबह से देर शाम तक चला चुनावी मंथन

औरा चौरी स्थित भारतीय जनता पार्टी के जिला कार्यालय में सुबह से शाम तक चुनाव को लेकर मंथन होता रहा। भाजपा जिलाध्यक्ष अंतर्यामी सिंह, जिला प्रभारी सुनील गुप्ता, महामंत्री श्रीनिवास मणि, प्रमोद शाही, रविंद्र कौशल, रमेश सिंह सैंथवार,अरुण सिंह, गंगा कुशवाहा पार्टी कार्यकर्ताओं के साथ विधानसभा चुनाव में पार्टी की रणनीति एवं बूथ स्तर तक किस तरह से चुनाव प्रचार किया जाए इसको लेकर मंथन कर रहे थे। जिलाध्यक्ष सिंह ने प्रचार के तरीको को देखते हुए इंटरनेट मीडिया टीम को फोन पर दिशा निर्देश दे रहे थे। मीडिया प्रभारी अंबिकेश पांडेय चुनाव आयोग के प्रेस कॉन्फ्रेंस में उभर कर आ रही बातों को आपस में साझा करते रहे। बीच-बीच में कार्यकर्ताओं का फोन आने पर चुनाव की तिथि के बारे में भी जानकारी दे रहे थे। कार्यालय के बाहर बरामदे में खड़े भारतीय मजदूर संघ के अध्यक्ष डा. नंदलाल पाठक बूथ स्तर तक पार्टी की रणनीति एवं चुनाव प्रचार के नए तरीकों पर चर्चा कर रहे थे।

सपा कार्यालय में बंद मिला ताला

दूसरी तरफ बांस देवरिया मोहल्ला स्थित समाजवादी पार्टी के जिला कार्यालय में ताला लगा रहा। दिन में करीब दो बजे तक कार्यकर्ताओं का आना-जाना रहा। चुनाव की तिथि को लेकर जिलाध्यक्ष डा.दिलीप यादव व अशोक यादव कार्यकर्ताओं से बात कर रहे थे। लेकिन क्षेत्र में काम के सिलसिले में दोपहर बाद निकल गए। उसके बाद कार्यालय बंद हो गया। जिससे शाम को सन्नाटा रहा। समाजवादी पार्टी के जिलाध्यक्ष डा.दिलीप यादव कहते हैं कि दोपहर बाद पार्टी के काम से क्षेत्र में चले गए। मौसम खराब होने के कारण कार्यकर्ता घर चले गए। इसलिए कार्यालय दोपहर बाद बंद हो गया। कार्यालय रोज सुबह खुलता है। पार्टी चुनाव को लेकर पूरी तौर पर तैयार है।

बसपा कार्यालय पर भी छाया रहा सन्‍नाटा

शाम करीब 5:30 बजे टाउनहाल स्थित बहुजन समाज पार्टी कार्यालय में ताला लगा हुआ था। दोपहर में कुछ कार्यकर्ता आए थे। लेकिन मौसम खराब होने के चलते कार्यकर्ता ताला लगा कर चले गए। कांग्रेस कार्यालय का भी रहा सुबह कार्यालय में भी दोपहर तक चहल-पहल रही। चुनाव को लेकर जयदीप मणि, भरत मणि, विजय रोशन मल्ल, धर्मेंद्र पांडेय आपस में बहस कर रहे थे। चुनाव की तिथि को लेकर अटकल लगा रहे थे। लेकिन दोपहर बाद पार्टी कार्यालय पर सन्नाटा छा गया। करीब 5:45 बजे 12 कार्यकर्ता पहुंचे लेकिन कार्यालय में ताला लगा दे लौट गए। जिलाध्यक्ष राम जी गिरी ने कहा कि पार्टी की चुनावी रणनीति को लेकर मैं क्षेत्र में दौरा कर रहा था मौसम खराब था। इस वजह से कार्यालय बंद था।

Edited By Navneet Prakash Tripathi

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept