अफवाह पर 'वार' को पुलिस का डिजिटल वालंटियर 'प्रहार'

हेमराज कश्यप चित्रकूट निर्वाचन आयोग ने इस बार विधानसभा चुनाव में रैलियों व जुलूस पर रोक लग

JagranPublish: Fri, 21 Jan 2022 11:12 PM (IST)Updated: Fri, 21 Jan 2022 11:16 PM (IST)
अफवाह पर 'वार' को पुलिस का डिजिटल वालंटियर 'प्रहार'

हेमराज कश्यप, चित्रकूट

निर्वाचन आयोग ने इस बार विधानसभा चुनाव में रैलियों व जुलूस पर रोक लगाई है। राजनीतिक दल इंटरनेट मीडिया में प्रचार कर रहे हैं। ऐसे में अराजकतत्व की इस प्लेटफार्म में एक छोटी सी झूठी सूचना और अफवाह बड़े बवाल का सबब बन सकती है। इंटरनेट मीडिया पर अफवाहों के 'वार' पर पुलिस का डिजिटल वालंटियर का 'प्रहार' होगा। जिले में करीब सात हजार डिजिटल वालंटियर तैयार किए गए हैं। जो 'सी प्लान' के तहत प्रत्येक थाना क्षेत्र में जोड़े गए हैं।

निष्पक्ष और निर्भीक जनतंत्र की कवायद में जुटी पुलिस की इंटरनेट मीडिया पर कड़ी पहरेदारी है। पुलिस कार्यालय में आइटी सेल पहले से खुली है साथ की प्रत्येक थाने को सी-प्लान से जोड़ा गया है। इस प्लान में थाना क्षेत्र के प्रत्येक गांव से दस-दस डिजिटल वालंटियर बनाए गए हैं। जिले के करीब साढ़े छह सौ गांव में सात हजार डिजिटल वालंटियर तैयार किए गए हैं। जो इंटरनेट मीडिया की अफवाह की सूचना को पुलिस से शेयर करेंगे। साथ ही बीट सिपाही और पुलिस मित्र को भी सक्रिय करते हुए अफवाहों का तत्काल खंडन करने और सच को सामने लाने की जिम्मेदारी सौंपी गई है। ताकि माहौल खराब करने का प्रयास करने वालों के विरुद्ध कठोर नियमानुसार कार्रवाई की जा सके।

डिजिटल प्लेटफार्म पर है कड़ी नजर

पुलिस उपाधीक्षक नगर शीतला प्रसाद पांडेय कहते हैं कि चुनाव प्रचार को विभिन्न राजनीतिक दल डिजिटल प्लेटफार्म का सहारा ले रहे हैं तो सोशल समेत इंटरनेट मीडिया के अन्य प्लेटफार्म की निगरानी बड़ी चुनौती है। देखने में आता है कि कुछ लोग माहौल बिगाड़ने के लिए भ्रामक, अपुष्ट, मनगढ़ंत और सनसनीखेज फोटो, वीडियो व संदेश को वायरल करते हैं। उनका लक्ष्य किसी जाति, धर्म, व्यक्ति, समुदाय विशेष को अपमानित कर सामाजिक सौहार्द बिगाड़ना होता है। ऐसे लोगों के विरुद्ध कार्रवाई करने और अफवाहों को रोकने के लिए डिजिटल वालंटियर तैयार किए गए हैं। जिसमें संभ्रांत नागरिक, समाजसेवी, ग्राम प्रधान और जागरूक युवा समेत ऐसे लोगों को शामिल किया गया है जिनकी समाज में आम शोहरत अच्छी है।

डिजिटल वालंटियर का यह है काम

डिजिटल वालंटियर समाज से बेहतर संवाद बनाने के काम के साथ किसी तरह की घटना की सूचना देने, अफवाह का खंडन करने, संदिग्ध लोगों की जानकारी देने, अवैध शराब, गांजा तस्करी, अपराध में संलिप्त लोगों की सूचना मुहैया कराएंगे। यह नजर में आंकड़े

- जिले में गांव - 653

- जिले में थाना - 10

- कुल वालंटियर - 6530

Edited By Jagran

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept