कर्ज माफी और किसान आयोग के गठन की मांग

खुर्जा में भाकियू भानू कार्यकर्ताओं ने मांगों को लेकर तहसील पर प्रदर्शन किया। जिसके बाद उन्होंने प्रधानमंत्री संबोधित ज्ञापन एसडीएम को सौंपा। वहीं मांगों के पूरा नहीं होने पर धरना-प्रदर्शन की चेतावनी दी।

JagranPublish: Fri, 26 Nov 2021 06:53 PM (IST)Updated: Fri, 26 Nov 2021 06:53 PM (IST)
कर्ज माफी और किसान आयोग के गठन की मांग

बुलंदशहर, जागरण टीम। खुर्जा में भाकियू भानू कार्यकर्ताओं ने मांगों को लेकर तहसील पर प्रदर्शन किया। जिसके बाद उन्होंने प्रधानमंत्री संबोधित ज्ञापन एसडीएम को सौंपा। वहीं मांगों के पूरा नहीं होने पर धरना-प्रदर्शन की चेतावनी दी।

शुक्रवार को भारतीय किसान यूनियन भानू के कार्यकर्ता एकत्र होकर तहसील पहुंच गए। जहां उन्होंने अपनी मांगों को लेकर चर्चा की। उन्होंने कहा कि भारत का अन्नदाता काफी परेशान है। किसान विरोधी नीतियों के साथ वह आर्थिक असमानता का शिकार हो गया है। जिसमें सुधार के लिए किसान आयोग के गठन की आवश्यकता है। जिसमें अध्यक्ष समेत अन्य सदस्य किसान ही रखे जाएं। वहीं किसानों के उत्थान के लिए उनके सभी कर्ज माफ होने चाहिए। उन्होंने अपनी मांगों को लेकर तहसील पर प्रदर्शन किया। जिसके बाद प्रधानमंत्री संबोधित ज्ञापन एसडीएम लवी त्रिपाठी को सौंपा। इसमें संगठन के युवा जिलाध्यक्ष अजय ठाकुर, कपिल राघव, गौरव तोमर, मनोज शर्मा, नीरज चौहान, प्रभात, दीपक शर्मा, लोकेश राघव, केपी सिंह, करन आदि रहे। अंडरपास बनवाने की भाकियू किसान शक्ति ने की मांग

अरनिया। अलीगढ़-गाजियाबाद हाईवे के बाईपास पर गांव घटाल के निकट अंडरपास बनाने की मांग भाकियू किसान शक्ति के कार्यकर्ताओं ने की है। साथ ही उन्होंने हाईवे के परियोजना निदेशक के नाम पत्र दिया है। शुक्रवार को भारतीय किसान यूनियन किसान शक्ति के कार्यकर्ता एकत्र होकर घटाल और अरनिया के बीच में निर्माणधीन अलीगढ़-गाजियाबाद हाईवे के बाईपास पर पहुंच गए। जहां उन्होंने बताया कि बाईपास को क्रास करते हुए अरनिया, घटाल, नगर, सूरतपुर नगलिया आदि गांवों के ग्रामीणों का संपर्क मार्ग है। यह मार्ग टीएचडीसी के बाईपास के कारण अवरूद्ध हो जाएगा। जिस कारण इस स्थान पर अंडरपास बनना जरूरी है। जिससे ग्रामीणों को आने-जाने में परेशानियों का सामना ना करना पड़े। वहीं ग्रामीण हादसों का शिकार होने से भी बच सकें। उन्होंने अपनी मांग को लेकर हाईवे के परियोजना निदेशक के नाम पत्र दिया है। इसमें बिट्टी गौड़, गुड्डू चौहान, राजवीर, मोहन सिंह, गजराज सिंह, राजबहादुर, सुभाषचंद्र, रामपाल, राधेश्याम, जय सिंह, समय सिंह आदि रहे।

Edited By Jagran

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept