पहली डोज लगाने में जनपद को प्रदेश में मिली 25वीं रैंक

जिले में 1972843 लोगों को कोविड का लग चुकी है पहली डोज दो दिन में लोगों को पहली डोज देकर शत प्रतिशत पूरा करें लक्ष्य डीएम

JagranPublish: Fri, 21 Jan 2022 11:18 PM (IST)Updated: Fri, 21 Jan 2022 11:18 PM (IST)
पहली डोज लगाने में जनपद को प्रदेश में मिली 25वीं रैंक

जासं,बस्ती : जिले में 1972843 लोगों को कोरोना की पहली डोज लगाकर 98.17 प्रतिशत की उपलब्धि हासिल कर जनपद को प्रदेश में 25वीं रैंक प्राप्त हुआ है।

जिलाधिकारी सौम्या अग्रवाल ने इस उपलब्धि पर टीकाकरण में लगे सभी अधिकारी व कर्मचारी को बधाई दी है। शुक्रवार को वह आनलाइन बैठक कर रही थी। निर्देश दिया कि अगले दो दिनों में सभी लोगों को प्रथम डोज देकर शतप्रतिशत लक्ष्य हासिल करें। जिले में 1238057 लोगों को दूसरी डोज तथा 9811 प्रिकाशन डोज लगाकर कुल 3220711 अट्ठारह प्लस लोगों का टीकाकरण किया गया है।

राजस्व, विकास, पुलिस विभाग के फ्रंटलाइन वर्कर जिनको दूसरी डोज लगे हुए नौ माह हो गए है, उन्हें प्रिकाशन डोज लगवाना सुनिश्चित करें। 50 प्रतिशत आंगनवाड़ी वर्कर को प्रिकाशन डोज लग पाया है। शतप्रतिशत आंगनबाड़ी को प्रिकाशन डोज लगाने का निर्देश दिया है।

समीक्षा में पाया कि टीकाकरण से छूटे हुए लोगों का ड्यूलिस्ट अभी भी अपूर्ण है। लगभग 60000 के सापेक्ष केवल 23613 लोगों की ड्यूलिस्ट तैयार हो पाई है। सभी 11 नगर निकाय क्षेत्र में सघन अभियान चलाकर ड्यूलिस्ट तैयार करने के लिए निर्देशित किया है। कहा है कि 14 प्लस छात्र-छात्राओं का विवरण जूनियर हाईस्कूल से भी प्राप्त कर लिया जाए। सभी एबीएसए दो दिन के भीतर सूची उपलब्ध कराएं।

बहादुरपुर, परशुरामपुर, विक्रमजोत तथा हर्रैया ब्लाक में तैयार ड्यूलिस्ट पर संतोष व्यक्त किया है। यहां निर्धारित लक्ष्य के अनुसार ड्यूलिस्ट तैयार की गई है। रामनगर में 6328 के सापेक्ष 432, सल्टौआ में 7018 के सापेक्ष 2349, रुधौली में 2100 के सापेक्ष 950, साऊंघाट में 4448 के सापेक्ष 1471 ई-ड्यूलिस्ट तैयार की गई है, जो काफी कम है। उन्होंने इन ब्लाकों तथा नगर पंचायतों में दोबारा सर्वे कराने का निर्देश दिया है।

बेसिक शिक्षा अधिकारी जगदीश शुक्ल ने बताया कि सभी बीआरसी के माध्यम से 15882 पहली डोज वाले लोगों को दूसरी डोज लगवाने के लिए टेलीफोन कराया गया है, इसमें से 1026 ने दूसरी डोज लगवा लिया है। 5615 लोगों ने टेलीफोन करने पर कोई जवाब नहीं दिया।

जिलाधिकारी ने सभी एमओआइसी को निर्देश दिया है कि कोरोना पाजिटिव पाए गए प्रत्येक केस के संपर्क में आए 35 से 40 लोगों का कोरोना जांच अवश्य कराएं। डा. राजेश कुमार प्रजापति, एसीएमओ डा. फखरेयार हुसैन, डा. सीके वर्मा, डीडीओ अजीत श्रीवास्तव, उप निदेशक कृषि अनिल कुमार, डिप्टी कलेक्टर सूरज यादव, डीएसओ सत्यवीर सिंह, बीएसए जगदीश शुक्ल, डीआइओएस डीएस यादव, कार्यक्रम अधिकारी सावित्री देवी, डीपीआरओ शिवशंकर सिंह, ईओ नगर पालिका अखिलेश त्रिपाठी, मनीष सिंह, यूनिसेफ के आलोक राय, डब्लूएचओ के डा. स्नेहिल मौजूद रहे।

Edited By Jagran

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept