पीलीभीत की पूरनपर सीट से सपा ने पूर्व विधायक की जगह उनकी बहू को बनाया प्रत्‍याशी, आखिर क्‍यों बदला टिकट

उत्‍तर प्रदेश विधानसभा चुनाव 2022 सपा प्रत्याशी अपने समर्थकों के साथ नामांकन कराने के लिए निकलीं। टनकपुर रोड पर लगे बैरियर पर ही उनकी गाड़ी रुकवा दी गई। इसके बाद सपा प्रत्याशी अपने प्रस्तावक व समर्थक के साथ नामांंकन कराने के लिए पैदल चलकर कलक्ट्रेट स्थित नामांकन कक्ष में पहुंचीं।

Vivek BajpaiPublish: Sat, 29 Jan 2022 03:05 PM (IST)Updated: Sat, 29 Jan 2022 03:05 PM (IST)
पीलीभीत की पूरनपर सीट से सपा ने पूर्व विधायक की जगह उनकी बहू को बनाया प्रत्‍याशी, आखिर क्‍यों बदला टिकट

बरेली, जेएनएन। पीलीभीत की पूरनपुर (सुरक्षित) विधानसभा क्षेत्र से समाजवादी पार्टी की उम्मीदवार आरती महेंद्र ने अपना नामांकन कराया है। नामांकन के दौरान कलक्ट्रेट परिसर में कड़ी सुरक्षा रही। इस सीट से विधायक रहे पीतमराम का स्वास्थ्य खराब होने के कारण उन्हीं के आग्रह पर समाजवादी पार्टी के नेतृत्व ने उनकी पुत्रवधू आरती महेंद्र को टिकट दिया है। आरती इससे पहले जिला पंचायत की अध्यक्ष रह चुकी हैं।

शनिवार को पूर्वाह्न सपा प्रत्याशी अपने समर्थकों के साथ नामांकन कराने के लिए निकलीं। टनकपुर रोड पर लगे बैरियर पर ही उनकी गाड़ी रुकवा दी गई। इसके बाद सपा प्रत्याशी अपने प्रस्तावक व समर्थक के साथ नामांंकन कराने के लिए पैदल चलकर कलक्ट्रेट परिसर में स्थित नामांकन कक्ष में पहुंचीं। उन्होंने रिटर्निंग अफसर के समक्ष अपने नामांकन प्रपत्र प्रस्तुत किए। नामांकन कराने के बाद वह बाहर निकलकर समर्थकों से मिलीं और इसके बाद चुनावी जनसंपर्क करने के लिए पूरनपुर रवाना हो गईं। अब तक सिर्फ एक ही प्रत्याशी का नामांकन दाखिल हुआ है।

पीलीभीत जिले की सीमाओं पर देर रात हुई चेकिंग: विधानसभा चुनाव के मद्देनजर गठित निगरानी टीमों ने अपना काम शुरू कर दिया है। ये टीमें संबंधित विधानसभा क्षेत्रों के आरओ के निर्देशन में कार्य कर रही हैं। शुक्रवार की रात सदर तहसील के उप जिलाधिकारी व बरखेड़ा विधानसभा के आरओ योगेश गौड़ ने नवाबगंज व मझोला बार्डर पर चेकिंग अभियान चलाया। इस दौरान उधर से आने जाने वाले वाहनों की सघन तलाशी ली गई। हालांकि किसी वाहन में कोई आपत्तिजनक वस्तु नहीं मिली। उधर, पूरनपुर विधानसभा के आरओ ने टीम के साथ शाहजहांपुर बार्डर पर पहुंचकर वाहनों की चेकिंग काफी देर तक की। जिला निर्वाचन अधिकारी, डीएम पुलकित खरे के अनुसार ये टीमें मतदान तिथि तक लगातार भ्रमण करते हुए जिले की सीमाओं पर वाहनों की चेकिंग करेंगी। उन्होंने कहा कि विधानसभा निर्वाचन प्रक्रिया संपन्न होने तक आदर्श आचार संहिता का कड़ाई से पालन सुनिश्चित कराया जाएगा।

Edited By Vivek Bajpai

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept