This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.
OK

शाहजहांपुर में तांत्रिक की हैवानियत, निसंतान महिला के मुंह में ठूसा कपड़ा, गर्म चिमटे से नाजुक अंगों को दागकर की हत्या

तंत्र विद्या के नाम पर निसंतान महिला से हैवानियत की गई। ससुराल वालों की शह पर तांत्रिक ने उसे कई जगह गर्म चिमटे से दागा। निजी अंगों को जला दिया। वह बचने के लिए चीखी तो मुंह में कपड़ा ठूंस दिया।

Ravi MishraMon, 01 Mar 2021 01:42 PM (IST)
शाहजहांपुर में तांत्रिक की हैवानियत, निसंतान महिला के मुंह में ठूसा कपड़ा, गर्म चिमटे से नाजुक अंगों को दागकर की हत्या

बरेली, जेएनएन। तंत्र विद्या के नाम पर निसंतान महिला से हैवानियत की गई। ससुराल वालों की शह पर तांत्रिक ने उसे कई जगह गर्म चिमटे से दागा। निजी अंगों को जला दिया। वह बचने के लिए चीखी तो मुंह में कपड़ा ठूंस दिया। क्रूरता से हारी बेबस महिला की मौके पर ही मौत हो गई। रविवार दोपहर मायके वाले पहुंचे तो पांच आरोपितों पर हत्या का मुकदमा दर्ज कराया। इनमें तीन को गिरफ्तार कर लिया गया है।

क्षेत्र के कहमारा गांव निवासी सर्वेश कुमार की पत्नी शारदा देवी को शादी के 13 साल बाद भी कोई संतान नहीं हुई थी। डाक्टरों को दिखाने के बजाय ससुराल वालों ने हरदोई निवासी एक तांत्रिक को बुलाना शुरू कर दिया। शनिवार को पूर्णिमा की रात उसने विशेष तंत्र विद्या करने की बात कही। रात को वह पहुंचा तो ससुराल वालों के दबाव पर शारदा देवी हवन करने के लिए बैठ गईं।

आरोप है कि उसने कहा कि शारदा पर कोई अप्रिय साया है, इसी कारण संतान नहीं हो रही। इसी बहाने उसने शारदा का शरीर गर्म चिमटे से दागना शुरू कर दिया। वह बचने के लिए चीखीं तो डंडे से पीटा, मुंह में कपड़ा ठूंस दिया। संतान के लालच में अंधे ससुराल वाले भी उस पाखंडी की बात पर भरोसा कर शारदा को जकड़े रहे। तांत्रिक ने उनके निजी अंगों को भी चिमटे से दागा। वह छटपटाती रहीं, मगर बचने का कोई मौका नहीं मिला और उनकी वहीं मौत हो गई।

हालात खराब होता देख तांत्रिक यह कहकर खिसक गया कि कुछ देर बाद ठीक हो जाएगी। ससुराल वाले इसी इंतजार में रविवार सुबह 10 बजे तक शव कमरे में रखे रहे। इस बीच आसपास के लोगों को भनक लगी तो उन्होंने पीलीभीत के बिलसंडा के मार गांव में रहने वाले शारदा के भाई मुनीश कुमार को फोन किया। दोपहर को वह पहुंचे तो देखा कि शारदा के शरीर पर एक दर्जन से ज्यादा जगह जलाए जाने व चोट के निशान थे।

बगल में अधजले कपड़े पड़े थे। उनकी सूचना पर प्रभारी निरीक्षक कुंवर बहादुर सिंह पहुंचे और आरोपित पति सर्वेश, उसके भाई मुनीश, पिता वटेश्वर को गिरफ्तार कर लिया। सर्वेश का दूसरा भाई दुर्गेश व तांत्रिक फरार है। एसपी एस आनंद का कहना है कि तांत्रिक का नाम शारदा के मायके व ससुराल वालों को नहीं पता। उसकी पहचान की जा रही। 

बरेली में कोरोना वायरस से जुडी सभी खबरे

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!