कोविड निगेटिव रिपोर्ट होने पर ही रुहेलखंड विवि के दीक्षा समारोह में शामिल हो सकेंगे छात्र

बढ़ते कोरोना संक्रमण के मद्देनजर रुहेलखंड विश्वविद्यालय का 19वां दीक्षा समारोह 27 जनवरी को आनलाइन आयोजित होगा। समारोह में जिन छात्रों को मेडल मिलना है उन्हें 48 से 72 घंटे पहले जांच कराकर कोविड निगेटिव रिपोर्ट दिखाने व मास्क लगा होने पर ही विश्वविद्यालय में प्रवेश मिलेगा।

JagranPublish: Fri, 21 Jan 2022 08:22 PM (IST)Updated: Fri, 21 Jan 2022 08:22 PM (IST)
कोविड निगेटिव रिपोर्ट होने पर ही रुहेलखंड विवि के दीक्षा समारोह में शामिल हो सकेंगे छात्र

जासं, बरेली: बढ़ते कोरोना संक्रमण के मद्देनजर रुहेलखंड विश्वविद्यालय का 19वां दीक्षा समारोह 27 जनवरी को आनलाइन आयोजित होगा। समारोह में जिन छात्रों को मेडल मिलना है, उन्हें 48 से 72 घंटे पहले जांच कराकर कोविड निगेटिव रिपोर्ट दिखाने व मास्क लगा होने पर ही विश्वविद्यालय में प्रवेश मिलेगा। कुलसचिव डा. राजीव कुमार ने शुक्रवार को इसके निर्देश जारी किए हैं। आनलाइन होने वाले दीक्षा समारोह में कुल 88 छात्रों को मेडल दिया जाना है। दीक्षा समारोह आनलाइन आयोजित करने की स्वीकृति राजभवन से मिलने के बाद विश्वविद्यालय में अवकाश के बावजूद भी तैयारियां चल रही हैं। कुलसचिव ने बताया कि कोविड गाइडलाइन के अनुसार कार्यक्रम आयोजित किया जाएगा। एक हाल में अधिकतम 100 लोगों को शामिल होने की अनुमति है। ऐसे में विश्वविद्यालय के एमबीए सभागार के अलावा एमबीए विभाग के चार कमरों में छात्रों के बैठने की अतिरिक्त व्यवस्था की गई है, जहां प्रोजेक्टर लगाया जाएगा। टापर छात्र यहीं पर कुलाधिपति आनंदीबेन पटेल को सुन व देख सकेंगे। कार्यक्रम में कुल 150 लोग ही शामिल होंगे। कुलपति प्रो. केपी सिंह ने विवि के कंप्यूटर साइंस विभाग के शिक्षकों को सेटअप तैयार करने की जिम्मेदारी सौंपी है।

---

छात्रों के टीकाकरण में शिथिलता पर 23 स्कूलों को नोटिस

जासं, बरेली: कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए माध्यमिक शिक्षा विभाग की ओर से स्कूलों में किशोरों का टीकाकरण अभियान चलाया जा रहा है। डीआइओएस डा. मुकेश कुमार सिंह ने बताया कि इस अभियान के परिणामस्वरूप लगभग 90 फीसद किशोरों का टीकाकरण हो गया है। जिले के 18 स्कूलों द्वारा जूम एप पर प्रतिभाग नहीं करने और कोविड टीकाकरण में लापरवाही पर उनसे स्पष्टीकरण मांगा गया है। इसके अलावा पांच स्कूलों में टीकाकरण बेहद कम पाए जाने पर छात्र पंजीकरण रजिस्टर, उपस्थिति रजिस्टर, टीकाकरण करा चुके छात्रों की सूची, टीकाकरण से बाकी छात्र संख्या सहित और कई रजिस्टर मांगे गए हैं। नोटिस के मुताबिक 22 जनवरी को दो शिक्षक कार्यालय पहुंच कर वस्तु स्थिति से अवगत कराएंगे। डीआइओएस डा. मुकेश कुमार सिंह ने कहा कि लापरवाही पाए जाने पर ऐसे स्कूलों के विरुद्ध महामारी अधिनियम और मान्यता नियमों के तहत कार्रवाई की जाएगी।

Edited By Jagran

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept