Shahjahanpur Weather Forecast : पहाड़ों पर बर्फबारी से कांपा शाहजहांपुर, गिरा पारा, मौसम विभाग ने जारी किया अलर्ट

Shahjahanpur Weather News Update Today शाहजहांपुर में पहाड़ों पर बर्फवारी से मैदानी क्षेत्र शीतलहर से ठिठुर उठे। रविवार को शाहजहांपुर समेत समीपवर्ती क्षेत्रों में पूरे दिन धूप नहीं निकली। इससे दिन में रात सरीखी ठंडक का अहसास रहा।

Ravi MishraPublish: Mon, 17 Jan 2022 06:52 AM (IST)Updated: Mon, 17 Jan 2022 06:52 AM (IST)
Shahjahanpur Weather Forecast : पहाड़ों पर बर्फबारी से कांपा शाहजहांपुर, गिरा पारा, मौसम विभाग ने जारी किया अलर्ट

बरेली, जेएनएन। Shahjahanpur Weather News Update Today : शाहजहांपुर में पहाड़ों पर बर्फवारी से मैदानी क्षेत्र शीतलहर से ठिठुर उठे। रविवार को शाहजहांपुर समेत समीपवर्ती क्षेत्रों में पूरे दिन धूप नहीं निकली। इससे दिन में रात सरीखी ठंडक का अहसास रहा। दिन का पारा 11.3 डिग्री सेल्सियस पर पहुंच गया। जो सीजन में सबसे कम है। मौसम विज्ञानियों ने आगामी दो दिनों तक बादलों के बीच शीतलहर व कोहरे का अलर्ट जारी किया है।

रविवार को तड़के से ही बर्फीली हवाओं ने लोगों के कदम घरों में रोक दिए। जरूरी काम से निकले लोगों को सर्दी से बचाव को तमाम जतन करने पड़े। सार्वजनिक स्थलों पर रहने वाले लोगों को सर्दी से बचाव को दिन में अलाव जलाने को विवश होना पड़ा। घरों में भी लोगों ने हीटर, अंगीठी व लकड़ी जलाकर तापमान बढ़ाया। दिन भर धूप को भी लोग तरसते रहे। नतीजतन अधिकतम तापमान 16.7 डिग्री सेल्सियस से घटकर 11.3 डिग्री सेल्सियस पर आ गया। न्यूनतम तापमान 5.9 डिग्री सेल्सियस रिकार्ड किया गया।

गिरा पारा, रिकार्ड हुआ तापमान  

रविवार को अधिकतम तापमान में रिकार्ड 5.4 डिग्री सेल्सियस की गिरावट दर्ज हुई। जो कि अब तक का सर्वाधिक है। नौ जनवरी को अधिकतम तापमान 13 डिग्री था। जो 10 जनवरी को 13.3 डिग्री पर पहुंच गया। लेकिन 16 जनवरी को दिन का अधिकतम तापमान 11.3 डिग्री सेल्सियस पर पहुंच गया। जो कि सीजन में सबसे कम है।

- 14.4 किमी प्रति घंटा की रफ्तार से चली हवा

बदरीयुक्त मौसम के बीच 14.4 किमी प्रति घंटी की गति से चली बर्फीली हवाओं से लोग सिहर गए। उन्हें शीतलहर नस्तर की तरह चुभती रही। इससे खासकर वृद्धों व बच्चों को परेशानी हुई। खांसी, जुकाम, बुखार से परेशान लोगों को चिकित्सकों की शरण लेनी पड़ी।

मौसम विभाग ने जारी किया अलर्ट

भारत मौसम विभाग की ओर जारी अलर्ट में बादलों के साथ कोहरे की संभावना जताई है। स्थानीय ग्रामीण कृषि मौसम इकाई के मौसम पर्यवेक्षक आशीर्वाद गौतम ने दो दिन तक आंशिक असर रहने के संकेत दिए है। कृषि विज्ञान प्रभारी डा. एनसी त्रिपाठी ने किसानों को फसलों में हल्की सिंचाई की सलाह दी है।

निचले क्षोभमंडल में स्थिरता बढ़ने के कारण रात्रिकालीन कोहरे का घनत्व बढ़ेगा। दो दिन तक तक अति सघन कोहरा का भी प्रभाव रहेगा। इससे न्यूनतम दृश्यता 10 से 50 मीटर तक पहुंच जाएगी। डा. अतुल कुमार सिंह, मौसम विज्ञानी

Edited By Ravi Mishra

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept