पीलीभीत में स्वास्थ्य कर्मी मिल रहे कोरोना संक्रमित, जिले में 77 नए मरीज मिले

जासं बरेली पीलीभीत जिले में कोरोना के रोगी लगातार बढ़ रहे हैं। चिंताजनक बात इसमें बड़ी संख्या स्वास्थ्य कर्मियों का होना है।

JagranPublish: Sun, 23 Jan 2022 05:09 PM (IST)Updated: Sun, 23 Jan 2022 05:09 PM (IST)
पीलीभीत में स्वास्थ्य कर्मी मिल रहे कोरोना संक्रमित, जिले में 77 नए मरीज मिले

जासं, बरेली : पीलीभीत जिले में कोरोना के रोगी लगातार बढ़ रहे हैं। चिंताजनक बात इसमें बड़ी संख्या स्वास्थ्य कर्मियों का भी होना है। जिले में विभिन्न स्थानों पर कोरोना के 77 नए मरीज मिले हैं। इससे जिले में कोरोना संक्त्रमित मरीजों की संख्या बढ़कर 716 हो गई है।

मुख्य चिकित्साधिकारी डा. आलोक कुमार के अनुसार उनके कार्यालय में अर्बन चिकित्साधिकारी, कंप्यूटर आपरेटर, टीएसयू कर्मचारी, पूर्व में संक्रमित पाए गए कंप्यूटर आपरेटर की पत्‍‌नी और बच्चा भी जाच में कोरोना संक्रमित निकले हैं। इनके अलावा सीएचसी बरखेड़ा में एक कर्मचारी की रिपोर्ट कोरोना पाजिटिव आई है। पुलिस लाइन व नकटादाना बिजलीघर में तीन तीन लोग संक्रमित मिले हैं। इनके अलावा बल्लभ नगर, अशोक कालोनी, बेनहर पब्लिक स्कूल, अवध नगर, मुहल्ला कबीर खा, साहूकारा में तीन-तीन तथा सुभाष नगर, आवास विकास कालोनी, मुहल्ला तुलाराम, ग्राम नावकूड़, बिठौरा कला, बरखेड़ा कस्बे में वार्ड संख्या नौ व दो, ग्राम बुहिता, मुगलाखेड़ा, उगनपुर, सूरजपुर, भिकारीपुर, डाग व कैंच में भी एक- एक व्यक्ति कोरोना संक्रमित पाया गया। सीएमओ के मुताबिक इन सभी मरीजों को मेडिकल किट प्रदान करके होम आइसोलेट कराया जाएगा। साथ ही संक्रमितों के संपर्क में आने वाले लोगों की कोरोना जाच के लिए सैंपल लेन टीमें रवाना की जा रही हैं। उन्होंने कहा कि संक्रमण को देखते हुए लोग घरों से अनावश्यक न निकलें। जरूरी होने पर ही कोविड दिशा-निर्देशों का पालन करते हुए जाएं। लौटकर भी हाथ, पैर, मुंह अच्छी तरह साबुन से साफ करके ही घर के भीतर जाएं। इससे पूरा परिवार सुरक्षित रहेगा। उन्होंने स्वास्थ्य कर्मियों से भी अपील की कि है कि मरीज का परीक्षण करते समय पूरी सावधानी बरतें ताकि वे संक्रमित न होने पाएं।

गौर तलब है कि पूरे मंडल में कोरोना का संक्रमण तेज गति से फैल रहा है। गनीमत यही है कि इस बार संक्रमण पहले की तरह घातक नहीं है और मरीज घर पर ही रहकर स्वस्थ हो जा रहे हैं। बहुत कम ही मरीजों को अस्पताल में भर्ती कराने क जरूरत पड़ रही है।

Edited By Jagran

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept