कांग्रेस ने जारी की प्रत्‍याशियों की तीसरी सूची, बिथरी चैनपुर से भाजपा की बागी अल्‍का सिंह को बनाया उम्‍मीदवार

कांग्रेस ने कैंट विधानसभा सीट से पहले पूर्व मेयर सुप्रिया ऐरन को अपना प्रत्‍याशी घोषित किया था लेकिन उन्‍होंने कांग्रेस छोड़कर सपा की सदस्‍यता ग्रहण कर ली थी। सपा ने उन्‍हें कैंट से प्रत्‍याशी घोषित कर दिया है। वहीं भाजपा ने संजीव अग्रवाल को अपना प्रत्‍याशी बनाया है।

Ravi MishraPublish: Thu, 27 Jan 2022 07:14 AM (IST)Updated: Thu, 27 Jan 2022 07:14 AM (IST)
कांग्रेस ने जारी की प्रत्‍याशियों की तीसरी सूची, बिथरी चैनपुर से भाजपा की बागी अल्‍का सिंह को बनाया उम्‍मीदवार

बरेली, जेएनएन। कांग्रेस से बुधवार को यूपी विधानसभा चुनाव के लिए प्रत्‍याशियों की तीसरी सूची जारी कर दी। इसमें बरेली जिले की पांच सीटों के लिए उम्‍मीदवारों का एलान किया गया। पांच में से कांग्रेस ने दो सीटों भोजीपुरा और बरेली कैंट से मुस्लिम उम्‍मीदवार उतारे हैं। वहीं भाजपा से बगावत कर कांग्रेस में शामिल हुईं अल्‍का सिंह को पार्टी ने बिथरी चैनपुर विधानसभा सीट से प्रत्‍याशी बनाया है। अल्‍का सिंह भारतीय जनता पार्टी के क्षेत्रीय महामंत्री महिला मोर्चा थीं। वह भाजपा से बिथरी चैनपुर से टिकट मांग रही थीं, न मिलने पर उन्‍होंने कांग्रेस ज्‍वाइन कर ली। भाजपा ने बिथरी चैनपुर से राघवेंद्र शर्मा को प्रत्‍याशी बनाया है। इसके अलावा कांग्रेस ने फरीदपुर और बरेली शहर सीट पर भी प्रत्‍याशी घोषित कर दिए। कांग्रेस ने बरेली शहर सीट से कृष्‍णकांत (केके) शर्मा, कैंट से हाजी इस्‍लाम बाबू, फरीदपुर से विशाल सागर और भोजीपुरा से सरदार खान को अपना प्रत्‍याशी घोषित किया है।

कांग्रेस ने कैंट विधानसभा सीट से पहले पूर्व मेयर सुप्रिया ऐरन को अपना प्रत्‍याशी घोषित किया था लेकिन, उन्‍होंने कांग्रेस छोड़कर सपा की सदस्‍यता ग्रहण कर ली थी। सपा ने उन्‍हें कैंट से प्रत्‍याशी घोषित कर दिया है। वहीं भाजपा ने संजीव अग्रवाल को अपना प्रत्‍याशी बनाया है। अब कांग्रेस ने कैंट सीट पर हाजी बाबू इस्‍लाम को मैदान में उतारा है। वहीं बिथरी चैनपुर से कांग्रेस प्रत्‍याशी घोषित की गई अल्‍का सिंह ने टिकट न मिलने पर भाजपा से बगावत करते हुए 18 जनवरी को त्यागपत्र देकर कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा से मुलाकात की थी। उन्होंने कांग्रेस की सदस्यता दिल्ली में प्रियंका गांधी से मुलाकात के बाद ली थी। 

कैंट विधानसभा सीट पर अंसारी वोट पर नजर: कैंट से सुप्रिया ऐरन के जाने के बाद से कांग्रेस ने इस सीट पर गहन मंथन के बाद हाजी बाबू इस्‍लाम को प्रत्‍याशी बनाया है। सबसे अधिक अंसारी वोट होने के कारण पार्टी इस सीट से मुस्लिम प्रत्याशी उतारा है। भाजपा, सपा व बसपा ने अपने उम्मीदवार पहले ही घोषित कर दिए हैं। अंसारी बिरादरी के लगभग 40 से 50 हजार वोटर कैंट विधानसभा सीट पर हैं। साथ ही आइएमसी प्रमुख मौलाना तौकीर रजा पहले ही कांग्रेस को समर्थन देने का ऐलान कर चुके हैं। ऐसे में कैंट सीट का पठान वोट भी कांग्रेस को मिलने की उम्मीद जताई जा रही है। क्योंकि अन्य किसी भी दल ने यहां से मुस्लिम प्रत्याशी नहीं उतारा है। 

Edited By Ravi Mishra

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept
ट्रेंडिंग न्यूज़

मौसम