बरेली में भूख से गायों की मौत पर गोशाला कमेटी के अध्यक्ष, मंत्री समेत चार के खिलाफ मुकदमा

Death of cows due to hunger in Bareilly भूख और बीमारी से गायों की मौत के मामले में पुलिस ने बरेली की गोशाला कमेटी के अध्यक्ष समेत चार लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया है। पुलिस ने यह कार्रवाई मुख्य पशु चिकित्साधिकारी की तहरीर पर की है।

Samanvay PandeyPublish: Mon, 15 Nov 2021 10:00 AM (IST)Updated: Mon, 15 Nov 2021 10:00 AM (IST)
बरेली में भूख से गायों की मौत पर गोशाला कमेटी के अध्यक्ष, मंत्री समेत चार के खिलाफ मुकदमा

बरेली, जेएनएन। Death of cows due to hunger in Bareilly : भूख और बीमारी से गायों की मौत के मामले में पुलिस ने बरेली की गोशाला कमेटी के अध्यक्ष समेत चार लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया है। पुलिस ने यह कार्रवाई मुख्य पशु चिकित्साधिकारी डा. ललित कुमार वर्मा की तहरीर पर की है। मुकदमे में सिटी श्मसान भूमि के गोशाला अध्यक्ष, मंत्री, कोषाध्यक्ष व प्रबंधक को नामजद किया गया है। इससे पहले मुख्य चिकित्सा अधिकारी ने अपनी जांच रिपोर्ट में गायों की मौत वजह खुरपका और मुंहपका बीमारी बताया था। गायों की मौत के मामले में लीपापोती की कोशिश की जिला प्रशासन ने भी अनदेखी कर दी थी।

बरेली सिटी श्मसान भूमि गोशाला का प्रबंधन शहर की बड़ी हस्तियों के हाथें में है। इसके बावजूद गोशाला में दो महीने के भीतर 35 से ज्यादा गायों की मौत हो गई। गोशाला प्रभारी ने गायों की मौत का कारण कमजोरी और भूख बताया था। इसके बाद मामला जिला प्रशासन और शासन के संज्ञान में आया। मुख्य पशु चिकित्सा अधिकारी डा. ललित कुमार वर्मा को जांच सौंपी दोषियों के खिलाफ कठोर कार्रवाई के साथ उनसे रिपोर्ट तलब की गई थी। जांच में सिटी श्मसान भूमि कमेटी के लोगों की लापरवाही सामने आई।

जांच में मुख्य पशु चिकित्साधिकारी पाया कि गोवंशों को पौष्टिक आहार प्रदान न करने के कारण उनकी रोग प्रतिरोधक क्षमता कम हुई। जिसके चलते ही गोवंशों की मौत हो गई। लिहाजा, जांच रिपोर्ट को ही आधार बनाकर उन्होंने आरोपितों के खिलाफ सुभाषनगर थाने में तहरीर दी। तहरीर के आधार पर सुभाषनगर पुलिस ने आरोपितों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज की। इस बारे में इंस्पेक्टर सुभाषनगर नरेश कुमार कश्यप ने बताया कि मामले की जांच शुरू कर दी गई। जांच में सामने आए तथ्यों के आधार पर आगे की कार्रवाई की जाएगी।

Edited By Samanvay Pandey

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept