बस में ट‍िकट काटने वाला जेब में रखता था नकली नोट, ऐसी खुली पोल

नकली नोट प्रकरण का गुरुवार को पुलिस ने राजफाश कर दिया है। नकली नोटों की सप्लाई हरदोई के पिहानी थाना क्षेत्र का बस कंडक्टर करता था। इस मामले में एक आरोपित एसी रिपेयङ्क्षरग करने वाले युवक को पुलिस ने जेल भेज दिया है।

Ravi MishraPublish: Fri, 21 Jan 2022 09:53 AM (IST)Updated: Fri, 21 Jan 2022 09:53 AM (IST)
बस में ट‍िकट काटने वाला जेब में रखता था नकली नोट, ऐसी खुली पोल

जेएनएन, शाहजहांपुर:नकली नोट प्रकरण का गुरुवार को पुलिस ने राजफाश कर दिया है। नकली नोटों की सप्लाई हरदोई के पिहानी थाना क्षेत्र का बस कंडक्टर करता था। इस मामले में एक आरोपित एसी रिपेयङ्क्षरग करने वाले युवक को पुलिस ने जेल भेज दिया है। जबकि सरगना समेत दो आरोपितों की की तनाश में दबिशें दी जा रही है।

क्षेत्र के ही एक ढाबे के पास से पुलिस ने एसी रिपेयङ्क्षरग करने वाले मिस्त्री क्षेत्र के ही पट्टी पूर्वी मुहल्ला निवासी तालिब को गिरफ्तार किया था। प्रभारी निरीक्षक मनोज कुमार त्यागी ने जब तलाशी ली तो उसके पास से 100-100 के छह हजार रुपये नकली नोट बरामद हुए थे। पूछताछ करने पर उसने बताया कि अपने चाचा फिरोज के साथ हरदेाई जिले के पिहानी थाना क्षेत्र के दहेलिया गांव निवासी बस कंडक्टर शमशुद्दीन से लेकर आया था। तालिब ने पुलिस को बताया कि शमशुद्दीन दहेलिया से दिल्ली तक जाने वाली निजी बस पर कंडक्टर है। करीब एक साल से उससे पुराने एसी दिल्ली से मंगवा रहा था। जिस वजह से उससे संपर्क हो गया। उसने बताया कि छह दिन पहले ही उसने नकली नोटों की सप्लाई करने के लिए अपने पास बुलाया था। पुलिस सरगना समेत दोनों आरोपितों की तलाश कर रही है। एक टीम को हरदोई भी भेजा गया है।

--------

आठ हजार में खरीदे थे 20 हजार रुपये

पुलिस के मुताबिक तालिब छह दिन पहले अपने चाचा के साथ बाइक से दहेलिया गांव गया था। जहां से आठ हजार रुपये में 20 हजार रुपये के नोट खरीदकर लाया था।

--------

अवैध कारोबार पर पुलिस की नजर

नकली नोटों की सप्लाई निजी बसों के जरिये दिल्ली से हो रही थी। ऐसे में पुलिस ने से आने व जाने वाली बसों पर विशेष तौर पर चेङ्क्षकग अभियान शुरू कर दिया है। ताकि अवैध कारोबार में कौन-कौन लिप्त है इसके बारे में जानकारी हो सके।

-------

एक आरोपित को जेल भेज दिया गया है। जबकि सरगना समेत दोनों आरोपितों को भी जल्द गिरफ्तार कर लिया जाएगा। उसके बाद ही पूरे प्रकरण का राजफाश होगा।

संजय कुमार, एएसपी सिटी

Edited By Ravi Mishra

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept