पश्चिमी विक्षोभ से कांपा बदायूं, कोहरे और शीतलहर से अस्त व्यस्त हुआ जनजीवन

Badaun Weather News Update Today पश्चिमी विक्षोभ के चलते जिले में पड़ रही भीषण शीतलहर से जन-जीवन अस्त-व्यस्त हो गया है। हालत यह है कि घर से बाहर निकलना मुश्किल हो गया है। कितना भी गर्म कपड़े पहनकर बाहर निकलने पर कंपकपी छूट रही है।

Ravi MishraPublish: Wed, 19 Jan 2022 07:59 AM (IST)Updated: Wed, 19 Jan 2022 07:59 AM (IST)
पश्चिमी विक्षोभ से कांपा बदायूं, कोहरे और शीतलहर से अस्त व्यस्त हुआ जनजीवन

बरेली, जेएनएन। Badaun Weather News Update Today : पश्चिमी विक्षोभ के चलते जिले में पड़ रही भीषण शीतलहर से जन-जीवन अस्त-व्यस्त हो गया है। हालत यह है कि घर से बाहर निकलना मुश्किल हो गया है। कितना भी गर्म कपड़े पहनकर बाहर निकलने पर कंपकपी छूट रही है। मौसम विभाग का पूर्वानुमान गलत साबित हुआ, दिन में धूप निकलने की संभावना जताई गई थी, लेकिन सूर्यदेव के दर्शन तक नहीं हुए। मौसम विज्ञानी का कहना है कि अभी चार दिन भीषण सर्दी से राहत नहीं मिलने वाली है।

विधानसभा चुनाव की गतिविधियां बढ़ रही हैं। राजनीतिक हलके में तो गरमाहट आती जा रही है, लेकिन आम आदमी के लिए मौसम अब मुसीबत बन गया है। मंगलवार को सुबह हर तरफ घना कोहरा छाया हुआ था। बर्फीली हवाएं चल रही थीं, घर से बाहर निकलने के लिए लोगों को बहुत हिम्मत जुटानी पड़ रही थी। उम्मीद की जा रही थी कि शायद सोमवार की तरफ दोपहर में हल्की धूप निकल आए, लेकिन पूरा दिन मौसम का मिजाज इसी तरह बना रहा। बसों में यात्रियों की संख्या कम दिखाई पड़ी।

बाजारों में भी ग्राहकों की संख्या बहुत कम रही, दुकानदार अलाव जलाकर सर्दी से बचाव करते दिखाई दिए। कड़ाके की ठंड और कोहरा से गेहूं की फसल को तो फायदा पहुंच रहा है, लेकिन सरसों और आलू की फसल के लिए नुकसानदायक साबित हो सकता है। मौसम विज्ञानी आलोक गौतम ने बताया कि पश्चिमी विक्षोभ के कारण पहाड़ों से लेकर मैदानी इलाकों तक में भीषण ठंड पड़ रही है। उन्होंने संभावना जताई कि अभी तीन से चार दिन तक इसी तरह की ठंड पड़ेगी। उसके बाद ही मौसम में बदलाव आने के आसार हैं। जिले में न्यूनतम तापमान 7 डिग्री और अधिकतम 16 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया।

कोहरे व गलन से ठिठुरे लोग अलाव का लिया सहारा

बिल्सी : नगर में शाम से ही कोहरे प्रकोप बढ़ने लगा हालात ये थे कि दो मीटर आगे तक दिखाई नही दे रहा था । ऊपर से गलन भरी सर्द हवाओं ने तो कहर ही ढहा दिया । हर कोई घर पर या बाजार में अलाव का सहारा लेता ही नज़र आया। नगर पालिका परिषद की ओर से बाजार में प्रतिदिन अलाव की व्यवस्था होने से लोगों में राहत दिखी। भीषण ठंड के कारण बाजार में सन्नाटा पसरा रहा। लोग जो भी घरों से बाहर निकले, पूरे कपड़ों से लदे नजर आए। लोग धूप की एक किरण को तरसते दिखे और पूरे दिन सूर्य भगवान के दर्शन के लिए तरसते रहे। बाजारों की रौनक भी गायब हो गई है। दुकानदार अपनी वोहनी के लिये तरसते जनर आए।

शीतलहर से लोगों को बचाने के लिए प्रमुख स्थानों पर अलाव जलवाए जा रहे हैं। कंबल का वितरण कराया जा रहा है। जिला मुख्यालय समेत कस्बों में भी रैन बसेरा बनवाए गए हैं। वहां रात में लोगों के ठहरने के लिए इंतजाम किए गए हैं। नगर निकायों में जलवाए जा रहे अलाव का एसडीएम और तहसीलदार को नियमित निरीक्षण करने के निर्देश दिए हैं।- दीपा रंजन, जिलाधिकारी

Edited By Ravi Mishra

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept