This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.
OK

बरेली की ऐतिहासिक बमनपुरी की रामलीला में अंहकारी रावण का हुआ वध, असत्य पर सत्य की जीत का मंचन देखने के लिए सैकड़ों श्रद्धालु पहुंचे

भगवान राम के धनुष से निकला बाण ज्यों ही अधर्म और असत्य के प्रतीत रावण की नाभि पर लगा वह जमीन पर गिर गया। आसमान कांपने लगा धरती डोलने लगी स्वर्ग से देवी-देवता पुष्प वर्षा कर हर्ष मनाने लगे। असत्य पर सत्य की जीत हुई।

Samanvay PandeyThu, 08 Apr 2021 10:45 AM (IST)
बरेली की ऐतिहासिक बमनपुरी की रामलीला में अंहकारी रावण का हुआ वध, असत्य पर सत्य की जीत का मंचन देखने के लिए सैकड़ों श्रद्धालु पहुंचे

बरेली, जेएनएन। भगवान राम के धनुष से निकला बाण ज्यों ही अधर्म और असत्य के प्रतीत रावण की नाभि पर लगा, वह जमीन पर गिर गया। आसमान कांपने लगा, धरती डोलने लगी, स्वर्ग से देवी-देवता पुष्प वर्षा कर हर्ष मनाने लगे। असत्य पर सत्य की जीत हुई। यह बानगी थी बड़ी बमनपुरी में चल रही रामलीला मंचन की।

श्री रामलीला सभा के तत्वावधान में चल रही रामलीला के 16वें दिन राम-रावण वध का मंचन किया गया। रावण का 40 फीट का पुतला फूंका गया। इस दृश्य को देखने के लिए सैकड़ों दर्शक लीलास्थल पर मौजूद रहे। सारा वातावरण राममय हो गया। राम-रावण का युद्ध आकर्षण का केंद्र बना रहा। काफी देर युद्ध चलने के बाद विभीषण ने राम को बताया कि रावण की नाभि में अमृत है, वहां बाण मारनेे पर ही अमृत सूखेगा तभी वह मरेगा। इस पर राम ने रावण की नाभि में तीर मारकर उसका अमृत सुखाया और उसका वध किया। एक तरफ श्रीराम के जयकारे और दूसरी ओर लंका में शोक छा गया। इस अवसर पर मुख्य अतिथि भाजपा के महानगर अध्यक्ष डा. केएम अरोड़ा ने राम-लक्ष्मण स्वरुप की आरती कर पुण्य लाभ कमाया। मीडिया प्रभारी इंद्रदेव त्रिवेदी ने बताया कि गुरुवार को लीला स्थल से प्रभु राम, सीता, लक्ष्मण, हनुमान की झांकियों के साथ शोभायात्रा निकाली जाएगी। इस मौकेे पर अतुल कपूर, राधाकृष्ण शर्मा, प्रह्लाद, राधाकृष्ण रस्तोगी, राजू मिश्रा आदि मौजूद रहे।

Edited By: Samanvay Pandey

बरेली में कोरोना वायरस से जुडी सभी खबरे

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!