This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.
OK

बरेली की दरगाह ए आला हजरत से वसीम रिजवी, नरसिंहानंद सरस्वती के खिलाफ उठी आवाज, सज्जादानशीन बोले- सख्त कार्रवाई करे सरकार

Dargah E Ala Hazrat Sajjadansheen News दरगाह आला हजरत के सज्जादानशीन मुफ्ती अहसन रजा कादरी ने कहा कि देश की शांति के लिए खतरा बने कुछ दहशतगर्द इस्लाम कुरान और पैगम्बर-ए-इस्लाम पर गलत बयानबाजी कर रहे है।

Ravi MishraTue, 06 Apr 2021 11:55 AM (IST)
बरेली की दरगाह ए आला हजरत से वसीम रिजवी, नरसिंहानंद सरस्वती के खिलाफ उठी आवाज, सज्जादानशीन बोले- सख्त कार्रवाई करे सरकार

 बरेली, जेएनएन। Dargah E Ala Hazrat : दरगाह आला हजरत के सज्जादानशीन मुफ्ती अहसन रजा कादरी ने कहा कि देश की शांति के लिए खतरा बने कुछ दहशतगर्द इस्लाम, कुरान और पैगम्बर-ए-इस्लाम पर गलत बयानबाजी कर रहे है। चाहें वो वसीम रिजवी हो या नरसिंहानंद सरस्वती। इनके खिलाफ सरकार को सख्त कार्रवाई करनी चाहिए।

सोमवार को मुफ्ती अहसन मियां ने बयान जारी किया कि इस्लाम के खिलाफ अभद्र भाषा का प्रयोग कर मुल्क में कुछ लोग अराजकता का माहौल पैदा कर रहे हैं। उनके खिलाफ सरकार को सख्त कार्रवाई करनी चाहिए। अगर हमारे नबी की इज्जत की बात आएगी तो मुसलमान खुद अपना सिर कटा सकता है लेकिन अपने मजहब, अपने कुरान और अपने नबी की अजमत पर रत्ती भर भी आंच नहीं आने देगा।

मुल्क भर के उलमा और मुसलमानों में बेहद आक्रोश है। शासन व प्रशासन जल्द इस पर कोई कार्रवाई नहीं करता है तो मुसलमानों को सड़कों पर उतरकर विरोध-प्रदर्शन के लिए मजबूर होना पड़ेगा। मुफ्ती कफील हाशमी, मौलाना जाहिद रजा, मौलाना बशीर उल कादरी, कारी रिजवान रजा, शाहिद नूरी, नासिर कुरैशी, परवेज नूरी, अजमल नूरी, ताहिर अल्वी, औरंगजेब नूरी, हाजी जावेद खान आदि ने उनकी बात का समर्थन किया। 

Edited By Ravi Mishra

बरेली में कोरोना वायरस से जुडी सभी खबरे

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!