बीच सत्र फीस वृद्धि पर भड़के अभिभावक, सड़क जाम कर किया हंगामा

शिक्षण सत्र के बीच में सेंट फ्रांसिस स्कूल द्वारा फीस में वृद्धि किए जाने से आक्रोशित अभिभावकों ने हंगामा किया।

JagranPublish: Fri, 28 Jan 2022 10:35 PM (IST)Updated: Fri, 28 Jan 2022 10:35 PM (IST)
बीच सत्र फीस वृद्धि पर भड़के अभिभावक, सड़क जाम कर किया हंगामा

बागपत, जेएनएन। शिक्षण सत्र के बीच में सेंट फ्रांसिस स्कूल द्वारा फीस में वृद्धि किए जाने से आक्रोशित अभिभावकों ने हंगामा किया। इस दौरान बड़ौत-मुजफ्फरनगर मार्ग को जाम कर दिया गया। सूचना पर पहुंची पुलिस ने अभिभावकों को समझाकर जाम खुलवाया। बाद में प्रधानाचार्य ने अभिभावकों को सोमवार तक समस्या का निस्तारण कराने का आश्वासन दिया।

हंगामा कर रहे अभिभावकों का कहना था कि कोरोना काल में बीच सत्र के दौरान फीस वृद्धि पर शासन की तरफ से रोक है। फिलहाल बच्चों की आनलाइन कक्षाएं चल रही हैं, जबकि स्कूल प्रबंधन ने भारी भरकम फीस बढ़ा दी और फीस जमा न करने पर परीक्षा की उत्तरपुस्तिका रोक ली। आक्रोशित अभिभावकों ने स्कूल के बाहर बड़ौत-मुजफ्फनगर मार्ग पर जाम लगा दिया, जिसे पुलिस ने पहुंचकर खुलवाया। इसके बाद प्रधानाचार्य फादर विजू से अभिभावकों की वार्ता हुई, जिसमें सोमवार तक समस्या का निस्तारण कराने का आश्वासन दिया गया। इसके बाद अभिभावक शांत हुए। चेतावनी दी कि यदि बढ़ी फीस नहीं घटाई गई तो फिर से हंगामा-प्रदर्शन किया जाएगा। अभिभावकों में सुभाष तोमर, अंजू, तरुण सौरभ, विनोद, अशोक, राजपाल, सचिन आदि मौजूद रहे। सफलता पाने के लिए प्रैक्टिस ही मूलमंत्र : अनिल चौधरी

बड़ौत : शहीद शाहमल क्रिकेट एकेडमी पर शुक्रवार को अंतरराष्ट्रीय अंपायर अनिल चौधरी का जोरदार स्वागत किया गया। इस दौरान उन्होंने प्रशिक्षु क्रिकेटरों से वार्ता की और उन्हें खेल की बारीकियों से अवगत कराया।

एकेडमी पर कोच प्रतीक तोमर सहित गणमान्यों ने उनका स्वागत किया और उन्हें प्रतीक चिह्न भेंट किया। इस मौके पर अनिल चौधरी ने कहा कि उन्हें ग्रामीण अंचल के खिलाड़ियों से खासा लगाव है, क्योंकि वह भी शामली के डांगरोड गांव से निकलकर अंतरराष्ट्रीय स्तर पर पहुंचे हैं। उन्होंने सफलता के लिए प्रैक्टिस की एक मूलमंत्र है। उनसे मिलकर एकेडमी के प्रशिक्षु क्रिकेटर काफी उत्साहित हुए।

Edited By Jagran

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept