फाइनेंस कंपनी से पांच लाख की चोरी में कर्मचारी भी था शामिल

जागरण संवाददाता, आजमगढ़ : कंधरापुर थाना क्षेत्र के भंवरनाथ चौराहा स्थित फाइनेंस कंपनी का ताला तोड़कर

JagranPublish: Mon, 22 Nov 2021 04:59 PM (IST)Updated: Mon, 22 Nov 2021 04:59 PM (IST)
फाइनेंस कंपनी से पांच लाख की चोरी में कर्मचारी भी था शामिल

जागरण संवाददाता, आजमगढ़ : कंधरापुर थाना क्षेत्र के भंवरनाथ चौराहा स्थित फाइनेंस कंपनी का ताला तोड़कर की गई पांच लाख की चोरी का राजफाश करते हुए पुलिस ने दो आरोपितों को गिरफ्तार कर लिया। आरोपितों में एक उसी संस्था का कर्मचारी है, जबकि दूसरा उसका दोस्त।

काशी गोमती ग्रामीण निधि लिमिटेड के कार्यालय में 18 नवंबर की रात हुई चोरी के मामले में कंपनी के अधिकारी रवि प्रकाश तिवारी निवासी इटौरा, थाना अहरौला ने 19 नवंबर को पुलिस को सूचना दी थी कि संस्था में दो से ढाई सौ व्यक्ति कार्य करते हैं। कलेक्शन किया गया चार लाख सोलह हजार नौ सौ सत्तर रुपये कार्यालय के काउंटर में रखा गया था। दूसरे दिन सुबह पता चला कि अज्ञात चोरों ने कैश काउंटर का ताला तोड़कर रुपये को चुरा लिया।

घटना को गंभीरता से लेते हुए एसपी अनुराग आर्य ने घटना के राजफाश के लिए थाना प्रभारी कंधरापुर को निर्देशित किया।

अपर पुलिस अधीक्षक नगर शैलेंद्र लाल के निर्देशन में रविवार को थानाध्यक्ष कमल नयन दुबे अपनी टीम के साथ क्षेत्र में मौजूद थे। इस बीच सूचना मिली कि संबंधित चोर मोटरसाइकिल से आजमगढ़ की तरफ से बिलरियागंज की ओर जा रहे हैं। उसके बाद पुलिस ने नामदारपुर से कीरतपुर जाने वाले रास्ते पर वाहन चेकिग शुरू कर दी।कुछ ही देर बाद मोटरसाइकिल सवार दोनों व्यक्तियों को पकड़ा गया। तलाशी लेने पर चोरी के 4,16,970 रुपये, मोबाइल, डीवीआर, पासबुक, डिपाजिट फार्म, चोरी में प्रयुक्त उपकरण आदि बरामद हुआ।

पूछताछ में महराजगंज थाना क्षेत्र के सुर्जीपुर एवं हाल पता कामिलपुर अंडाखोर, बिलरियागंज मो. साजिद ने बताया कि हम दोनों एक ही गांव के रहने वाले दोस्त हैं। अरविद राय की अभी जल्दी में ही शादी हुई है। अरविद शादी के लिए हुए लगभग दो लाख के कर्ज से परेशान रहते थे। मेरे ऊपर भी लगभग 25-30 हजार का कर्ज था। दोनों ने दो दिन पूर्व साथ बैठकर शराब पी, तो अरविद ने बताया कि जिस संस्था में काम करता हूं वहां के कैश काउंटर में काफी पैसा रहता है। अगर हम दोनों मिलकर उसे चुरा लेते हैं तो दोनों का कर्ज उतर जाएगा। अरविद ने संस्था की भौगोलिक स्थिति को बताने के साथ अंदर भी ले जाकर सारा कुछ दिखाया था।उसके बाद दोनों लोग संस्था के बगल वाले कमरे के पास पहुंचे और उसके बाहरी दरवाजे में लगे ताले को राड से तोड़ दिया। इसके बाद अरविद ने कहा कि कैश काउंटर को तोड़कर पैसा बैग में रखने के साथ सीएमडी के कमरे में लगे सीसीटीवी कैमरे का डीवीआर का तार काटकर रख लेना। तब तक मैं बाहर निगरानी करता रहूंगा।उसके बाद योजना के अनुसार घटना को अंजाम दिया गया।

Edited By Jagran

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept