सीसीटीवी की निगरानी में यूपी-टीईटी सकुशल संपन्न

जासं औरैया रविवार को उत्तर प्रदेश शिक्षक पात्रता परीक्षा-2021 जिले में 22 केंद्रों पर हुई

JagranPublish: Sun, 23 Jan 2022 06:44 PM (IST)Updated: Sun, 23 Jan 2022 06:44 PM (IST)
सीसीटीवी की निगरानी में यूपी-टीईटी सकुशल संपन्न

जासं, औरैया: रविवार को उत्तर प्रदेश शिक्षक पात्रता परीक्षा-2021 जिले में 22 केंद्रों पर हुई। 23161 परीक्षार्थी दोनों पालियों में पंजीकृत रहे। इसमें 21030 परीक्षार्थियों ने ही पेपर दिया। नकलविहीन व पारदर्शिता के साथ परीक्षा संपन्न कराए जाने के लिए हर गतिविधि पर सीसीटीवी से नजर रखी गई। सेक्टर व जोनल मजिस्ट्रेट के अलावा पुलिस का पहरा सख्त रहा। बारिश की वजह से कुछ केंद्रों पर परीक्षार्थी देरी से पहुंचे। जिन्हें मौका न मिलने पर उन्होंने नाराजगी जताई। पेपर छूटने पर ट्रैफिक व्यवस्था चरमराती दिखी। जाम से वाहन सवारों व परीक्षार्थी जूझे। रोडवेज बस से उनका सफर शासन के आदेशानुसार निश्शुल्क रहा। सहायक क्षेत्रीय प्रबंधक ने बसों का मुआयना किया।

सुबह की पाली में उत्तर प्रदेश शिक्षक पात्रता परीक्षा (यूपी-टीईटी) 10 से दोपहर 12.30 बजे तक हुई। तड़के कुछ देर हुई बूंदाबांदी व आसपास के क्षेत्रों में बारिश होने से परीक्षार्थियों की मुश्किलें बढ़ी। अजीतमल में बने केंद्रों व औरैया शहर के तिलक इंटर कालेज पर कुछ परीक्षार्थी के देर से पहुंचने पर उन्हें गेट पर रोक दिया गया। उन्होंने लेट होने का कारण बताया लेकिन नियम सख्त होने के कारण ड्यूटी पर तैनात शिक्षक कुछ न कर सके। जिला विद्यालय निरीक्षक चन्द्रशेखर मालवीय ने बताया कि प्रथम पाली में 22 केंद्रों पर 13918 परीक्षार्थी पंजीकृत थे। जिसमें 12 हजार 746 परीक्षार्थियों ने परीक्षा दी। शाम की पाली में 9243 परीक्षार्थी पंजीकृत थे। जिसमें 8289 परीक्षार्थी शामिल हुए। दोनों पाली में आयोजित परीक्षा में प्रतिभाग करने पहुंचे परीक्षार्थियों को परीक्षा शुरू होने के एक घंटे पहले सचल दलों ने तलाशी के बाद प्रवेश दिया। तीन जोनल और 36 सेक्टर मजिस्ट्रेट की निगरानी में परीक्षा हुई। 2131 परीक्षार्थियों ने परीक्षा में अनुपस्थिति दर्ज कराई है।

-----

परीक्षा छूटने पर लड़खड़ाया यातायात

शाम पाली की परीक्षा छूटने पर केंद्रों से निकले परीक्षार्थियों की भीड़ रोड पर होने से यातायात व्यवस्था चरमरा गई। पुलिस को यातायात सामान्य करने के लिए मशक्कत करनी पड़ी। उधर, रोडवेज बस रूट के तहत न मिलने पर परीक्षार्थी डिपो के इर्दगिर्द परेशान नजर आए। वहीं जाम की स्थिति संजय गेट, सुभाष चौक, दिबियापुर-औरैया मार्ग, कानपुर-औरैया-इटावा रोड के अलावा हाईवे सर्विस मार्ग पर बनी। इटावा की ओर बसों के न जाने पर कुछ परीक्षार्थियों ने डिपो पर हंगामा किया। जानकारी होने पर पहुंचे सहायक क्षेत्रीय प्रबंधक आरएस चौधरी ने परीक्षार्थियों को समझाकर उनके गुस्से को शांत किया। अजीतमल व इटावा के लिए एक साथ तीन बसों को रवाना किया गया। परीक्षार्थियों और यात्रियों की भीड़ देखते हुए पहले ही बिधूना के लिए तीन, दिबियापुर के लिए दो, इटावा, कानपुर,उरई आदि रूटों पर बसों को लगाया गया था।

Edited By Jagran

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept