धान क्रय केंद्रों का विशेष सचिव सहकारिता करेंगी मुआयना

जासं औरैया एक नवंबर से जिले में धान की खरीद क्रय केंद्रों पर शुरू है। पिछले वर्ष के मुक

JagranPublish: Mon, 29 Nov 2021 11:04 PM (IST)Updated: Mon, 29 Nov 2021 11:04 PM (IST)
धान क्रय केंद्रों का विशेष सचिव सहकारिता करेंगी मुआयना

जासं, औरैया: एक नवंबर से जिले में धान की खरीद क्रय केंद्रों पर शुरू है। पिछले वर्ष के मुकाबले इस बार 15 हजार चार सौ मीट्रिक टन ज्यादा खरीद का लक्ष्य शासन की ओर से दिया गया है। इस पर कितनी मेहनत की गई, इसे जांचने का कार्य विशेष सचिव सहकारिता बी चंद्रकला आज करेंगी। किसानों से धान क्रय करने को शासन अति गंभीर है।

अपराह्न साढ़े तीन बजे वह मंडी समिति के अलावा तहसीलवार बने केंद्रों पर नजर डालते हुए अधिकारियों के साथ बैठक करते हुए अब तक के कार्यों को परखेंगी। प्रस्तावित कार्यक्रम को देखते हुए सोमवार को क्रय केंद्रों पर प्रभारी अलर्ट मोड पर दिखे। पिछले वर्ष शासन ने जिले को 50 हजार मीट्रिक टन धान की खरीद का लक्ष्य दिया था। इस बार 65 हजार 400 मीट्रिक टन का लक्ष्य है। जिसे पाने के लिए जी-तोड़ मेहनत प्रशासनिक अधिकारी कर रहे हैं। जिला विपणन अधिकारी सुधांशु शेखर चौबे ने बताया कि कुछ केंद्रों पर शिकायतें रही तो वहां के केंद्र प्रभारियों को तलब किया गया। इसमें बाबरपुर व दिबियापुर मंडी समित में बने केंद्र शामिल रहे। दिबियापुर में केंद्र प्रभारी को बदला गया। वहीं बाबरपुर में नोटिस जारी करते हुए स्पष्टीकरण मांगा गया था। दोनों जगह किसानों का आरोप था कि उनके साथ दोहरा व्यवहार किया जा रहा है। उधर, मंगलवार को विशेष सचिव सहकारिता बी चंद्रकला के निरीक्षण को देखते हुए सभी केंद्र प्रभारियों को निर्देश जारी किए गए हैं। ज्यादा से ज्यादा खरीद पर जोर दिया जा रहा है। उम्मीद है कि लक्ष्य को समय रहते हासिल कर लिया जाएगा।

Edited By Jagran

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept
ट्रेंडिंग न्यूज़

मौसम