कोरोना संक्रमण बढ़ने के साथ ही फ्लाइटों में घट गई यात्रियों की संख्या, ट्रेनों में कैंसिल हो रहे टिकट

ट्रेन और फ्लाइट में इन दिनों सीटें खाली नजर आने लगी है अचानक से यात्रियों की संख्या घट रही है। यात्रियों की संख्या घटना के पीछे सबसे बड़ा कारण कोरोना वायरस का संक्रमण ही माना जा रहा है। यह गिरावट सामान्य दिनों की तुलना में 50 प्रतिशत से कम है।

Brijesh SrivastavaPublish: Sat, 15 Jan 2022 04:19 PM (IST)Updated: Sat, 15 Jan 2022 04:19 PM (IST)
कोरोना संक्रमण बढ़ने के साथ ही फ्लाइटों में घट गई यात्रियों की संख्या, ट्रेनों में कैंसिल हो रहे टिकट

प्रयागराज, जागरण संवाददाता। कोरोना का संक्रमण एक बार फिर से तेजी के साथ बढ़ने लगा है। पूरी दुनिया के साथ देश में भी इसका असर देखने को मिल रहा है। प्रयागराज में भी कोरोना के मामले तेजी के साथ बढ़ रहे हैं। इस समय प्रयागराज में माघ मेला चल रहा है, जिसके कारण यहां आने वाले यात्रियों की संख्या में इजाफा होना चाहिए। हालांकि कोरोना वायरस के बढ़ते ही ट्रेन और फ्लाइटों में कुछ ऐसा होने लगा है, जिसने रेलवे और विमान सेवा प्रदाता कंपनियों को भी चिंता में डाल दिया है। काफी संख्या में ट्रेन के यात्री अपना टिकट कैंसिल करा रहे हैं। वहीं फ्लाइट में यात्रियों की कमी नजर आने लगी है।

50 फीसद हवाई यात्रियाें में आई कमी

ट्रेन और फ्लाइट में इन दिनों सीटें खाली नजर आने लगी है अचानक से यात्रियों की संख्या घट रही है। यात्रियों की संख्या घटना के पीछे सबसे बड़ा कारण कोरोना वायरस का संक्रमण ही माना जा रहा है। संगम नगरी में इस समय माघ मेला चल रहा है और ऐसे में देश के अलग-अलग हिस्सों से लोग स्नान दान और पुण्य करने के लिए यहां आ रहे हैं। हालांकि विमान से एयरपोर्ट पर उतरने वाले यात्रियों की संख्या में अचानक गिरावट दर्ज की गई है। यह गिरावट सामान्य दिनों की तुलना में 50 प्रतिशत से भी कम है। यानी यात्रियों की संख्या कई दिनों आधी से भी कम हो जा रही है। जबकि प्रतिदिन इनकी संख्या में कमी बनी हुई है।

प्रयागराज एयरपोर्ट पर नए वर्ष से घट गई है यात्रियों की संख्या

2021 की आखिरी तिथि 31 दिसंबर को प्रयागराज एयरपोर्ट पर 1881 यात्री आए थे। हालांकि इसके अगले दिन यानी 1 जनवरी 2022 से यात्रियों की संख्या घटना शुरू हो गई। 1 जनवरी को 1212 यात्री, 3 जनवरी को 1670 यात्री, 4 जनवरी को 1501 यात्री, 5 जनवरी को 1326, यात्री 6 जनवरी को मात्र 610 यात्री ने सफर किया। 7 जनवरी को केवल 57 यात्री, 8 जनवरी को 1000 यात्री ही सफर कर सके। 9 जनवरी को 1463 यात्री, 10 जनवरी को 880 यात्री, 11 जनवरी को 918 यात्री, 12 जनवरी को 1170 यात्री, 13 जनवरी को 902 यात्री और 14 जनवरी को 1154 यात्री प्रयागराज हवाई अड्डे पर आगमन और प्रस्थान करने वाले कुल यात्रियों की संख्या रही।

खराब मौसम भी बना कारण

एयरपोर्ट कम यात्री संख्या हुंचे में मौसम का भी अहम योगदान रहा। दृश्यता कम होने के कारण कई फ्लाइट रद्द होने से बीच में यात्रियों की संख्या में कमी आई थी।

टेन यात्री कैंसिल करा रहे टिकट

कोरोना वायरस का असर रेल संचार पर भी देखने को मिल रहा है। ट्रेनों में भी यात्री घट रहे हैं। प्रयागराज जंक्शन से यात्रा करने वाले यात्री बड़ी संख्या में अपना टिकट कैंसिल करा रहे हैं। कोरोनावायरस वायरस के बढ़ते मामले के बीच वह अपनी यात्रा को सुरक्षा कारणों से स्थगित कर रहे हैं। नए वर्ष में अब तक 1500 के करीब टिकट यात्रियों ने कैंसिल कराया है। वहीं जिन ट्रेनों में अगले 15 दिन तक कोई सीट नहीं मिल रही थी, उनमें भी कंफर्म सीटें मिलने लगी है। ट्रेनों में भी कड़ाई से करोना गाइडलाइन का पालन कराया जा रहा है।

रेलवे के पीआरओ बोले- कोरोना गाइडलाइन का हो रहा पालन

डीआरएम के पीआरओ अमित सिंह ने बताया कि ट्रेनों में कोरोना गाइडलाइंस का पूरी तरीके से पालन कराया जा रहा है । यात्रियों को सुरक्षित सफर कराया जा रहा है।

Edited By Brijesh Srivastava

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept