This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.
OK

UPPSC Exam: उप्र लोक सेवा आयोग की प्रवक्ता प्रारंभिक परीक्षा का 500 किमी दूर बना सेंटर, अभ्यर्थियों में आक्रोश

अभ्यर्थियों ने बताया कि प्रयागराज के लोक सेवा आयोग द्वारा सेंटर बरेली झांसी आगरा अयोध्या गोरखपुर गौतम बुद्ध नगर जैसे जनपदों में बनाए गए हैं। इससे महिला अभ्यर्थियों की मुश्किल बढ़ गई है। खासकर उन महिलाओं को अधिक परेशानी होगी जो शादी शुदा या छोटे बच्चो को संभालती हैं।

Brijesh SrivastavaThu, 09 Sep 2021 03:29 PM (IST)
UPPSC Exam: उप्र लोक सेवा आयोग की प्रवक्ता प्रारंभिक परीक्षा का 500 किमी दूर बना सेंटर, अभ्यर्थियों में आक्रोश

प्रयागराज, जागरण संवाददाता। उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग (यूपीपीएससी) की ओर से राजकीय इंटर कालेजों में प्रवक्ता पद के लिए प्रारंभिक परीक्षा 19 सितंबर को प्रदेश के 16 जनपदों में होगी। इस परीक्षा के केंद्र निर्धारण को लेकर अभ्यर्थियों में आक्रोश है। उनका कहना है कि गृह जनपद में न परीक्षा केंद्र न बनाकर 200 से 500 किलोमीटर दूर बनाए गए हैं, जो कि न्‍याय संगत नहीं है।

अभ्‍यर्थियों ने कहा कि महामारी के दौर में परीक्षा केंद्र दूर बनाना गलत

अभ्यर्थियों का कहना है कि महामारी के दौर में जब लोगों को घरों से कम से कम निकलने के लिए कहा जा रहा है, ऐसे में परीक्षा केंद्र दूर-दूर बनाना बहुत गलत है। अभ्यर्थियों ने बताया कि प्रयागराज के अभ्यर्थियों के सेंटर बरेली, झांसी, आगरा, अयोध्या, गोरखपुर, गौतम बुद्ध नगर जैसे जनपदों में बनाए गए हैं। इससे महिला अभ्यर्थियों की मुश्किल बढ़ गई है। खासकर उन महिलाओं को अधिक परेशानी होगी जो शादी शुदा या छोटे बच्चों को संभालती हैं।

बोले अभ्‍यर्थी, कैसे तय करें 500 से 600 किलोमीटर की दूरी

अभ्यर्थियों का कहना है कि जब बस कम चल रही हैं। ट्रेनों का भी संचालन सीमित है। उनमें सामान्य टिकट लेकर यात्रा करना अभी संभव नहीं हो रहा है। यदि यात्रा करना है तो रिजर्वेशन अनिवार्य है तो दूर सेंटर देना गलत है। कोविड को लेकर अभी परिस्थितियां पूरी तरह सामान्य नहीं हुई हैं। या तो बस और ट्रेनों का संचालन बढ़ाया जाए या फिर सेंटर गृह जनपद में दिए जाएं।

महामारी को बुलावा देना है लंबी यात्रा

प्राथमिक शिक्षक प्रशिक्षित स्नातक एसोसिएशन के जिला संयुक्त मंत्री अफरोज अहमद ने बताया कि लंबी यात्रा करना महामारी को आमंत्रित करने जैसा है। यदि अभ्यर्थी किसी तरह सेंटर पर जाते हैं और बीमारी के शिकार होते हैं तो कौन जिम्मेदार होगा। इन परिस्थितियों को समझते हुए फैसले को बदलने की जरूरत है। आयोग के अध्यक्ष और परीक्षा नियंत्रक फिर से कुछ विचार करें। अभ्यर्थियों के हित में निर्णय लें।

आयोग की वेबसाइट से डाउनलोड कर सकते हैं प्रवेशपत्र

लोकसेवा आयोग के परीक्षा नियंत्रक अरविंद कुमार की सूचना के अनुसार अभ्यर्थी प्रवेशपत्र लोकसेवा आयोग की वेबसाइट से अपलोड कर सकते हैं। अपने रजिस्ट्रेशन नंबर व जन्मतिथि के आधार पर यह किया जा सकता है। केंद्र पर अभ्यर्थियों को दो फोटो, परिचयपत्र ले जाना अनिवार्य है।

Edited By: Brijesh Srivastava

प्रयागराज में कोरोना वायरस से जुडी सभी खबरे

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!