प्रयागराज के ये रेलवे स्‍टेशन एनसीआर में हो सकते हैं शामिल, विधायक की मांग पर रेल मंत्री का आश्‍वासन

विधायक हर्षवर्धन वाजपेयी ने रेल मंत्री अश्विनी वैष्‍णव से मांग की थी कि प्रयागराज शहर में तीन जोन के स्टेशन हैं। प्रयाग और प्रयागराज संगम का कोई मामला है तो लखनऊ जाना पड़ता है। जबकि रामबाग और दारागंज के मामले वाराणसी से हल होते हैं।

Brijesh SrivastavaPublish: Sun, 26 Dec 2021 09:22 AM (IST)Updated: Sun, 26 Dec 2021 09:22 AM (IST)
प्रयागराज के ये रेलवे स्‍टेशन एनसीआर में हो सकते हैं शामिल, विधायक की मांग पर रेल मंत्री का आश्‍वासन

प्रयागराज, जागरण संवाददाता। पूर्वोत्तर रेलवे के स्टेशन रामबाग, दारागंज और उत्तर रेलवे के स्टेशन प्रयाग व प्रयागराज संगम को लंबे समय से उत्तर मध्य रेलवे में शामिल करने की मांग चल रही है। यह मुद्दा प्रयागराज के शहर उत्तरी विधायक हर्षवर्धन वाजपेयी ने रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव के सामने उठाया। रेलमंत्री ने कहा कि वह इस पर जल्द ही फैसला करेंगे।

रेल मंत्री ने एनआर, एनसीआर व एनईआर महाप्रबंधक से मांगी रिपोर्ट

उल्‍लेखनीय है कि केंद्रीय रेलमंत्री शनिवार को प्रयागराज में थे। इसी दौरान विधायक हर्षवर्धन वाजपेयी ने उनसे यह मांग की। रेल मंत्री ने उत्तर रेलवे, उत्तर मध्य रेलवे और पूर्वोत्तर रेलवे के महाप्रबंधक इस संबंध में रिपोर्ट भी मांगी है। केंद्रीय रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव ने उत्तर मध्य रेलवे (एनसीआर) मुख्यालय सुबेदारगंज में रेलवे अफसरों और जनप्रतिनिधियों के साथ बैठक की। बैठक में उन्होंने अधिकारियों से कहा कि वह जनप्रतिनिधियों के सुझाव को दरकिनार न करें। इससे पहले शुक्रवार को उन्होंने वाराणसी में भी ऐसी ही बैठक की और कहा कि रेल सुविधाओं को बेहतर करने के लिए जनप्रतिनिधियों से सुझाव लेते रहे।

विधायक हर्षवर्धन वाजपेयी ने की मांग

एनसीआर मुख्यालय में हुई बैठक में विधायक हर्षवर्धन वाजपेयी ने बताया कि गंगा-यमुना से घिरे इस शहर में तीन जोन के स्टेशन हैं। प्रयाग और प्रयागराज संगम का कोई मामला है तो लखनऊ जाना पड़ता है। जबकि रामबाग और दारागंज के मामले वाराणसी से हल होते हैं। यहां पर एनसीआर जोन का मुख्यालय है तो पूर्वोत्तर और उत्तर जोन के स्टेशन इसी में शामिल किए जाए। इस पर रेलमंत्री ने तीनों जोन के जीएम से पर रिपोर्ट देने काे कहा। साथ ही विधायक को आश्वस्त किया वह इस पर जल्द ही फैसला लेंगे।

प्रयागराज स्‍टेशन पर कामायनी, संगम व गोदान एक्‍सप्रेस के ठहराव की भी मांग

प्रयाग स्टेशन पर मनवर संगम एक्सप्रेस, गोदान और कामायनी एक्सप्रेस के ठहराव की मांग की गई। एनीबेसेंस स्कूल के पास अंडरपास, आइईआरटी क्रासिंग पर ओवरब्रज और अल्लापुर में बाघम्बरी रोड पर फुट ओवरब्रिज की मांग गई तो रेलमंत्री तत्काल मौका मुआयना का निर्देश दिया। शाम को उत्तर रेलवे के एडीआरएम ने इन तीनों स्थलों का मुआयना किया। बैठक में कोरांव विधायक राजमणि कोल ने कोल बिरादरी को अनुसूचित जाति में शामिल करने की मांग की। सांसद केशरी देवी पटेल ने बताया कि शताब्दी एक्सप्रेस को प्रयागराज तक चलाने के लिए पूर्व में ही मांग रखी गई थी। रेल मंत्री से एनसीआर मुख्यालय में मुलाकात के बाद उनके समक्ष इस ट्रेन को प्रयागराज तक चलाने की मांग दोहराई गई। जिस पर उन्होंने सहमति जताते हुए शताब्दी को जल्द ही प्रयागराज तक चलाने का आश्वासन दिया।

Edited By Brijesh Srivastava

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept