चार घंटे तक जीवन और मौत से जूझता रहा खलासी, पेट में घुसी थी सरिया, जानें कैसे बची जान

दिल्‍ली-कोलकाता हाईवे पर कौशांबी के सैनी कोतवाली क्षेत्र में सरिया लदा ट्रकनहर में गिर गया जिससे चालक की मौत हो गई। जबकि साथ रहा खलासी गंभीर रूप से जख्मी हो गया। दोनों के शरीर में ट्रक में लदी सरिया घुस गई थी।

Brijesh SrivastavaPublish: Mon, 17 Jan 2022 03:39 PM (IST)Updated: Mon, 17 Jan 2022 03:39 PM (IST)
चार घंटे तक जीवन और मौत से जूझता रहा खलासी, पेट में घुसी थी सरिया, जानें कैसे बची जान

प्रयागराज, जेएनएन। दिल्‍ली-कोलकाता राष्‍ट्रीय राजमार्ग पर कौशांबी जनपद में सोमवार को हादसा हुआ। सैनी कोतवाली के निकट एक ट्रक अनियंत्रित होकर नहर में गिर गई। हादसे में ट्रक चालक की मौके पर ही मौत हो गई जबकि खलासी गंभीर रूप से जख्‍मी हो गया। राहगीरों की सूचना पर पहुंची पुलिस ने ट्रक में फंसे चालक व खलासी को बाहर निकाला। जख्‍मी खलासी को इलाज के लिए अस्‍पताल में भर्ती कराया गया है। हादसे के बाद हाईवे पर करीब एक घंटे आवागमन प्रभावित रहा।

अलीगढ़ से ट्रक लेकर वाराणसी जा रहा था

अलीगढ़ जिले के थाना रुस्तमपुर कोराह गांव निवासी सुशील सिंह 31 पुत्र जय पाल ट्रक चालक था। सोमवार की भोर फतेहपुर के रनिया से ट्रक पर सरिया लादकर वाराणसी जा रहा था। उसके साथ क्लीनर साकिर अली पुत्र जमील अहमद निवासी मैना कलंदर गढी कोतवाली खुर्जा जनपद बुलंदशहर भी साथ में था।

दिल्‍ली-कोलकाता हाईवे पर कौशांबी में हादसा

कौशांबी जनपद में सैनी कोतवाली गुरुकुल विद्यालय के समीप अचानक अनियंत्रित होकर ट्रक रामगंगा नहर में पलट गया। इससे ट्रक में लदी सरिया केबिन को चीरते हुए चालक सुशील सिंह के पीट के आर पार हो गई। इससे मौके पर ही उसने दम तोड़ दिया। जबकि खलासी साकिर अली के पेट में नुकीली सरिया धंस गई। चार घंटे तक जिंदगी और मौत से जूझता रहा।

ट्रक में फंसे चालक, खलासी को क्रेन की मदद से बाहर निकाला गया

राहगीरों ने हादसा देखा तो पुलिस को सूचना दी। कुछ ही देर में वहां पहुंची पुलिस ने क्रेन मंगवाया और ट्रक में लोड सरिया को अनलोड कराया। इसके बाद ट्रक में फंसे चालक और खलासी को बाहर निकाला गया। गंभीर रूप से घायल खलासी साकिर अली को इलाज के लिए जिला चिकित्सालय मंझनपुर में भर्ती कराया गया। पुलिस ने ड्राइवर के शव का पंचनामा कर पोस्टमार्टम के लिए भेजा है। घटना की जानकारी परिवार वालों को दी गई है। हादसे के बाद हाईवे के दोनों ओर वाहनों की लाइन लग गई। करीब एक घंटे बाद आवागमन बहाल हुआ।

Edited By Brijesh Srivastava

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept