मेडिकल कालेज प्रतापगढ़ में टेस्ट फ्री, जल्द होंगी कई और सुविधाएं, बोले प्राचार्य आर्य देश दीपक

राजकीय मेडिकल कालेज में शासन द्वारा प्रदत्त सभी सुविधाएं मरीजों को दी जा रही हैं। पैथोलॉजी से लेकर सभी तरह की जांच मुफ्त में होती है। दवाओं की कमी नहीं है। अगर कोई कर्मी जांच का पैसा मांगे या दवा न मिले तो मरीज बता सकते हैं।

Ankur TripathiPublish: Tue, 25 Jan 2022 06:40 AM (IST)Updated: Tue, 25 Jan 2022 08:15 AM (IST)
मेडिकल कालेज प्रतापगढ़ में टेस्ट फ्री, जल्द होंगी कई और सुविधाएं, बोले प्राचार्य आर्य देश दीपक

प्रतापगढ़, जागरण संवाददाता। डा. सोनेलाल पटेल राजकीय मेडिकल कालेज में शासन द्वारा प्रदत्त सभी सुविधाएं मरीजों को दी जा रही हैं। पैथोलॉजी से लेकर सभी तरह की जांच मुफ्त में होती है। दवाओं की कमी नहीं है। अगर कोई कर्मी जांच का पैसा मांगे या दवा न मिले तो मरीज बता सकते हैं। यह बात राजकीय मेडिकल कालेज के प्रिंसिपल डा. आर्य देश दीपक ने दैनिक जागरण के हेलो डाक्टर कार्यक्रम में पाठकों के सवालों का फोनलाइन पर जवाब देते हुए कही। प्रस्तुत हैं सवाल-जवाब के मुख्य अंश

प्रश्न : मेडिकल कालेज बनने के बाद भी कई डाक्टर निजी प्रैक्टिस करते हैं, इस पर रोक कब तक लगेगी? आलोक कुमार सिंह, पूर्व प्रधान भुपियामऊ।

उत्तर : जिला अस्पताल का स्वरूप मेडिकल कालेज में बदल रहा है। धीरे-धीरे सब सुधार हो जाएगा। चिकित्सकों से कहा गया है कि वह निर्धारित समय में ओपीडी में जरूर रहें। मरीजों को दिक्कत न होने पाए।

प्रश्न : अस्पताल में आपरेशन की क्या सुविधाएं आधुनिक हुई हैं? अजय क्रांतिकारी मानधाता।

उत्तर : इस समय अस्पताल में कन्वेंशनल सर्जरी हो रही है। एंडोस्कोपी अभी उपलब्ध नहीं है। आगे और कई सुविधाएं बढ़ेंगी।

प्रश्न : कई दिनों से जुकाम व बुखार, शरीर में दर्द है, क्या हो सकता है? भानु प्रताप सिंह भोजपुर बिहारगंज।

उत्तर : यह मौसम सर्द है और कोरोना भी चल रहा है। ऐसे में अस्पताल आकर जांच करा सकते हैं। जैसे लक्षण होंगे वैसा उपचार यहां उपलब्ध है।

प्रश्न : मेडिकल कालेज बनने के बाद अब यहां पर क्या-क्या सुविधाएं बढ़ रही हैं? तीर्थराज शुक्ला अलुआमई।

उत्तर : अभी अस्पताल का नया सेक्टर निर्माणाधीन है। निर्माण पूरा हो जाने पर यहां पर एमआरआइ, सीटी स्कैन सहित कई तरह की सुविधाएं बढ़ाई जाएंगी। इससे मरीजों को काफी राहत महसूस होगी।

प्रश्न : कई बार बाहर की दवाएं लिख दी जाती हैं, जांच भी यहां नहीं हो पाती ऐसे में क्या करना चाहिए? कमलेश शर्मा मानधाता।

उत्तर : अस्पताल में सभी प्रकार की जांचें फ्री हैं। जीवनरक्षक दवाओं की भी कोई कमी नहीं है। अगर कोई कर्मचारी पैसे की मांग करता है तो उसके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। आप शिकायत कर सकते हैं।

प्रश्न : कोरोना की जांच कितनी तरह से होती है? हर्ष नारायण विक्रमपट्टी।

उत्तर : कोरोना की जांच बहुत जरूरी है। एंटीजन जांच होती है। आपरेशन करने के पहले जरूरी होने पर ट्रू नेट जांच होती। कंफर्मेशन के लिए आरटीपीसीआर जांच कराई जाती है। कोरोना जांच लैब भी काम कर रहा है।

प्रश्न : मेरे हाथ की उंगलियों की रेखाएं कमजोर हो गई हैं, आयुष्मान कार्ड का उपयोग कैसे किया जाए? हरिश्चंद्र श्रीवास्तव भदरी हाउस।

उत्तर : मेडिकल कालेज के प्रताप बहादुर अस्पताल में आकर आयुष्मान विभाग से संपर्क करें, आपको सुविधा दी जाएगी।

प्रश्न : अस्पताल में क्या-क्या सुविधाएं इस समय उपलब्ध हैं? बृजेश पटेल मिश्रपुर

उत्तर : कालेज के दोनों अस्पतालों में खून की जांच, एक्स-रे व अल्ट्रासाउंड हो रहा है। ग्राउंड फ्लोर पर सीटी स्कैन भी जल्दी ही शुरू होगा।

प्रश्न : हाइड्रोसील के मरीज हैं, बूस्टर डोज लग गई है क्या आपरेशन हो सकता है? राघव मिश्रा कोहंड़ौर।

उत्तर : बूस्टर डोज लग जाने के बाद इस छोटे से आपरेशन के लिए सोचने की जरूरत नहीं है। अस्पताल आकर सर्जन से संपर्क करें। आपरेशन हो जाएगा।

प्रश्न : कोरोना से बचने के लिए क्या करना चाहिए? राम नारायण सांगीपुर।

उत्तर : काेरोना की तीसरी लहर से बचकर रहने की जरूरत है। पहले की जो गाइडलाइन है उसी का पालन करें। मास्क लगाएं सैनिटाइजर का उपयोग करें आपस में दूरी बनाएं। बुखार-जुकाम होने पर चिकित्सक से संपर्क करें।

Edited By Ankur Tripathi

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept