This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.
OK

CoronaVirus Effect : आपको फ्लैट के लिए अभी एक और वर्ष करना पड़ सकता है इंतजार Prayagraj News

गर्मी में ही बिल्डर भी ग्रुप हाउसिंग भवनों में तेजी से काम कराते हैैं लेकिन लॉकडाउन की वजह से सब कुछ ठप है। इसलिए इस बार दीपावली पर फ्लैट दे पाना मुश्किल है।

Brijesh SrivastavaWed, 15 Apr 2020 07:20 PM (IST)
CoronaVirus Effect : आपको फ्लैट के लिए अभी एक और वर्ष करना पड़ सकता है इंतजार Prayagraj News

प्रयागराज, जेएनएन। कोरोना वायरस के संकट की वजह से लोगों के घरों का सपना फिलहाल टूट गया है। अब उन्हें फ्लैट के लिए एक वर्ष और इंतजार करना पड़ सकता है। निर्माणाधीन ग्रुप हाउसिंग भवनों में काम करने वाले ज्यादातर राजगीर और मजदूर घर चले गए हैैं। लॉकडाउन के चलते बिल्डरों को भी समझ नहीं आ रहा है कि ग्राहकों को समय पर कैसे फ्लैट उपलब्ध कराएंगे।

दीपावली पर फ्लैट देने का रहता है दबाव

दीपावली पर ग्राहकों को फ्लैट देने का ज्यादा दबाव रहता है। ग्राहक इसी उम्मीद में रहते हैैं और बराबर किश्त भी देते रहते हैैं। वैसे गर्मी में ही बिल्डर भी ग्रुप हाउसिंग भवनों में तेजी से काम कराते हैैं लेकिन लॉकडाउन की वजह से सब कुछ ठप है। इसलिए इस बार दीपावली पर फ्लैट दे पाना मुश्किल है।

खास बातें

- 55 अपार्टमेंट के करीब शहर और आसपास में हैैं निर्माणाधीन

- 01 वर्ष का करना हो सकता है फ्लैट के लिए इंतजार

- 50 फीसद से ज्यादा ग्राहकों को समय पर नहीं मिल सकेगा घर

- 42 सौ लोग कुछ रकम एडवांस देकर दे चुके हैैं कई किश्त।

गिट्टïी और बालू का भी संकट

गर्मी में ही गिट्टïी और बालू का खनन तेज होता है और बिल्डर निर्माण के लिए इसे स्टॉक भी कर लेते हैैं, क्योंकि जुलाई के अंत में बारिश होने पर खनन कार्य बंद हो जाता है।

जल्द ही अफसरों से मिलेंगे बिल्डर

बिल्डरों का प्रतिनिधिमंडल शीघ्र ही मंडलायुक्त, डीएम और पीडीए उपाध्यक्ष से मुलाकात कर अपनी बात रखेगा। बिल्डर संजीव जैन का कहना है कि साइट पर काम रुका हुआ है, इससे सीमेंट भी खराब हो रही है। जीएसटी और बैैंकों के इंटरेस्ट तो देने होंगे। वहीं बिल्डर अमित गोयल का कहना है कि मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़ व बिहार के काफी श्रमिकों को यहां रोका गया है।

इन इलाकों में बन रही ग्रुप हाउसिंग

सिविल लाइंस, सुलेमसराय, अशोक नगर, राजापुर, झलवा, पीपल गांव, करेली, अल्लापुर, जार्जटाउन, टैगोर टाउन, तेलियरगंज, सलोरी, गोविंदपुर, झूंसी, अंदावा, सहसों, फाफामऊ, नैनी, रीवां रोड, औद्योगिक क्षेत्र।

Edited By: Brijesh Srivastava

प्रयागराज में कोरोना वायरस से जुडी सभी खबरे

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!