प्रयागराज में छात्राें के बवाल मामले में गिरफ्तार आरोपित के बैंक खाते की जांच होगी

रेलवे एनटीपीसी सीबीटी वन के रिजल्ट व ग्रुप डी परीक्षा में किए गए बदलाव को लेकर पुलिस बल पर पथराव के साथ ही उपद्रव के पीछे राजनीतिक फंडिंग का तथ्य सामने आया था। इसके जांच के लिए एसएसपी ने 11 सदस्यीय टीम गठित की है।

Brijesh SrivastavaPublish: Sat, 29 Jan 2022 09:12 AM (IST)Updated: Sat, 29 Jan 2022 09:12 AM (IST)
प्रयागराज में छात्राें के बवाल मामले में गिरफ्तार आरोपित के बैंक खाते की जांच होगी

प्रयागराज, जागरण संवाददाता। प्रयागराज में छात्रों के बवाल मामले में पकड़े गए राजेश सचान पर पुलिस ने शिकंजा कसना शुरू कर दिया है। राजनीतिक फंडिंग को लेकर इसके बैंक खातों की जांच के साथ अब सभी डेलीगेसी में एक रजिस्टर तैयार किया जाएगा, जिसमें छात्रों की पूरी जानकारी दर्ज की जाएगी। पुलिस ने मामले में तीन नामजद व एक हजार अज्ञात छात्रों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया है। इसमें छात्र नेता समेत तीन लोगों की गिरफ्तारी की गई है। सीसीटीवी फुटेज के आधार पर पुलिस शेष आरोपितों की तलाश कर रही है।

रेलवे की परीक्षा में बदलाव को लेकर बवाल हुआ था

रेलवे एनटीपीसी सीबीटी वन के रिजल्ट व ग्रुप डी परीक्षा में किए गए बदलाव को लेकर पुलिस बल पर पथराव के साथ ही उपद्रव के पीछे राजनीतिक फंडिंग का तथ्य सामने आया था। इसके जांच के लिए एसएसपी ने 11 सदस्यीय टीम गठित की है।

प्रयागराज शहर हाई अलर्ट रहा

छात्रों के बंद के ऐलान और बवाल की आशंका को देखते हुए शुक्रवार को शहर से लेकर स्टेशन हाई अलर्ट रहा। स्टेशन बिल्डिंग के अंदर बाहर जीआरपी और आरपीएफ तैनात रही। प्रवेश मार्ग और निकासी मार्ग पर जीआरपी टुकड़ी भोर से ही तैनात रही। स्टेशन आने जाने वाले प्रत्येक शख्स और संदिग्ध लोगों पर गहरी नजर रखी गई।

गुरुवार को इंटरनेट मीडिया के जरिए कुछ छात्रों ने 28 जनवरी को भारत बंद की चेतावनी दी थी। उसके बाद खुफिया तंत्र ने हाई अलर्ट जारी कर दिया। आशंका थी कि छात्र किसी स्टेशन या रेलवे ट्रैक कर प्रदर्शन कर सकते हैं। दोपहर में पेंड्रोल क्लिप निकलने का फर्जी वीडियो भी वायरल हुआ। इसे प्रयाग का बताया गया था। जांच में यह फर्जी निकला। एनसीआर के सीपीआरओ डा. शिवम शर्मा ने बताया कि कहीं कोई भी अप्रिय घटना नहीं हुई।

आरआरबी के शिकायत कैंप में पहले दिन 1013 शिकायतें

रेलवे भर्ती बोर्ड (आरआरबी) इलाहाबाद द्वारा कोरल क्लब में परीक्षार्थियों की शिकायत व सुझाव सुनने के लिए कैंप लगा। पहले दिन 1013 शिकायतें आई। इसमें 910 लोगों ने आनलाइन गूगल लिंक के माध्यम से शिकायत की। 100 ईमेल आए व तीन परीक्षार्थियों ने कैंप में पहुंच कर अपनी शिकायत दर्ज कराई। यह जानकारी आरआरबी बोर्ड के चेयरमैन आरए जमाली ने दी।

एसएसपी ने कहा- सभी डेलीगेसी में बनेगा रजिस्‍टर

एसएसपी अजय कुमार ने कहा कि सभी डेलीगेसी में एक रजिस्टर बनेगा, जिसमें वहां रहने वाले छात्रों के बारे में पूरी जानकारी रहेगी। राजनीतिक फंडिंग की बात सामने आई है। दो दिन पहले हुए बवाल के मामले में गिरफ्तार किए गए आरोपित के बैंक खातों की भी जांच होगी। इसके लिए 11 सदस्यीय टीम का गठन भी किया गया है।

Edited By Brijesh Srivastava

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept