प्रयागराज में गंगा, यमुना के विहंगम संगम देख अभिभूत हुए भारत गौरव ट्रेन के यात्री, देश भ्रमण पर निकले हैं

भारत गौरव ट्रेन के यात्रियों को देश में भगवान श्रीराम के जहां पग पड़े थे और उनके पड़ाव से जुड़े स्थलों को दिखाया जा रहा है। इसके तहत ये यात्रा प्रयागराज पहुंचे। गंगा यमुना के संगम में स्‍नान कर बांध स्थित लेटे हनुमान व अक्षयवट का दर्शन किया।

Brijesh SrivastavaPublish: Mon, 27 Jun 2022 03:15 PM (IST)Updated: Mon, 27 Jun 2022 03:15 PM (IST)
प्रयागराज में गंगा, यमुना के विहंगम संगम देख अभिभूत हुए भारत गौरव ट्रेन के यात्री, देश भ्रमण पर निकले हैं

प्रयागराज, जागरण संवाददाता। भारत गौरव ट्रेन से आए देशी, विदेशी पर्यटकों ने सोमवार को गंगा, यमुना के पावन संगम में पुण्य की डुबकी लगाई। गंगा नोज पर प्रयागराज मेला प्राधिकरण के अधिकारियों ने उनकी अगवानी की। पवित्र त्रिवेणी में स्नान-दान के बाद श्रद्धालुओं ने अक्षयवट, बड़े हनुमान मंदिर व शंकर विमान मंडपम में दर्शन-पूजन किया।

श्रीराम के जीवन से जुड़े स्‍थलों से गुजरेगी भारत गौरव ट्रेन : क्षेत्रीय पर्यटन अधिकारी अपराजिता सिंह ने बताया कि पर्यटकों ने भरद्वाज आश्रम और उसके बाद श्रृंगवेरपुर का भी भ्रमण किया। आज शाम को सभी यात्री चित्रकूट के लिए रवाना होंगे। ट्रेन इन यात्रियों को बुधवार को मानिकपुर में मिलेगी। वहां से लेकर मध्य प्रदेश फिर महाराष्ट्र की ओर रवाना होगी। नासिक, रामेश्वरम, कांचिपुरम, भद्राचलम होते हुए ट्रेन आठ जून को दिल्ली पहुंचेगी। यह ट्रेन की 18 दिनों की यात्रा में भगवान श्रीराम के जीवन से जुड़े देश के विभिन्न स्थलों से गुजरेगी।

भारत गौरव यात्रा के साक्षी बने शिक्षाविद, न्यायविद : श्रीरामायण यात्रा के तहत भगवान श्रीराम के जहां पग पड़े थे और उनके पड़ाव से जुड़े स्थलों पर पर्यटकों को घुमाया जा रहा है। रेल व पर्यटन मंत्रालय की ओर से धार्मिक पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए शुरू की गई इस आध्यात्मिक यात्रा के शिक्षाविद, न्यायविद, पर्यावरणविद भी साक्षी बन रहे हैैं। यात्रा में गुजरात, राजस्थान, बंगाल, दिल्ली, पंजाब के बड़े कारोबारी भी हैैं। रक्षा, सड़क, सिंचाई, चिकित्सा, पुलिस, रेल, परिवहन विभाग के 50 से ज्यादा रिटायर्ड क्लास वन अफसर भी हैैं। इस यात्रा में देश के 17 राज्यों के यात्री शामिल हैैं। इसमें सबसे ज्यादा राजस्थान, मध्य प्रदेश और उत्तर प्रदेश के यात्री शामिल हैैं।

Edited By Brijesh Srivastava

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept