This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.
OK

Allahabad University और संघटक कॉलेजों में वेब कैम की निगरानी में ऑनलाइन होंगी वार्षिक-सेमेस्टर परीक्षाएं

इलाहाबाद केंद्रीय विश्वविद्यालय (इविवि) समेत संघटक कॉलेजों के शैक्षणिक सत्र 2020-21 की सेमेस्टर और वार्षिक परीक्षाएं ऑनलाइन मोड में ही होंगी। खास बात यह है कि परीक्षार्थियों को घर बैठे वेब कैम की निगरानी में केवल चार सवाल ही हल करने होंगे।

Ankur TripathiFri, 05 Feb 2021 09:38 PM (IST)
Allahabad University और संघटक कॉलेजों में वेब कैम की निगरानी में ऑनलाइन होंगी वार्षिक-सेमेस्टर परीक्षाएं

प्रयागराज, जेएनएन। इलाहाबाद केंद्रीय विश्वविद्यालय (इविवि) समेत संघटक कॉलेजों के शैक्षणिक सत्र 2020-21 की सेमेस्टर और वार्षिक परीक्षाएं ऑनलाइन मोड में ही होंगी। खास बात यह है कि परीक्षार्थियों को घर बैठे वेब कैम की निगरानी में केवल चार सवाल ही हल करने होंगे। यह अहम निर्णय शुक्रवार को कुलपति प्रोफेसर संगीता श्रीवास्तव की अध्यक्षता में हुई परीक्षा समिति की बैठक में लिया गया।

परीक्षा समिति की बैठक में लिए गए अहम निर्णय

इविवि के परीक्षा नियंत्रक प्रोफेसर रामेंद्र कुमार सिंह ने बताया कि 15 मार्च से परास्नातक की सेमेस्टर, 15 अप्रैल से स्नातक की वार्षिक परीक्षाएं कराई जाएंगी। पीजी की परीक्षाएं 10 दिन जबकि यूजी की परीक्षाएं तकरीबन 45 दिनों में पूरी कराई जाएंगी। परीक्षार्थियों को लैपटॉप का वेब कैमरा ऑन करने के बाद सिर्फ 12 पेज में चारों सवाल हल करने होंगे। हालांकि, यह भी स्पष्ट किया गया है कि वेब कैमरा नहीं होने पर भी परीक्षा दे सकेंगे। 

परीक्षा के लिए खास बातों का रखें ख्याल

एक सवाल के लिए तीन पेज निर्धारित हैं। नए सवाल का उत्तर नए पेज में ही लिखना होगा। लिखित परीक्षा की समय अवधि दो घंटे तय की गई है। परीक्षार्थियों को 30 मिनट का समय अलग से दिया जाएगा, जिससे वह अपनी उत्तरपुस्तिका को पीडीएफ में बदलकर अपलोड कर सकेंगे। प्रश्नों के अधिकतम अंक विभाग तय करेगा। छात्र उत्तरपुस्तिका अपलोड करने से पहले स्क्रीनशॉट सुरक्षित रख लें। परीक्षा का विस्तृत कार्यक्रम वेबसाइट पर जल्द होगा। जनसंपर्क अधिकारी डॉ. जया कपूर ने बताया कि उत्तरपुस्तिका का मूल्यांकन कार्य भी ऑनलाइन ही होगा।

प्रायोगिक परीक्षाएं भी ऑनलाइन

परीक्षा नियंत्रक ने बताया कि ऑनलाइन मोड में प्रायोगिक परीक्षाएं भी कराई जाएंगी। इसके लिए विभागों की तरफ से छात्र-छात्राओं को असाइनमेंट देंगे। फिर वायवा के जरिए उनका प्रयोगात्मक परीक्षा कराई जाएगी। साथ ही मौखिक परीक्षा जूूम या गूगल मीट के जरिए कराई जाएगी।

Edited By Ankur Tripathi

प्रयागराज में कोरोना वायरस से जुडी सभी खबरे

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
Jagran Play

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

  • game banner
  • game banner
  • game banner
  • game banner