This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.
OK

उधमपुर-दुर्ग एक्सप्रेस में अग्निकांड के बाद बोगियों में फायर और स्मोक डिटेक्शन सेंसर की जांच

दो एसी कोचों में आग लगने की घटना के बाद एनसीआर की ट्रेन के कोचों में फायर एवं स्मोक डिटेक्शन सेंसर की जांच शुरु हुई। ट्रेनों और रेलवे प्रतिष्ठानों में उपलब्ध संरक्षा समाधानों की समीक्षा करते हुए महाप्रबंधक ने अग्निकांड की रोकथाम और सुरक्षा तैयारियों पर जानकारी साझा की।

Ankur TripathiWed, 01 Dec 2021 09:00 AM (IST)
उधमपुर-दुर्ग एक्सप्रेस में अग्निकांड के बाद बोगियों में फायर और स्मोक डिटेक्शन सेंसर की जांच

प्रयागराज, जागरण संवाददाता। हेतमपुर स्टेशन पर उधमपुर-दुर्ग एक्सप्रेस के दो एसी कोचों में आग लगने की घटना के बाद एनसीआर की ट्रेन के कोचों में फायर एवं स्मोक डिटेक्शन सेंसर की जांच शुरु हुई। आग की घटनाओं को रोकने के लिए अब तक इंतजाम परखे जा रहे हैं। ट्रेनों और रेलवे प्रतिष्ठानों में उपलब्ध संरक्षा समाधानों की समीक्षा करते हुए महाप्रबंधक प्रमोद कुमार ने आग के मामलों की रोकथाम और सुरक्षा तैयारियों पर जानकारी साझा की।

घटना के बाद त्वरित कार्रवाई पर रिपोर्ट देखी गई

महाप्रबंधक ने बताया कि प्रधान मुख्य संरक्षा अधिकारी एम.के. गुप्ता की अध्यक्षता में घटना की विस्तृत जांच के लिए कमेटी गठित हुई है। घटना के बाद त्वरित कार्रवाई पर रिपोर्ट देखी गई। जिसमें प्रभावित ट्रेन के गार्ड, टीटीई और लोकोपायलट, बगल की लाइन पर खड़ी मालगाड़ी के गार्ड, हेतमपुर स्टेशन के स्टेशन मास्टर और पॉइंटमैन और आरपीएफ के जवानों द्वारा की गई कार्यवाई आदि शामिल रही।

सुरक्षित सफर सुनिश्चित करने के लिए गहन आत्मनिरीक्षण

महाप्रबंधक ने सुरक्षित सफर सुनिश्चित करने के लिए गहन आत्मनिरीक्षण करने को कहा। उन्होंने स्टेशनों और ट्रेनों की मिशन मोड में गहन जांच, प्रतिक्रिया ज्ञान का परीक्षण, गाड़ियों में कचरा जमाव पर रोक, ज्वलनशील वस्तु पर प्रतिबंध, वायरिंग की जांच करने व अग्निशामक यंत्रों की उपलब्धता, नियमित अंतराल पर मॉक ड्रिल करने को कहा। प्रधान मुख्य परिचालन प्रबंधक बिप्लव कुमार ने समयपालनता पर विश्लेषण किया। साप्ताहिक संरक्षा बैठक में प्रमुख विभागाध्यक्षों के साथ झांसी, आगरा और प्रयागराज के मंडल रेल प्रबंधक वर्चुअल रूप से शामिल हुए।

दो ट्रेनों में लगाया जा रहा अतिरिक्त कोच

यात्रियों की बढ़ती भीड़ व सीटों की मांग के बीच रेलवे ने प्रयागराज-उधमपुर समत दो ट्रेनों में अतिरिक्त एसी कोच लगाने की घोषणा की है। यह सुविधा पूरे दिसंबर माह में एक महीने तक लागू रहेगी। 22431/22432 प्रयागराज-उधमपुर में प्रयागराज से चार से 28 दिसंबर तक व वापसी में उधमपुर से पांच दिसंबर से 29 दिसंबर तक तृतीय श्रेणी एसी का एक डिब्बा लगाया गया है।04151/04152 कानपुर-लोकामान्य तिलक टर्मी में कानपुर से तीन दिसंबस से 31 दिसंबर तक व लोकामान्य तिलक टर्मी से चार दिसंबर से एक जनवरी तक तृतीय श्रेणी एसी का एक डिब्बा लगाया गया है। उत्तर मध्य रेलवे के जनसंपर्क अधिकारी अमित कुमार ने बताया कि एसी कोच अस्थाई रूप से लगाया गया है। इससे यात्रियों को सुविधा मिलेगी।

नई दिल्ली-रांची के संचालन की तिथि बदली

 रेलवे ने नई दिल्ली-रांची राजधानी एक्सप्रेस को नए नंबर के साथ संचालन करने की तिथि में बदलाव किया है। 12454/12453 नई दिल्ली राजधानी एक्सप्रेस को नई गाड़ी संख्या 20408/20407 में परिवर्तन की प्रभावी तिथि नई दिल्ली से एक दिसंबर के स्थान पर 16 मार्च 2022 बुधवार होगी। जबकि वापसी में रांची से दो दिसंबर की जगह 17 मार्च 2022 को चलेगी। उत्तर मध्य रेलवे के मुख्य जनसंपर्क अधिकारी डा. शिवम शर्मा ने बताया कि तकनीकी कारणों से ट्रेन के संचालन की तिथियों में बदलाव किया गया है। मान सिंह व रमापति को एक्सीडेंट फ्री अवार्डजासं, प्रयागराज : मडल के टूंडला में तैनात लोको पायलट मान सिंह व प्रयागराज में तैनात रमापति को संरक्षित ट्रेन संचालन हेतु एक्सीडेंट फ्री अवार्ड दिया गया। इस दौरान मंडल से सेवानिवृत्त हुए 38 कर्मचारियों को उनके कार्य स्थल पर ही भावभीनी विदाई दी गई। सभी का समापन भुगतान तत्परता से कराते हुए 12 करोड़ 50 लाख रुपए नियमानुसार डिजिटल माध्यम से किया गया। मंडल रेल प्रबंधक मोहित चंद्रा, वरिष्ठ मंडल कार्मिक अधिकारी राजेश कुमार शर्मा, वरिष्ठ मंडल वित्त प्रबंधक रवि पटेल ने सभी को शुभकामनाएं दी।

Edited By Ankur Tripathi

प्रयागराज में कोरोना वायरस से जुडी सभी खबरे

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!