अलीगढ़ में आचार संहिता के उल्लंघन में दो मुकदमे, 1929 शस्त्र जमा

पुलिस ने फ्लैग मार्च कर लोगों से की भयमुक्त होकर मतदान करने की अपील।

JagranPublish: Tue, 18 Jan 2022 02:28 AM (IST)Updated: Tue, 18 Jan 2022 02:28 AM (IST)
अलीगढ़ में आचार संहिता के उल्लंघन में दो मुकदमे, 1929 शस्त्र जमा

जासं, अलीगढ़ : आचार संहिता के दौरान पुलिस बल की ओर से लगातार क्षेत्रों में फ्लैग मार्च किया जा रहा है। ताबड़तोड़ कार्रवाई भी की जा रही हैं। सोमवार को आचार संहिता का उल्लंघन करने पर दो मुकदमे दर्ज किए गए। 1929 शस्त्र भी जमा करवाए गए।

पुलिस ने शहर व देहात के अलग-अलग इलाकों में अ‌र्द्धसैनिक बल के साथ फ्लैग मार्च किया। इनमें कनवरीगंज, सराय मियां, ख्वाजा चौक, महावीरगंज, बारहद्वारी, नगला मसानी, हीरानगर चौराहा, बर्फखाना, अकराबाद के पनैठी, कस्बा कौड़ियागंज, कस्बा पिलखना, कस्बा अकराबाद, नानऊ, रसलगंज, पत्थर बाजार, कबरकुत्ता, सराय रहमान, सारसौल, एलमपुर, रघुवीरपुरी में पुलिस बल ने नागरिकों को सुरक्षा का एहसास दिलाया। अपील की गई कि निर्भीक व निष्पक्ष होकर ़मतदान करें। जिले में बार्डर पर चेकिग अभियान जारी है। राजनीतिक पार्टी के कार्यकर्ताओं व पदाधिकारियों के विरुद्ध थाना खैर व गभाना में दो मुकदमे दर्ज किए गए हैं। 60 लीटर अवैध शराब की बरामदगी हुई। तीन अवैध शस्त्र व तीन कारतूस बरामद किए गए। 1929 लाइसेंसी लाइसेंसी शस्त्र जमा किए गए। चार जब्त, जबकि 17 निरस्त किए गए। संवेदनशील इलाकों में 21 लोगों के खिलाफ निरोधात्मक कार्रवाई हुई। 3321 लोगों को नोटिस भेजे गए। यातायात नियमों का पालन न करने वाले 739 वाहनों के चालान काटे गए। लोगों का विश्वास भी जीत रही पुलिस

पुलिस इन दिनों लोगों का विश्वास भी जीतने में लगी है। एसएसपी ने सभी थानों को विश्वास पर्ची भरवाने के निर्देश दिए हैं। सोमवार को कई इलाकों में लोगों से यह पर्ची भरवाई गईं। इसमें लोगों के नाम-पते लिखवाने के साथ यह अपील की गई है कि भयमुक्त होकर मतदान करें। अगर कोई दिक्कत आती है तो पुलिस के नंबरों पर तत्काल काल करें। इसमें चुनाव हेल्पलाइन 9454402817 समेत कई अधिकारियों के नंबर भी शामिल हैं। सभी से कहा जा रहा है कि कहीं भी कोई संदिग्ध गतिविधि दिखाई दे तो तुरंत फोन करें।

Edited By Jagran

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept