डरावना हुआ डेंगू व बुखार, अलीगढ़ में छह मरीजों की मौत Aligarh news

जिले में डेंगू का डंक व बुखार डरावना हुआ जा रहा है। रोजाना मरीजों के मरने की खबरें आ रही हैं। ग्रामीण क्षेत्र में अब भयावह स्थिति पैदा हो रही है। अतरौली क्षेत्र के गांव मढ़ौली में पांच दिन के भीतर तीन लोगों की मौत होने की सूचना आई।

Anil KushwahaPublish: Mon, 18 Oct 2021 04:02 PM (IST)Updated: Mon, 18 Oct 2021 04:03 PM (IST)
डरावना हुआ डेंगू व बुखार, अलीगढ़ में छह मरीजों की मौत Aligarh news

अलीगढ़, जागरण संवाददाता । जिले में डेंगू का डंक व बुखार डरावना हुआ जा रहा है। रोजाना मरीजों के मरने की खबरें आ रही हैं। ग्रामीण क्षेत्र में अब भयावह स्थिति पैदा हो रही है। अतरौली क्षेत्र के गांव मढ़ौली में पांच दिन के भीतर तीन लोगों की मौत होने की सूचना आई। खास बात ये है कि यह पूर्व मुख्यमंत्री कल्याण सिंह व राज्य मंत्री संदीप सिंह का पैतृक गांव है। वहीं, लोधा क्षेत्र के गांव रायट में दो मरीजों के मरने की खबर है। खैर के गांव गौमत में रविवार को 32 महिला की मृत्यु हो गई। इस तरह डेंगू व बुखार से मरने वाले मरीजों की संख्या करीब 40 पहुंच गई। हालांकि, स्वास्थ्य विभाग ने अभी तक डेंगू से एक भी मृत्यु से इन्कार किया है।

गांव मढ़ौली में बुखार का कहर

अतरौली । गांव मढ़ौली में 24 से अधिक ग्रामीण बुखार की चपेट में हैं। गांव निवासी संदीप कुमार (34) पुत्र लीलाधर की पांच दिन पूर्व अलीगढ़ के प्राइवेट हास्पिटल में उपचार के दौरान मौत हो गई। ज्ञानवती देवी (42) की शनिवार की शाम व खुशी (16) पुत्री होटल सिंह की रविवार सुबह मौत हो गई। इससे परिवार में कोहराम मच गया। गांव में बुखार से रूमलेश देवी पत्नी सत्येंद्र कुमार, मुकेश पुत्र चुन्नी सिंह, कैलाश पुत्र हैतम सिंह, अभिषेक पुत्र महीपाल सिंह, तरुण पुत्र भवेंद्र सिंह, गिरीश पुत्र वीरपाल, हरदेवी पत्नी वीरपाल, रितु, शिव कुमार समेत दो दर्जन से अधिक लोग बुखार से पीड़ित हैं। सीएमओ ने बताया कि मृत्यु की सूचना पर टीम को गांव भेज दिया गया।

एक माह में सात मरीजों की मौत 

खैर। तहसील क्षेत्र के गांवों में वायरल बुखार और डेंगू जमकर कहर बरपा रहा है। मरीजों के इलाज के लिए घर घर चारपाई बिछी हुई है बुखार के कारण आधा दर्जन से ज्यादा मौतों के साथ एक सैकड़ा से अधिक मरीजों का बाहर उपचार चल रहा है। एक माह में हुई सात मरीजों की मौत से लोगों में दहशत है। गांव लक्ष्मनगढ़ी, मानपुर खुर्द, गौमत, महगौरा व कस्बा में वायरल बुखार का प्रकोप है। रविवार को जेएन मेडिकल कालेज में भर्ती गांव गौमत निवासी 32 वर्षीय सुनीता सिंह की मौत हो गई है। उसे भी बुखार था। 

डेंगू व बुखार से मौतों को विभाग ने नकारा 

गंगीरी ब्लाक के गांव दतावली में आठ मरीजों की मौत होने की खबर मिलते ही सीएमअो के नेतृत्व में स्वास्थ्य विभाग की टीम ने कैंप लगाकर मरीजों का उपचार किया। मंडलीय सर्विलांस अधिकारी डा. देवेंद्र कुमार, पब्लिक हेल्थ एक्सपर्ट डा. रोहित गोयल, एपिडेमियोलाजिस्ट डा. शुएब अंसारी व जिला महिला अधिकारी डा. राहुल कुलश्रेष्ठ ने घर-घर जाकर बुखार से हुई मौत का सत्यापन किया। सीएमअो के अनुसार भूदेवी की मृत्यु का कारण वृद्धावस्था पाया गया। जैमी की मृत्यु का कारण डिप्थीरिया, शाइस्ता की मृत्यु का कारण ओबेसिटी, शुगर व मल्टीपल आर्गन डिसफंक्शन है। अन्य मरीजों की मृत्यु कारण एक्यूट फेब्राइल इनलेस है। कोई डेंगू से मृत्यु नहीं है। हालांकि, ग्राम में फागिंग, लार्वा रोधी दवा का छिड़काव किया गया। आशा, आंगनबाड़ी, डीबीसी की सात सात टीम बनाकर घर-घर कूलर, फ्रिज, टायर व पानी के अन्य पात्रों का परीक्षण किया गया। एकत्र पानी में मोबिल आयल डलवाया गया। ग्राम में गंदगी पाई गई। सेक्रेट्री इंद्रजीत व प्रधान सुरेश ने जेसीबी मशीन मंगाकर सफाई कराई। सीएमअो ने टीम के साथ गांव में घूमकर लोगों को जागरूक भी किया। कैंप में 124 बुखार के मरीज चिह्नित किए गए। 14 को सीएचसी छर्रा भेज दिया गया। 

मरीजों का नहीं मिल रहा उपचार, पहुंचे भाजपाई 

दीनदयाल अस्पताल हो या फिर जिला अस्पातल। यहां जैसे-तैसे मरीज तो भर्ती किए जा रहे हैं, लेकिन उपचार न मिलने की शिकायतें लगातार मिल रही हैं। रविवार को भाजपा के महानगर अध्यक्ष डा. विवेक सारस्वत की अगुवाई में प्रतिनिधि मंडल ने जिला अस्पताल का दौरा किया। सीएमएस डा. रामकिशन के साथ अस्पताल की व्यवस्था देखी। मरीजों का हालचाल जाना। मरीजों की बढ़ती संख्या को देखते हुए सीएमएस से बेड बढ़ाने को कहा, जिस पर उन्होंने सहमति व्यक्त की। प्रतिनिधि मंडल में महामंत्री वैभव गौतम, सुधा सिंह, उपाध्यक्ष जितेंद्र वार्ष्णेय जीतू, संजय गोयल, सुरेश शर्मा, महानगर मंत्री संजू बजाज, मंडल अध्यक्ष सुभाष सुभानु, संजय शर्मा, सह मीडिया प्रभारी विशाल देशभक्त आदि उपस्थित रहे।

Edited By Anil Kushwaha

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept