ओमिक्रोन एलर्ट: सिर्फ ऐसे विद्यार्थियों को साइबर सुरक्षा का मिलेगा ज्ञान, जाने विस्‍तार से

माध्यमिक विद्यालयों में कक्षा नौवीं से 12वीं कक्षा के 15 से 18 वर्ष आयु के विद्यार्थियों को वैक्सीन लगाई जा रही है। अब वैक्सीन लगवाने वाले विद्यार्थियों को आनलाइन माध्यम से साइबर सुरक्षा का ज्ञान भी कराया जाएगा।

Sandeep Kumar SaxenaPublish: Fri, 21 Jan 2022 12:29 PM (IST)Updated: Fri, 21 Jan 2022 12:29 PM (IST)
ओमिक्रोन एलर्ट: सिर्फ ऐसे विद्यार्थियों को साइबर सुरक्षा का मिलेगा ज्ञान, जाने विस्‍तार से

अलीगढ़, जागरण संवाददाता। माध्यमिक विद्यालयों में कक्षा नौवीं से 12वीं कक्षा के 15 से 18 वर्ष आयु के विद्यार्थियों को वैक्सीन लगाई जा रही है। अब वैक्सीन लगवाने वाले विद्यार्थियों को आनलाइन माध्यम से साइबर सुरक्षा का ज्ञान भी कराया जाएगा। माध्यमिक विद्यालयों में लगभग 80 से 85 फीसद वैक्सीनेशन का काम पूरा हो चुका है। इनको बताया जाएगा कि मोबाइल पर कोई भी ओटीपी भेजे तो उसको साझा न करें।

ऐसे बरतें सतर्कता

विद्यार्थियों के पास अपने या स्वजन के मोबाइल हैं। स्वजन के बैंक खातों से उनके मोबाइल नंबर भी लिंक हैं। विभागीय अफसरों को अन्य जिलों से मिली जानकारी के अनुसार विद्यार्थियों के मोबाइल पर साइबर ठग वन टाइम पासवर्ड (ओटीपी) भेज सकते हैं। कहा जा सकता है कि उनकी वैक्सीनेशन रिपोर्ट गलती से पहुंच गई है। ओटीपी आया है उसकाे बता दें तो वे अपनी रिपोर्ट प्राप्त कर लेंगे। विद्यार्थी या अभिभावक के ओटीपी बताते ही बैंक खाते से राशि पार हो जाएगी। कुछ जिलों में कोविड-19 की रिपोर्ट गलती से मोबाइल पर जाने की बात कहकर ठगी की जा चुकी है। डीआइओएस डा. धर्मेंद्र कुमार शर्मा ने कहा कि प्रधानाचार्यों व शिक्षकों से कहा जा रहा है कि वैक्सीन लगवाने वाले विद्यार्थियों को आनलाइन माध्यम से जानकारी उपलब्ध करा दें कि मोबाइल पर किसी भी प्रकार की ओटीपी संबंधी या अन्य जानकारी किसी से साझा न करें। इस संबंध में अगर विद्यार्थियों व अभिभावकों के मोबाइल पर संदेश भी भेजने पड़ें तो इस प्रक्रिया को अमल में लाया जाए। इंटरनेट मीडिया पर ग्रुप बनाकर एक साथ संदेश साझा किए जाएं। साथ ही अभिभावकों को भी इस संबंध में जागरूक करें। जिससे किसी भी अप्रिय स्थिति से बचा जा सके।

कब-बुलबुल व स्काउट-गाइड का होगा नवीनीकरण

अलीगढ़ : बेसिक शिक्षा परिषद के स्कूलों में कब-बुलबुल व स्काउट-गाइड कार्यक्रमों के संचालन के लिए शासनस्तर से धनराशि जारी की गई है। इसके तहत स्कूलों में 2018-19 में पंजीकृत कब-बुलबुल व स्काउट-गाइड दलों का वर्ष 2021-22 में नवीनीकरण किया जाएगा। साथ ही गतिविधियों का संचालन भी कराया जाएगा।

इसके लिए शासन से प्रति कब-बुलबुल 365 रुपये और प्रति स्काउट-गाइड 770 रुपये के हिसाब से राशि जारी की गई है। जिले में 19 कब और 20 बुलबुल समेत 39 कब-बुलबुल के लिए 14,235 रुपये जारी किए गए हैं। 17 स्काउट और 16 गाइड समेत 33 स्काउट-गाइड के लिए 25,410 रुपये जारी किए गए हैं। बीएसए सतेंद्र कुमार ने कहा कि अभी शासनस्तर से विद्यालयों में अवकाश है। मगर इस संबंध में ब्लाकवार प्रक्रिया शुरू कराने के लिए रिपोर्ट तैयार कराई जाएगी।

Edited By Sandeep Kumar Saxena

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept