This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.
OK

हाथरस में देर रात मुठभेड़, एक लाख का इनामी गौरव शर्मा व मध्यप्रदेश का शातिर दबोचा aligargh news

छेड़छाड़ के मुकदमे में समझौता न करने पर युवती के पिता की गोली मारकर हत्या करने वाले अलीगढ़ के गौरव को पुलिस ने मंगलवार की रात मुठभेड़ में दबोच लिया। इसके साथ ही मध्यप्रदेश के साथी को भी गिरफ्तार किया है। गौरव पर एक लाख रुपये का इनाम था।

Mukesh ChaturvediTue, 20 Apr 2021 11:38 PM (IST)
हाथरस  में देर रात मुठभेड़,  एक लाख का इनामी गौरव शर्मा व मध्यप्रदेश का शातिर दबोचा aligargh news

जासं, हाथरस :  छेड़छाड़ के मुकदमे में फैसला न करने पर युवती के पिता की हत्या करने के आरोपित गौरव शर्मा और उसके साथी मध्यप्रदेश के मुरैना के सोनू तोमर को पुलिस ने मंगलवार की रात मुठभेड़ में दबोच लिया। इन्हें सासनी-इगलास रोड पर गांव तोछीगढ़ के पास पुलिस ने घेर लिया था। गौरव अलीगढ़ के जवां का है। सासनी क्षेत्र में मौसी के यहां जाता था। वहां युवती से छेड़छाड़़ में जेल गया था। जमानत पर आने के बाद समझौते का दबाव बनानेे लगा। मार्च में युवती के पिता को इसने गोली मार दी थी। इस पर आईजी ने एक लाख रुपये का इनाम घोषित कर दिया था। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने भी इस पर रासुका लगाने के आदेश दिए थे। गौरव व उसके साथी सोनूू के पैर में गोली लगी है। दोनों को जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

यह था मामला 

सासनी के गांव नौजरपुर में एक मार्च को खेत पर आलू की खोदाई करा रहे किसान अमरीश शर्मा को हमलावरों ने गोलियों से भून दिया था। अमरीश शर्मा के परिवार की युवती ने आरोपित गौरव निवासी गांव सौंगरा, थाना जवां अलीगढ़ पर जुलाई 2018 में छेड़छाड़ का मुकदमा दर्ज कराया था। इसी मुकदमे की वापसी का दबाव बनाते हुए किसान की हत्या की गई थी। मृतक की बेटी ने गौरव शर्मा, ललित शर्मा, रोहिताश और निखिल के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया था। सभी आरोपिताें को गिरफ्तार कर पुलिस जेल भेज चुकी है। मुख्य आरोपित की गौरव शर्मा की तलाश के लिए चार टीमें लगी हुई थीं। किसान की हत्या के बाद उनकी बेटी का मार्मिक वीडियो वायरल होने पर यह हत्याकांड देशभर में चर्चाओं में आ गया था। गौरव पर आइजी ने एक लाख रुपये का इनाम घोषित किया था, जबकि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने रासुका लगाने के आदेश दिए थे। 

इगलास रोड पर हुई मुठभेड़ 

एसपी विनीत जायसवाल के अनुसार मंगलवार की रात को मुखबिर की सूचना पर सासनी, हाथरस गेट पुलिस और एसओजी टीम सासनी-इगलास रोड पर चेकिंग कर रही थी। रात करीब 10 बजे तोछीगढ़ के पास बिना नंबर की क्रेटा कार को पुलिस ने रुकवाया। उसमें तीन लोग सवार थे। दो लोग फायरिंग करते हुए कार से उतरकर भागे। पुलिस ने उनकी घेराबंदी शुरू की। इस बीच एक युवक कार को लेकर भाग गया, जबकि दो अन्य खेतों के तरफ छिपकर पुलिस पर फायरिंग करते रहे। जवाबी फायरिंग करते हुए पुलिस ने दोनों को दबोच लिया। इनमें एक गौरव शर्मा था, जबकि दूसरा सोनू तोमर उर्फ श्याम सिंह निवासी चिंते का पुरा थाना दिमनी जिला मुरैना था।

अस्पताल में कराया भर्ती 

गौरव के दोनों पैरों में गोली लगी हैं जबकि सोनू के एक पैर में गोली लगी। उन्हें जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है। एसपी के मुताबिक सोनू तोमर मध्यप्रदेश के परमाल गैंग का शूटर है। उसने जुलाई 2019 में ग्वालियर के प्रॉपर्टी डीलर पंकज सिकरवार की हत्या की थी। ग्वालियर में उस पर 30 हजार रुपये अौर मुरैना में 10 हजार रुपये का इनाम घोषित है। एसपी ने बताया कि हाथरस पुलिस और एसओजी ने मुठभेड़ के बाद गौरव शर्मा और उसके साथी साेनू तोमर को गिरफ्तार किया है। दोनों पुलिस पर फायरिंग करते हुए भागने की फिराक में थे। गौरव के दोनों पैरों में तो सोनू के एक पैर में गोली लगी है। उन्हें जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

अलीगढ़ में कोरोना वायरस से जुडी सभी खबरे

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!