राजनीति के रण में आधुनिकता के हथियार संग उतरे छात्र संगठन, वर्चुअली हो रही सेंधमारी

UP Assembly Elections 2022 विधानसभा चुनाव को लेकर पूरे प्रदेश में गहमा गहमी का माहौल है रैली व सभाओं पर रोक के चलते राजनीतिज्ञों ने वर्चुअल प्रचार का सहारा लिया है इसमें छात्र संगठन महती भूमिका निभा रहे हैं। अलग अलग पार्टियों की स्टूडेंट विंग ने मोर्चा संभाल रखा है।

Anil KushwahaPublish: Tue, 25 Jan 2022 08:30 AM (IST)Updated: Tue, 25 Jan 2022 08:45 AM (IST)
राजनीति के रण में आधुनिकता के हथियार संग उतरे छात्र संगठन, वर्चुअली हो रही सेंधमारी

गाैरव दुबे, अलीगढ़ । UP Assembly Elections 2022 विद्यार्थी राष्ट्र का भविष्य होते हैं। कालेज जीवन में छात्र राजनीति करते हुए अपनी पार्टियों का झंडा बुलंद करने वाले छात्रनेता अब अपने-अपने दलों के लिए चुनावी रण में कूद गए हैं। कोरोना संक्रमण के दौर में प्रचार व रैली आदि तो नहीं कर सकते, ऐसे में राजनीति के रण में आधुनिकता के हथियार संग छात्र संगठन आ गए हैं। कोई लोगों से संपर्क कर उनको पार्टी की उपलब्धियां गिना रहा है तो कोई वर्चुअली माध्यम से छात्रों से जुड़कर मतदाता जागरूकता फैला रहा है तो कोई पार्टियों के स्टूडेंट मेनिफेस्टो के बारे में बता रहा है। अलग-अलग पार्टियों की स्टूडेंट विंग क्या कारनामे कर रहीं हैं? आप भी जानिए...।

घोषणा पत्र को लेकर जा रहे लोगों के बीच

समाजवादी छात्र सभा की कमान संभाले रवि सैनी चुनाव में पूरी कर्मठता से लगे हुए हैं। उनके साथ सौ से अधिक कार्यकर्ता लगे हुए हैं। लोगों के घर-घर जाकर पार्टी के चुनावी घोषणा पत्र से जुड़े विद्युत के संबंधी योजना के फार्म भरवा रहे हैं। छात्र-छात्राओं को शिक्षा के लिए दिए गए मुफ्त लाभों का प्रचार भी कर रहे हैं। युवाओं को रोजगार देने संबंधी घोषणा हो या महिलाओं के हित में उठाए जाने वाले कदम हों, विद्यार्थियों के बीच व घरों में इसका प्रचार भी कर रहे हैं। साथ ही मतदान के प्रति ज्यादा से ज्यादा लोगों को जागरूक करने का काम भी किया जा रहा है। प्रदेश की जनता के लिए कौन सही है? इसके बारे में भी बताया जा रहा है।

युवाओं को कर रहे जागरूक

नेशनल स्टूडेंट यूनियन आफ इंडिया (एनएसयूआइ) के कार्यकर्ता कांग्रेस के पक्ष में माहौल बनाने में जुटे हैं। प्रियंका गांधी के स्टूडेंट मेनिफेस्टो को छात्रों के बीच में बताया जा रहा है। एनएसयूआइ के राष्ट्रीय सचिव नितिश गौड़ की अगुवाई में संगठन के पदाधिकारी आनलाइन माध्यम से विद्यार्थियों से संपर्क कर हर योजना के बारे में बता रहे हैं। क्षेत्रों में निकलकर लोगों से संपर्क भी कर रहे हैं। इसके साथ ही मतदाता जागरूकता का काम भी आनलाइन ही किया जा रहा है। चुनावी मैदान में रहने वालों ने किस-किस क्षेत्र में जनता को ठगा है इसके बारे में भी तथ्यों के साथ युवाओं को जागरूक किया जा रहा है।

मतदान का बता रहे महत्व

अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद (एबीवीपी) की प्रांतीय मंत्री बलदेव चौधरी सीटू ने बताया कि किसी पार्टी का झंडा नहीं उठाएगी। अभी संगठन की ओर से पत्रक मंगवाए जा रहे हैं। जिनके जरिए मतदाताओं को जागरूक किया जाएगा। मतदान का महत्व बताया जाएगा। संगठन राष्ट्रवाद से प्रेरित है। इसलिए देश में अनुच्छेद 370 खत्म करने जैसे कड़े निर्णय लेने, देश व प्रदेश में सुशासन लाने वाले फिर से सत्ता में आएं ऐसा संगठन का हर कार्यकर्ता चाहता है। अभी विद्यालयों में अवकाश चल रहा है। इसलिए आनलाइन माध्यम से ही देशहित में मतदान करने के लिए युवाओं से संपर्क किया जा रहा है।

युवाओं ने संभाली आइटी सेल की जिम्मेदारी

रालोद छात्र सभा का एक-एक कार्यकर्ता हर विधानसभा में डटा हुआ है। पार्टी के कार्यों व नीतियों को जन-जन तक पहुंचाया जा रहा है। आनलाइन माध्यम से भी बड़ी संख्या में युवाओं व जनता से संपर्क कर जानकारी दी जा रही है। रालोद छात्रसभा के जिलाध्यक्ष देवेंद्र फौजदार के अनुसार हर क्षेत्र से ज्यादा से ज्यादा मतदाता अपना वोट देने आगे आएं, इसके लिए भी जागरुक अभियान चलाया जा रहा है। इस बार प्रचार भी आनलाइन ही होना है तो युवा कार्यकर्ताओं को आइटी सेल की जिम्मेदारी सौंप दी गई है। आनलाइन माध्यम से झूठे व कोरे वादों को जनता के सामने लाया जा रहा है। कार्यकर्ता जोर-शोर से अपनी पार्टी के लिए काम कर रहे हैं।

Edited By Anil Kushwaha

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept
ट्रेंडिंग न्यूज़

मौसम