कोरोना की रफ्तार ही कुंद, होम आइसोलेशन से तेजी से स्‍वस्‍थ्‍य हो रहे मरीज

कोविड-19 संक्रमण की रफ्तार भले ही चिंता बढ़ा रही हो लेकिन पहले जैसी घातकता अब नहीं दिख रही। मात्र दो से तीन फीसद रोगियों को कोविड केयर सेंटरों में भर्ती करने की जरूरत पड़ रही है। अन्य रोगी होम आइसोलेशन में उपचार लेकर स्वस्थ हो रहे हैं।

Anil KushwahaPublish: Wed, 19 Jan 2022 09:22 AM (IST)Updated: Wed, 19 Jan 2022 09:45 AM (IST)
कोरोना की रफ्तार ही कुंद, होम आइसोलेशन से तेजी से स्‍वस्‍थ्‍य हो रहे मरीज

अलीगढ़, जागरण संवाददाता। कोविड-19 संक्रमण की रफ्तार भले ही चिंता बढ़ा रही हो, लेकिन पहले जैसी घातकता अब नहीं दिख रही। मात्र दो से तीन फीसद रोगियों को कोविड केयर सेंटरों में भर्ती करने की जरूरत पड़ रही है। अन्य रोगी होम आइसोलेशन में उपचार लेकर स्वस्थ हो रहे हैं। यह कोविड प्रोटोकाल का पालन व सही देखभाल से संभव हो रहा है। कोविड की जांच, उपचार और इंटीग्रेटेड कमांड व कंट्रोल सेंटर से ऐसे रोगियों की नियमित निगरानी हो रही है। परामर्श भी दिया जा रहा है।

वर्तमान में 1400 सक्रिय रोगी

मुख्य चिकित्सा अधिकारी डा. नीरज त्यागी ने बताया कि इस बार अधिकतर संक्रमित रोगियों में हल्के-फुल्के लक्षण या फिर कोई लक्षण नहीं मिल रहे। वर्तमान में 1400 से अधिक सक्रिय रोगी हैं। अधिकतर को होम आइसोलेशन में उपचार दिया जा रहा है। कंट्रोल रूप से रोगियों की सेहत पर निरंतर नजर रखी जाती है। काल करके रोगियों की सेहत के बारे में पूछा जाता है। कोई भी समस्या होने पर रोगी को कोविड केयर सेंटर में भर्ती करने की व्यवस्था की गई है। रोगी या उनके स्वजन कंट्रोल रूम या हेल्पलाइन काल करके परामर्श लेते हैं।

स्वस्थ हुए रोगियों की संख्या

17 जनवरी, 246

16 जनवरी, 158

15 जनवरी, 123

14 जनवरी, 95

13 जनवरी, 65

12 जनवरी, 54

11 जनवरी, 08

10 जनवरी, 05

09 जनवरी, 02

08 जनवरी, 00

07 जनवरी, 03

06 जनवरी, 02

कब करें हेल्पलाइन नंबर पर फोन

  • - लगातार कई दिनों तक 101 डिग्री से अधिक का बुखार
  • - सांस फूलना या सांस लेने में परेशानी होना
  • - आक्सीजन का स्तर 94 फीसद से कम
  • - भ्रम की स्थिति उत्पन्न होने पर

छोटे बच्चों में कोविड के लक्षण

  • - बुखार, खांसी, जुकाम, लगातार रोना
  • - दूध/खुराक लेना बंद कर देना
  • - दस्त लगना, पसली चलना, निढाल पड़ जाना

12 वर्ष से अधिक के लोगों में कोविड के लक्षण 

  • - बुखार, खांसी, जुकाम व थकावट

सिर दर्द व बदन दर्द

  • -स्वाद या गंध की चेतना का चला जाना
  • - बुखार के साथ दस्त, त्वचा पर चकत्ते

यहां करें फोन

कंट्रोल रूम नंबर-0571-2420100, 2420101, 2420102, 2420141, 2420151, 7017469606

हेल्पलाइन हेल्पलाइन नंबर-1800-180-5145 और 104 नंबर पर काल करके मदद ली जा सकती है।

Edited By Anil Kushwaha

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept
ट्रेंडिंग न्यूज़

मौसम